किसी रिश्ते में प्यार भले ही शुरूआत में हो जाए, लेकिन उस रिश्ते में मजबूती व गहराई एक लम्बे वक्त के बाद ही आती है, क्योंकि एक साथ लम्बा समय बिताने के बाद वह दोनों एक-दूसरे को काफी अच्छी तरह समझने लगते हैं और इससे भी ज्यादा वह एक-दूसरे पर आंख मूंदकर विश्वास करने लगते हैं। वैसे भी एक रिलेशन में आपसी प्रेम होना जितना जरूरी है, उतना ही आवश्यक है विश्वास। विश्वास वह धागा है जो लोगों को प्रेम की डोर में बांधे रखता है। यही कारण है कि यह कहा जाता है कि कपल को कभी भी एक-दूसरे से झूठ नहीं बोलना चाहिए।

आपने भले ही अपने पार्टनर से एक छोटा सा झूठ बोला हो और आपको लगता हो कि इससे क्या होता है, लेकिन वास्तव में इसका गहरा असर आपके रिश्ते पर पड़ता है। झूठ एक धीमा जहर है, जो आपके रिश्ते को जहरीला बनाता चला जाता है। इसलिए कोशिश करें कि आप अपने पार्टनर के साथ हमेशा सच्चाई के साथ रहने की कोशिश करें। हालांकि आपको अगर अभी भी यह समझ नहीं आ रहा है कि झूठ बोलने से आपका रिश्ता किस तरह प्रभावित होता है तो चलिए आज हम आपको इस बारे में-

इसे जरूर पढ़ें- पार्टनर के साथ लड़ाई भी मजबूत बना सकती है आपका रिश्ता

विश्वास की कमी

how lie afffects relation

जब आप अपने पार्टनर से झूठ बोलती हैं तो इससे रिश्ते में विश्वास कमजोर होता है। आपने भले ही अपने पार्टनर से एक छोटा सा झूठ बोला हो, लेकिन अगर पार्टनर को इस बारे में कहीं बाहर से पता चलता है तो उन्हें काफी दुख होता है, साथ ही उनका विश्वास भी टूटता है। हो सकता है कि आपके झूठ को जानने के बाद वह फिर आपसे अपनी बातें शेयर ना करना चाहें। 

कमजोर होता रिश्ता

how lie afffects relation

एक बात हमेशा याद रखें कि झूठ वह दीमक है, जो धीरे-धीरे आपके रिश्ते को खत्म करने लगता है (पार्टनर को इन स्थितियों में ना करें मैसेज) और आपको इसका पता भी नहीं चलता। दरअसल, जब आप एक झूठ बोलती हैं तो उसे छिपाने के लिए आपको और भी कई झूठ बोलने पड़ते हैं, जिसके कारण झूठ का एक पुलिंदा खड़ा हो जाता है। ऐसे में जब पार्टनर को सच्चाई पता चलती है तो ना सिर्फ उन्हें दुख होता है, बल्कि आपका रिश्ता भी कहीं ना कहीं कमजोर होता है।

Recommended Video

भले ही वह आपके साथ रहें, लेकिन अब आपको उनके साथ रहकर वह प्यार और अपनेपन का अहसास नहीं होगा। झूठ आपके बीच एक अनकही दूरियां पैदा कर देता हैं, जिसे पाटना काफी मुश्किल हो जाता है।

सम्मान का अभाव

how lie afffects relation

जब आप अपने पार्टनर से झूठ बोलती हैं तो इससे सामने वाले व्यक्ति को ऐसा अहसास होता है कि आप पर उस पर भरोसा नहीं करतीं। साथ ही आपका उनके व अपने रिश्ते के प्रति कोई सम्मान नहीं है। हो सकता है कि सच कभी-कभी मन को ठेस पहुंचाने वाला हो, लेकिन झूठ बोलना उससे भी ज्यादा खतरनाक है। हो सकता है कि एक बार आपके झूठ की पोल खुलने के बाद सामने वाले व्यक्ति के मन में आपके प्रति सम्मान की भावना काफी कम हो जाए और फिर इसका असर आपको रिश्ते पर साफतौर पर नजर आएगा।

इसे जरूर पढ़ें- अगर पार्टनर ने दिया है आपको धोखा तो रिश्ते में कुछ इस तरह जगाएं दोबारा विश्वास

इस लेख को पढ़ने के बाद आपको भी समझ आ गया होगा कि रिलेशनशिप में झूठ बोलना कितना घातक हो सकता है। लेकिन अगर फिर भी किन्हीं कारणों से आपको अपने पार्टनर से झूठ बोलना पड़ रहा है तो ऐसे में आप बाद में अपने पार्टनर को खुद सारी सच्चाई बताएं। साथ ही उन कारणों के बारे में भी बताएं, जिसकी वजह से आपको झूठ बोलना पड़ा था, ताकि आपका रिश्ता कमजोर ना हो।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।