करियर एक ऐसा शब्द है जो हर महिला के लिए कहीं न कहीं काफी अहमियत रखता है। ऐसे में बेहतरीन करियर के लिए कई बार महिलाएं दूसरे शहर में रहकर जॉब करती हैं। इसलिए जाहिर है कि आपको जो आराम अपने घर या शहर में आता होगा तो दूसरे शहर में नहीं मिल पाता। या यूं कहें कि कही भी शिफ्ट होने में थोड़ा एडजस्टमेंट तो करना ही पड़ता है। इसलिए अगर आपकी जॉब भी किसी दूसरे शहर में लगी है और आप अब तक अपने लिए कोई ढंक का ठिकाना नहीं ढूंढ पाई हैं तो ये आर्टिकल आपकी मदद कर सकता है। इस आर्टिकल के जरिए आप जान सकती हैं कि किसी अन्य महिला के साथ रूम शेयर करने के क्या फायदे हैं।

पैसे बचाना है जरूरी

sharing a room in college

अगर आप किसी अन्य व्यक्ति के साथ फ्लैट शेयर करने का मन बना रही हैं तो ये एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है। फ्लैट शेयरिंग की मदद से आप पैसों की बचत कर सकती हैं। वैसे में किसी बड़े शहर में आप अकेले कोई भी फ्लैट जल्दी अफोर्ड नहीं कर पाएंगी। इस वजह से एक फ्लैट को किसी के साथ शेयर कर लेना एक अच्छा आईडिया है। अधिकांश लोग इसी ट्रिक को अपनाते हैं। 

दरअसल, किसी भी शहर में एक छोटा फ्लैट भी 10-15 हज़ार तक का पड़ ही जाता है। इस किराये के अलावा आपको मेन्टेनेन्स चार्ज, बिजली और पानी का बिल देना होता है। साथ ही, खाने-पीने और किचन के सामान में अलग खर्चा होता है। इसकी वजह से आपका 10-15 हज़ार का बजट कब 20 हजार रुपये प्रति महीने तक पहुंच जाता है आपको खुद इसके बारे में पता नहीं चलता। इसलिए महंगाई के जमाने में फ्लैट शेयरिंग का आईडिया बेस्ट है। 

इसे जरूर पढ़ें: लिंक्‍डइन पर रिज्‍यूमे अपलोड करना सीखें

अकेलेपन से छुटकारा पाईए

room sharing benefits in hindi

एक नई शुरुआत करने में थोड़ा समय तो लगता है। नया शहर, नई जॉब और नए लोग सब कुछ नया होने की वजह से कई बार हम अकेलेपन के शिकार हो जाते हैं, जिससे लोग खुद को मानसिक और भावनात्मक रूप से असुरक्षित महसूस भी करने लगते हैं। ऐसे में अगर आप अपने रूम को शेयर करने का सोच रही हैं तो इसमें देरी ना करिए। रूम या फ्लैट शेयर करने से आपको एक नया दोस्त मिल सकता है।

असुरक्षा का भाव नहीं आएगा

sharing a room with someone

जब आप किसी के साथ रूम शेयरिंग में रहने लगती हैं तो असुरक्षा का भाव मन में आता क्योंकि आपको पता है कि आप कभी भी अकेली नहीं हैं। यही नहीं, अगर आप ऑफिस जा रही हैं या किसी अन्य काम से बाहर जाना है तो बिना किसी दूसरे विचार के आराम से अपना काम कर सकती हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि कई बार अकेली लड़कियां दूसरों की नज़रों में जल्दी आ जाती हैं। साथ ही, हमेशा दो-दो ग्यारह होता है। वैसे भी सुरक्षा की दृष्टि से दो लोगों का साथ रहना ठीक भी है।

इसे जरूर पढ़ें: आपकी डेस्क पर मौजूद ये 10 आइटम वर्क परफॉरमेंस बढ़ाने में करेंगे मदद

नहीं पता चलेंगी जिम्मेदारियां

sharing a room ideas

अकेले रहने का मतलब है कि घर के सारे काम भी आपको अकेले करने होंगे। जब आप दो महिलायें एकसाथ रहेंगी तो घर के काम पता ही नहीं चलेंगे। जिम्मेदारियों का बंटवारा होते ही आप दोनों अपनी-अपनी जॉब पर भी आसानी से मन लगा पाएंगी। साथ ही, अगर आप बीमार हैं या कोई और काम है तो आप अपनी फ्लैटमेट की मदद ले सकती हैं।  

उम्मीद है आपको इस आर्टिकल में बताई गई टिप्स पसंद आई होंगी। आपको हमारा ये आर्टिकल कैसा लगा हमें इस बारे में जरूर बताएं।

Image Credit: Freepik.com