जब आप नए-नए माता-पिता बनते हैं तो अक्सर यह सोचते हैं कि बच्चे को कहां सुलाया जाए। इसकी वजह से वो अपने बच्चे के सोने के पैटर्न और बेड के साथ कई तरह के एक्सपेरिमेंट करते हैं। अगर आपका एक्सपेरिमेंट सफल नहीं हुआ तो बेबी की नींद न सिर्फ खराब हो जाती है बल्कि वह पूरी रात रोता रहेगा। इसलिए बच्चों को कहां सुलाया जाए इसके लिए एक्सपेरिमेंट करने के बजाय कुछ आसान उपायों को फॉलो करना जरूरी है। 

कई माता-पिता अपने बच्चों को साथ में ही सुलाते हैं, लेकिन इससे आपकी ही नहीं बल्कि बच्चे की भी नींद खराब हो सकती है। ज्यादातर बच्चों की नींद जब पूरी नहीं होती है तो वह रोना शुरू कर देते हैं, जिसके बाद उन्हें चुप कराना काफी मुश्किल हो जाता है। इसलिए यह जानना जरूरी है कि नवजात शिशुओं को कहां सुलाना और उनका बेड कैसा होना चाहिए।

पालने का करें इस्तेमाल

bed for todlers

बेबी या फिर नवजात शिशु को मूविंग कार में सोने की आदत नहीं डलवानी चाहिए। अगर आप उन्हें मूविंग कार में सुलाती हैं तो इससे उन्हें आदत पड़ जाएगी और हमेशा सोने के लिए आपको मूविंग कार का ही इस्तेमाल करना पड़ेगा। मूविंग कार की जगह आप पालने का उपयोग कर सकती हैं, यह न सिर्फ बच्चों को सुलाने का पुराना तरीका है बल्कि यह तरीका सबसे बेस्ट भी माना जाता है।

रूम करें शेयर

डॉक्टर के अनुसार पैरेंट्स को रूम शेयर करना चाहिए बेड नहीं। इसलिए अगर आप नवजात शिशु को अपने साथ सुलाती हैं तो यह सही तरीका नहीं है। कई बार नींद में लोगों को हाथ-पैर फेंकने की आदत होती है, इससे नवजात को चोट लग सकती हैं। वहीं बच्चे भी एक जगह से दूसरी जगह खिसकते रहते हैं, ऐसे में उनके गिरने का भी डर बना रहता है। वहीं बेबी के बेड को मां के बेड के पास रखना चाहिए।

बेसिनेट पालना

soft bed

इन दिनों कई तरह के पालने मार्केट में उपलब्ध है, लेकिन शिशु को सुलाने के लिए हमेशा नैचुरल तरीका ही अपनाएं। अगर बच्चे की नींद क्राइब में पूरी नहीं हो पा रही है तो बेसिनेट पालने का इस्तेमाल कर सकती हैं। क्राइब एक ऐसा पालना होता है जो काफी बड़ा होता है। इसकी वजह से बच्चे सही तरीके से सो नहीं पाते हैं। ऐसे में जब भी आप पालना खरीद रही हैं तो बच्चे के साइज के हिसाब जरूर देख लें।

इसे भी पढ़ें: बच्चों में सोशल एंग्जाइटी को दूर करने के लिए अपनाएं यह टिप्स

 

आरामदायक हो बेड

perfect bed

बच्चे के बेड पर आरामदायक कपड़े का इस्तेमाल करें। अगर आप बेडशीट्स का उपयोग कर रही हैं तो कोशिश करें कि वह सॉफ्ट और लाइट हो। इससे आप उन्हें एलर्जी और बाकी अन्य तरह की समस्याओं से भी बचा सकती हैं। माता-पिता चाहें तो पालने में एक गद्दे का भी इस्तेमाल कर सकती हैं, जो एक आरामदायक और सुंदर बेडशीट से कवर किया गया हो। इस तरह बच्चा अपने बेड से जुड़ा हुआ महसूस करेगा। 

इसे भी पढ़ें: बेबी को कैरी करने के लिए कुछ इस तरह चुनें सही कैरियर

ऐसे अरेंज करें बेड

arrenge bed

कई माता-पिता बच्चे के बेड पर खिलौने या फिर तकिये जैसी चीजों का भी उपयोग करते हैं, लेकिन ऐसा बिल्कुल न करें। बेबी के बेड पर कोई भी मुलायम चीजें, खिलौने या फिर तकिये जैसी चीजों का उपयोग न करें। नवजात शिशु की नींद पूरी हो इसके लिए कई बातों का ख्याल रखना पड़ता है। इसलिए कोशिश करें कि बेड पर फालतू की चीजें न रखी जाएँ।

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरीज को पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।