शिव जी को प्रसन्न करने के लिए आपको बहुत सारी चीजों की जरूरत नहीं होती, बल्कि सच्चे मन और भाव से दिया गया एक फूल भी भोले बाबा को प्रसन्न कर सकता है। इसलिए भगवान शिव को कई भक्त भोले बाबा भी कहते हैं। जी हां शिव जी को देवों का देव महादेव कहा जाता है, क्योंकि जब सारे देवता हार मान जाते हैं तो भोले बाबा ही हैं जो सभी की नैय्या पार लगाते हैं। इसलिए लोग बाबा को प्रसन्‍न करने की तमाम कोशिश करते हैं। खासतौर पर शिवरात्रि के दिन तो हर कोई बाबा को प्रसन्‍न करना चाहता है। इसलिए हालांकि शिवजी की आराधना का मूल मंत्र तो 'ऊं नम: शिवाय' ही है, लेकिन इस मंत्र के अलावा भी कुछ मंत्र हैं जो महादेव को प्रिय हैं। और महाशिवरात्रि के दिन इनका जाप करने से भोले बाबा प्रसन्‍न होते हैं। आज हमें उज्‍जैन के पंडित कैलाश नरायाण शर्मा जी ऐसे ही कुछ मंत्रों के बारे में बता रहे हैं जिनका राशि के अनुसार जप करने से मनचाहा वरदान मिलता है।

इसे जरूर पढ़ें: Maha Shivratri 2020: भोले बाबा को करना हैं प्रसन्‍न तो ये 9 चीजें जरूर चढ़ाएं

मेष राशि

इस महाशिवरात्रि को भगवान शिव की पूजा करने के बाद मेष राशि वाले 'ह्रीं ओम नम: शिवाय ह्रीं' मंत्र का जप 108 बार करें। इससे उनको मनचाहा वरदान मिलेगा। अगर आपकी राशि भी मेष है तो इस मंत्र का जप करें।

mahashivratri  lord shiva mantra aries

वृष राशि

वृष राशि वाले जातक शिव के मूल मंत्र 'ओम नम: शिवाय' मंत्र का ही जप करें। शिवरात्रि पर भगवान शिव की इस प्रकार पूजा करने से ऊर्जा का विकास होता है और कार्य क्षमता बढ़ती है और परिवार के बीच प्यार बढ़ता है।

मिथुन राशि

देवों के देव, महादेव के बारे में कहा जाता है कि वह जिस पर भी प्रसन्न हो जाते हैं, उसकी झोली खुशियों से भर जाती हैं। मिथुन राशि के लोगों को शिवरात्रि के दिन महाकालेश्वर का ध्यान करते हुए 'ओम नमो भगवते रूद्राय मंत्र' का जप करना चाहिए।

mahashivratri  lord shiva mantra gemini

कर्क राशि

कर्क राशि के लोगों को शिव पूजा के बाद 'ओम हौ जूं स:' इस मंत्र का जप करना चाहिए। इस मंत्र के जाप से सुख समृद्धि में बढ़ोतरी होती है।

सिंह राशि

सिंह राशि वाले लोग इस महाशिवरात्रि को 'ह्रीं ओम नम: शिवाय ह्रीं' का कम से कम 51 बार मंत्र का जप करें। 

mahashivratri  lord shiva mantra leo

कन्या राशि

कन्या राशि वाले 'ओम नमो भगवते रूद्राय' मंत्र का जप करें। इस मंत्र के जप से कन्या राशि वाले जातकों का आत्मविश्वास बढ़ेगा।

तुला राशि

तुला राशि वाले अगर शिव जी को प्रसन्‍न करना चाहते हैं तो इस शिवरात्रि शिव पंचाक्षरी मंत्र 'ओम नम: शिवाय' का 108 बार जप करें।

mahashivratri  lord shiva mantra libra

वृश्चिक राशि

इस राशि के लोग शिवरात्रि के दिन 'ह्रीं ओम नम: शिवाय ह्रीं' मंत्र का जप करें।

Recommended Video

धनु राशि

शिवरात्रि के दिन चन्द्रमा कमजोर होता है। धनु राशि वाले जातक इस दिन 'ओम तत्पुरूषाय विध्म्ये महादेवाय धीमाह, तन्नो रूद: प्रचोदयात' के मंत्र का जप करने से चंद्रमा मजबूत होता है और शिव जी की कृपा मिलती है।

mahashivratri  lord shiva mantra sagi

मकर राशि

इस राशि के जातक भगवान शिव की कृपा पाने के लिए 'ओम नम: शिवाय' का जप करें।

इसे जरूर पढ़ें: महाशिवरात्री 2020: जानें आधी रात की पूजा का महत्‍व

कुंभ राशि

कुंभ राशि वालों के स्वामी शनिदेव है। इसलिए इस राशि के जातक मकर राशि की तरह 'ओम नम: शिवाय' मंत्र का जप करें।

mahashivratri  lord shiva mantra aqua

मीन राशि

इस राशि के लोग जितना हो सके उतनी बार 'ओम तत्पुरूषाय विघ्म्हे महादेवाय धीमहि तन्नो रूद्र प्रचोदयात्' मंत्र का जप करना चाहिए।

राशि के अनुसार इन मंत्रों को जप करने से भोले बाबा प्रसन्‍न होकर मनचाहा वर देते हैं। तो देर किस बात की आप भी इस महाशिवरात्रि के दिन अपनी राशि के अनुसार मंत्रों का जप करके भगवान को प्रसन्‍न करें।