• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

मछली को आटे की गोली खिलाने के फायदे जानें

ज्‍योतिष शास्‍त्र के मुताबिक मछलियों को भोजन कराने से आपके जीवन में क्या प्रभाव पड़ता है, आइए पंडित जी से जानते हैं।  
author-profile
Published -26 Apr 2022, 11:03 ISTUpdated -27 Apr 2022, 10:40 IST
Next
Article
Image Credit: Freepikfish  astrology  in  hindi

हिंदू धर्म में बहुत से पशु-पक्षियों को शुभ माना गया है। इनमें से एक मछली भी है। मछली से जड़ी हिंदू धर्म में अलग-अलग मान्यताएं हैं। बंगालियों में तो बिना मछली के कोई भी शुभ काम नहीं होता है। वहीं कई घरों में मछली को पाला भी जाता है। 

इतना ही नहीं, मछली व्यक्ति की कुंडली में ग्रहों की खराब स्थिति को ठीक करने का भी काम करती है। ऐसे में ज्‍योतिष शास्‍त्र में मछली से जुड़े बहुत सारे उपाय बताए गए हैं। मगर सभी उपायों में सबसे महत्वपूर्ण उपाय है मछली को भोजन कराना। 

इस विषय में हमारी बातचीत भोपाल निवासी पंडित एवं ज्योतिषाचार्य विनोद सोनी जी से हुई। पंडित जी कहते हैं, 'मछली को जल की रानी कहा जाता है और जल सकारात्मक ऊर्जा का सबसे प्रभावशाली स्रोत होता है। ऐसे में मछली व्यक्ति के अंदर सकारात्मक ऊर्जा भरती है और उसकी क्षमता एवं मानसिक शक्ति में वृद्धि करती है।' इसके साथ ही पंडित जी यह भी बताते हैं कि ज्‍योतिष शास्‍त्र में मछली को मीन राशि की संज्ञा दी गई है इस राशि के स्‍वामी देव गुरु बृहस्पति होते हैं, जिनकी उपासना से समाज में मान सम्मान, जीवन में सुख-समृद्धि और नौकरी एवं व्यवसाय में उन्नति प्राप्त होती है। 

इसे जरूर पढ़ें- कबूतर को रोज खिलाएं दाना और फिर देखें चमत्कार

इसलिए हिंदू धर्म में मछली पालन और मछलियों को भोजन कराने को बहुत ही शुभ माना गया है। आज इस लेख में हम आपको बताएंगे कि मछलियों को भोजन कब और कैसे कराएं और आटे की गोलियों के अलावा उन्हें आप और क्या खिला सकते हैं। 

feeding  fish  is  good  or  bad

हिंदू धर्म में मछली का महत्व

हिंदू धर्म में मछली को जगत पिता भगवान विष्णु का अवतार माना गया है। मत्स्य अवतार भगवान विष्णु के 10 अवतारों में से एक है। इस अवतार में अवतरित होकर जगत पिता नारायण ने संसार को भयानक जल प्रलय से बचाया था। इसके साथ ही उन्होंने हयग्रीव नामक दैत्य का वध भी किया था, जिसने वेदों को चुराने का अपराध किया था। हिंदू पंचांग के अनुसार कार्तिक के महीने में जब भगवान विष्णु जल में निवास करते हैं, उन दिनों लोग मछली खाना बंद कर देते हैं।

feeding  atta  to  fish  astrology

मछली को आटा कब खिलाना चाहिए?

शास्त्रों में अलग-अलग जानवरों को अलग-अलग भोजन सामग्री खिलाने का जिक्र मिलता है। धार्मिक ग्रंथों के अनुसार मछली को आटे की गोलियां खिलाने से धन लाभ होता है। इतना ही नहीं, अगर आपकी कोई कीमती वस्तु खो गई है तो वह भी आपको वापस प्राप्त हो जाती है। मछलियों को भोजन कराने का सबसे अच्‍छा समय सूर्योदय या फिर सूर्यास्‍त के बाद का होता है।  

इसे जरूर पढ़ें- घर में बिल्ली का आना, क्या देता है संकेत

Feeding Fishes  Benefits

मछलियों को आटा डालने से क्या फल मिलता है?

मछलियों को आटा खिलाने से धन लाभ (धन प्राप्ति के 10 आसान उपाय) तो होता ही है, साथ ही पुरानी संपत्ति से भी लाभ मिलता है। इतना ही नहीं, धन कमाने के नए अवसर प्राप्त होते हैं। यदि आपके दुश्मन आप पर हावी हो रहे हैं, तो उनका प्रभाव कम हो जाता है। किसी शुभ काम में आ रही बाधाएं दूर हो जाती हैं। 

Recommended Video

किस ग्रह को शांत करती हैं मछली? 

घर में मछलियों को पालने से कुंडली में अशांत राहु ग्रह शांत हो जाता है। मछली किस रंग की होनी चाहिए, उसका भी बड़ा महत्व है। घर में यदि आप काले रंग की मछली पालते हैं, तो यह सुरक्षा का प्रतीक मानी जाती है। काली मछली घर की नकारात्मक ऊर्जा को नष्ट करती है। इसलिए एक काली मछली जरूर पालें। 

 

उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। इस आर्टिकल को शेयर और लाइक जरूर करें। इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।  

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।