शुभांगी अत्रे पूरे इन दिनों टीवी की सबसे पॉपुलर एक्ट्रेसेस में शुमार की जाती हैं। एंड टीवी के कॉमेडी शो 'भाभी जी घर पर हैं' में शुभांगी लीड रोल निभा रही हैं। यह शो छोटे शहरों में विशेष रूप से पसंद किया जाता है। शुभांगी का देसी अंदाज और उनका अंग्रेजी का गड़बड़झाला दर्शकों को काफी एंटरटेन करता है। 'भाभी जी' को शो में उनके पड़ोसी विभूति नारायण मिश्रा काफी ज्यादा पसंद करते हैं और उन्हें रिझाने के लिए अपनी तरफ से तरह-तरह की कोशिशें भी करते हैं, लेकिन ऑफ स्क्रीन भाभी जी का निराला अंदाज दर्शकों को भी खूब भाता है। चाहें शो में अपनी सासू मां के लिए समर्पण हो, पति के साथ खट्टी-मीठी बहस हो या फिर पड़ोसी विभूति के इरादों पर पानी फेरने का अंदाज, भाभी जी के किरदार को शुभांगी ने पूरी तरह से जीवंत कर दिया है। 

भाभी जी हैं सब पर भारी

shubhangi atre poorey bhabhi ji inside

वैसे तो 'भाभी जी घर पर है' शो में सभी किरदारों की एक अलग ही तरह की पहचान है और उनका अंदाज भी लोगों को गुदगुदाने वाला है, जैसे कि सौम्या टंडन का 'गोरी मेम' का किरदार, जो अक्सर अपने पति से घर पर काम पति को काम करने की हिदायतें देती रहती हैं, लेकिन अगर पति पर कोई खतरा मंडराए तो आयरन लेडी की तरह दुश्मनों को मुंह तोड़ जवाब देती हैं। महिला सशक्तीकरण की मुहिम को भी गोरी मेम आगे बढ़ाती नजर आती हैं। वहीं गोरी मेम के पति विभूति नारायण मिश्र के किरदार में आसिफ शेख अक्सर अपनी बौद्धिकता का प्रदर्शन करते नजर आते हैं। पत्नी को अपने सिर आंखों पर बिठाने वाले विभूति नारायण जैसे ही घर के कामों से फुर्सत पाते हैं, अपनी पड़ोसन भाभी जी को रिझाने में लग जाते हैं, वहीं भाभी जी के पति मनमोहन तिवारी के किरदार में नजर आने वाले रोहिताश गौड़ भी अपनी पत्नी से नजरें बचाकर गोरी मेम को इंप्रेस करने में लगे रहते हैं। लेकिन इन सभी किरदारों पर भाभी जी यानी शुभांगी अत्रे का किरदार भारी पड़ता है।

इसे जरूर पढ़ें: 'अंगूरी भाभी' फेम शुभांगी अत्रे की ये 10 दिलचस्प बातें जानिए

राजनीतिक पार्टियां प्रचार के लिए ऑफर कर रही हैं मोटी रकम

shubhangi atre poorey bhabhi ji offers for political campaign inside

भाभी जी के इस किरदार को मेट्रो शहरों के दर्शक तो पसंद करते ही है, छोटे शहरों में उनकी फैन-फौलोइंग अच्छी खासी है। यही वजह है कि चुनाव के मौसम में उनकी लोकप्रियता को भुनाने के लिए कई राजनीतिक पार्टियां प्रयास कर रही हैं। सूत्रों के अनुसार शुभांगी अत्रे को कई पार्टियों की तरफ से उनके लिए चुनाव प्रचार करने के ऑफर मिल चुके हैं। एक इंटरव्यू में शुभांगी ने इस बात की तस्दीक भी की। उन्होंने कहा, 'मुझे कई पॉलिटिकल पार्टीज के चुनाव प्रचार करने ऑफर मिल रहे हैं। मैंने अब तक लोकसभा चुनाव प्रचार के छह ऑफर ठुकराए हैं। मुझे ये ऑफर देश की अलग-अलग राजनीतिक पार्टियों से मिले हैं। मेरे किरदार की लोकप्रियता के मद्देनजर ज्यादातर चुनाव प्रचार के ऑफर यूपी और छोटे शहरों से हैं। लेकिन मैं ऐसे किसी भी ऑफर से नहीं जुड़ना चाहती, जिसका संबंध किसी पॉलिटिकल पार्टी से हो। इसीलिए मैं कैंपेन करने से मना कर दिया है।' सूत्रों के अनुसार शुभांगी को कैंपेन करने के लिए काफी बड़ी रकम ऑफर हुई थी।

शोबिज से मिली पॉपुलेरिटी को भुनाने की चाहत

लोकसभा चुनाव के दौर में हर पार्टी अपने इलाके के वोटरों को लुभाने के लिए सभी पार्टियां अलग-अलग तरह के हथकंडे अपना रही हैं। हालांकि लोकप्रिय चेहरों से अपने लिए कैंपेन कराने का ट्रेंड देश की चुनावी राजनीति में सदियों से चला आ रही है। नेहा पेण्डसे, रश्मी देसाई से लेकर नील नितिन मुकेश, संगीता बिजलानी जैसे सितारों को हम राजनीतिक पार्टियों का प्रचार करते हुए देख चुके हैं। एक्टर्स की पॉपुलेरिटी को देखते हुए ही इस बार उर्मिला मातोंडकर, हेमा मालिनी और जया प्रदा जैसी महिला सांसद लोकसभा चुनावों में अपनी किस्मत आजमा रही हैं। देखना ये है कि शोबिज की दुनिया से मिली शोहरत इन्हें चुनावों में कितनी कामयाबी दिला पाती है। 

इन वजहों से भी सुर्खियों में है 'भाभी जी' शो

कुछ दिन पहले 'भाभी जी' शो पर आचार संहिता का उल्लंघन करने का आरोप लगा। चुनाव आयोग ने चैनल को इसके लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया था और चैनल से कंट्रोवर्शियल कंटेंट हटाने के लिए भी कहा था। इन चीजों की वजह से सौम्या टंडन के शो छोड़ने की आशंका भी जताई जा रही थी। हालांकि अभी इस बारे में किसी तरह का कन्फर्मेशन नहीं मिला है।