वक्‍त बदल चुका है और वक्‍त के साथ-साथ दुनिया भी बदल चुकी है, मगर कुछ लोगों की मानसिकता पर अभी भी रूढ़िवादी सोच की परत चढ़ी है। अपनी सोच के तहत समय-समय पर ऐसे लोग समाज को नुकसान पहुंचाने की कोशिश भी करते हैं। खासतौर पर महिलाओं के मामलें में कुछ लोगों की सोच अभी भी निंदनीय है। आज भी महिलाओं से अभिव्‍यक्ति की आजादी छीनने वालों की कमी नहीं है। सोशल मीडिया प्‍लैटफॉर्म पर खुल कर अपनी बात रखने वाली महिलाओं को आज भी लोगों की उपेक्षित नजरों का सामना करना पड़ता है। हालांकि, कई मौके ऐसे भी होते हैं, जब महिलाएं अपनी बातों को सही से नहीं रख पातीं और इससे किसी वर्ग विशेष की भावनाओं को ठेस भी पहुंचती है। मगर गलती का एहसास होने पर माफी मांगने से भी वह पीछे नहीं हटतीं।

 कुछ ऐसा ही महिला कॉमेडियन अग्रिमा जोशुआ के मामले में भी हुआ है। अग्रिमा ने कुछ समय पहले 'छत्रपति शिवाजी महाराज' पर एक मजाक भरा वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया था। हालांकि, यह वीडियो वर्ष 2019 का है मगर मौजूदा समय में यह काफी वायरल हो रहा है। इस वीडियो को लेकर अग्रिमा की कई लोगों ने अलोचना की है लेकिन गुजरात के एक फेमस यूट्यूबर ने हद ही पार कर दी। यूट्यूबर का नाम शुभम मिश्रा है। शुभम ने अग्रिमा के वीडियो के जवाब में एक वीडियो बना कर सोशल मीडिया पर पोस्‍ट किया, जिसमें उसने न केवल अग्रिमा को अपशब्‍द कहे बल्कि उनके साथ रेप जैसा संघीन अपराध करने की खुलेआम धमकी भी दी है। 

इसे जरूर पढ़ें: Opinion: इंस्टाग्राम ग्रुप bois locker room में स्कूल के बच्चों का रेप के बारे में बात करना आम नहीं हो सकता

स्‍वरा भास्‍कर ने लिया महिला कॉमेडियन का पक्ष

हालांकि, शुभम मिश्रा के इस वीडियो की बहुत आलोचना की गई है। महिलाओं के लिए ऐसी सोच रखने वाले व्‍यक्ति को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाने की लोगों ने दरख्वास्त भी की है। आम लोगों के साथ ही बॉलीवुड एक्‍ट्रेस स्‍वरा भास्‍कर ने भी कॉमेडियन अग्रिमा को इस तरह यूट्यूबर द्वारा धमकाए जानें और आपत्तिजनक शब्‍द कहे जानें पर उनका पक्ष लिया है। इतना ही नहीं,  स्‍वरा ने महाराष्‍ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख को टैग करते हुए 12 जुलाई को ट्वीट किया था।

Recommended Video

स्‍वरा ने लिखा था, 'कोई भी जोक कितना भी खराब क्‍यो न हो, मगर क्‍या खुलेआम एक महिला को रेप की धमकी (ये कानून दिलवा सकते हैं महिलाओं को इंसाफ) देना सही है? शुभम मिश्रा के महिला को रेप की धमकी देने पर सजा होनी चाहिए क्‍योंकि यह आईपीसी की धारा 503 के तहत अपराध है। कृपया करके पुलिस को इस व्‍यक्ति को सजा देने और इस पर कार्रवाई करने के आदेश दीजिए।'

स्‍वारा के इस ट्वीट पर अनिल देशमुख ने भी उन्‍हें तुरंत जवाब दिया और कहा, 'किसी भी सूरत में यह सही नहीं कि किसी महिला को आपत्तिजनक शब्‍द कहे जाएं। छत्रपति शिवाजी महाराज ने हमेशा महिलाओं की इज्‍जत करने का पाठ पढ़ाया है। ऐसे लोगों के लिए कानून है और इन्‍हें अपराध की सजा जरूर मिलेगी।' स्‍वरा के ट्वीट के बाद कॉमेडियन कुणाल कामरा, अभिनेता प्रकाश राज, एक्टिविस्ट त्रिशा शेट्टी ने भी अनिल देशमुख को ट्वीट कर शुभम मिश्रा को अपराध की सजा देने की गुहार लगाई थी। 

शुभम ने मांगी थी माफी

आपको बता दें कि आलोचना के बाद अग्रिमा ने वीडियो को टाइमलाइन से डिलीट कर लोगों से माफी भी मांगी थी। उन्‍होंने अपने ट्वीट में लिखा था, 'मुझे माफ कर दीजिएगा, मैंने छत्रपति शिवाजी महाराज को फॉलो करने वालों की भावनाओं ठेस पहुंचाई है। यह वीडियो मैं डिलीट कर रही हूं और आप सभी से माफी की उम्‍मीद करती हूं।' केवल अग्रिमा ने ही नहीं बल्कि शुभम ने भी अग्रिमा के लिए कहे गए अपशब्‍द वाले वीडियो को डिलीट कर सभी से माफी मांगी थी। लेकिन यह मामला उनकी माफी पर नहीं थमा। वडोदरा पुलिस ने शुभम के खिलाफ आईपीसी की धारा 294, 294,504 505,506,509 के तहत मामला दर्ज कर उसे हिरासत में ले लिया है। 

प्रशासन द्वारा उठाया गया यह कदम काबिल ए तारीफ है। उम्‍मीद है कि इस कदम के बाद जिन लोगों में अभी भी महिलाओं को खुलेआम रेप की धमकी देने के हौसले बचे हैं, वह टूट जाएंगे। इस मुददे पर आपका क्‍या विचार है हमें जरूर बताइएगा और सोशल मुद्दों से जुड़ी रोचक खबरें जानने के लिए HerZindagi से जुड़ी रहें ।