सभी जानते हैं कि अनुष्का शर्मा इस साल की सबसे बड़ी फ़िल्मों में से एक ‘ज़ीरो’ में वैज्ञानिक के किरदार में नज़र आने वाली हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि साइंटिस्ट बनीं अनुष्का शर्मा क्या रियल लाइफ़ में स्कूल के दिनों में साइंस के सब्जेक्ट में माहिर थीं?  

हमसे ख़ास बातचीत के दौरान अनुष्का ने बताया कि वो बचपन में बेहद पढ़ाकू थीं और हर सब्जेक्ट पर पूरा ध्यान देती थीं। आइए जानते हैं कि क्यों उनके क्लासमेट्स उनसे गुस्सा रहते थे और कौन सा सब्जेक्ट अनुष्का को बिलकुल पसंद नहीं था।

Read more: अनुष्का शर्मा ऐसे जीती हैं अपनी जिंदगी, जानिए उनसे खुश रहने के टिप्स

आधा नंबर भी कट जाता था तो टीचर के पास पहुंच जाती थीं अनुष्का

anushka sharma hates this subject in school

Image Courtesy: @anushkasharma/Instagram

अनुष्का ने बताया कि पढ़ाकू तो वह हमेशा से रही हैं और उनके अच्छे नंबर भी आते थे। अनुष्का कहती हैं कि मैं उन स्टूडेंट्स में से एक थी जो क्लास में टॉपर होने के बावजूद अगर आधा नंबर भी कट जाता था, तो वह टीचर के पास पहुंच जाती थी और परेशान होकर कहती थीं कि उनके मार्क्स क्यों कटे हैं? और इसी बात पर बाकी बच्चे मुझ पर पर गुस्सा होते थे कि एक तरफ उनके कम मार्क्स आये हैं और दूसरी तरफ मैं टॉपर होकर भी आधे नम्बर के लिए लड़ रही हूं।

Read more: अनुष्‍का शर्मा ने अपने स्‍टैचू से की ढेरों बातें, साथ में ली सैल्‍फी

फिज़िक्स, साइंस और हिंदी में ऐसा था अनुष्का का हाल

anushka sharma hates this subject in school inside

Image Courtesy: @anushkasharma/Instagram

अनुष्का ने आगे बताया कि उन्हें फिज़िक्स सब्जेक्ट अब भी समझ में नहीं आता है। वह तो चाहती थीं कि कब उनका फिज़िक्स से पीछा छूटे। अनुष्का शर्मा ने  कहा कि मुझे हर विषय में 90 प्रतिशत से ज्यादा नंबर आया करते थे, साइंस में 80 प्रतिशत आया करता था। वहीं मुझे संस्कृत में काफी इन्ट्रेस्ट था और वह मेरा फेवरेट सब्जेक्ट हुआ करता था, उसमें अच्छा स्कोर हो जाता था। गणित पर भी मेरा पूरा कमांड था,  हिंदी भी मुझे पढ़नी अच्छी लगती थी। और आज हिंदी अच्छी होने की वजह से ही मुझे अभिनय में भी मदद मिलती है।

बचपन में मार्क्स के लिए लड़ने वाली अनुष्का को क्या बॉक्स ऑफिस पर आये नंबरों से फ़र्क पड़ता है?

anushka sharma hates this subject in school inside

Image Courtesy: @anushkasharma/Instagram

अनुष्का हंसते हुए कहती हैं कि यहां रिपोर्ट कार्ड के मालिक ऑडियंस होते हैं और अगर मैं कहूं कि फ़र्क नहीं पड़ता है तो ग़लत होगा, क्योंकि फ़र्क तो पड़ता है। हर कोई चाहता है कि इतनी मेहनत की है तो उसके रिज़ल्ट भी अच्छे आयें और फ़िल्म कामयाब हो। बचपन में भी मैं इसलिए टीचर से लड़ती थी कि इतनी मेहनत की है तो मार्क्स कम क्यों?

बता दें कि फ़िल्म ‘ज़ीरो’ में अनुष्का के साथ कटरीना और शाह रुख ख़ान भी हैं यह फ़िल्म इस साल 21 दिसंबर को रिलीज़ होगी।

  • Anupriya Verma
  • Her Zindagi Editorial