• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Shilpa
  • Editorial

अक्षय तृतीया पर नमक से दूर हो सकता है आपका दुर्भाग्य, जानें इससे जुड़ी खास बातें और उपाय

अक्षय तृतीया के दिन दान-धर्म करने का विशेष महत्व होता है। जानें इस दिन नमक क्यों खरीदा जाता है?  
Published -02 May 2022, 11:14 ISTUpdated -02 May 2022, 16:40 IST
author-profile
  • Shilpa
  • Editorial
  • Published -02 May 2022, 11:14 ISTUpdated -02 May 2022, 16:40 IST
Next
Article
Akshaya Tritiya  Donations

हिंदू धर्म में अक्षय तृतीया का विशेष महत्व होता है। अक्षय तृतीया वैशाख माह के शुक्ल पक्ष को मनाया जाता है। इस साल अक्षय तृतीया 3 मई को है। इस दिन मां लक्ष्मी की पूजा करना बेहद शुभ माना जाता है। इस दिन दान देने से परिवार में सुख समृद्धि बनी रहती है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन दान देने से धन की कमी नहीं होती है। अक्षय तृतीया के दिन नमक खरीदना बेहद शुभ माना जाता है। इस विषय पर हमने एस्ट्रोलॉजर संदीप शर्मा से बात की है। उन्होंने हमें बताया है कि इस दिन नमक क्यों खरीदा जाता है? और इससे जुड़ी खास बातें बताई हैं। 

एस्ट्रोलॉजर ने बताया है कि यह दिन मांगलिक कार्य करने के लिए बेहद शुभ माना जाता है। इस दिन दान देने से विशेष फल मिलता है। पुराणों में कहा गया है, कि इस दिन दान करने से सभी पाप नष्ट हो जाते हैं। इसलिए जितना हो सके उतना दान करना चाहिए। अक्षय तृतीया के दिन जरूरतमंद लोगों की मदद करनी चाहिए। इससे सौभाग्य मिलता है। एस्ट्रोलॉजर ने आगे बताया है कि इस दिन फल की प्राप्ति होती है। ऐसे में इस दिन अच्छा कर्म करना चाहिए। अच्छे कर्म का अच्छा फल मिलता है। वहीं अक्षय तृतीया के दिन कोई भी गलत और बुरा काम नहीं करना चाहिए। बुरा और गलत काम का फल बुरा ही होता है। आइए जानते हैं इस शुभ दिन नमक का दान क्यों किया जाता है? और इसका महत्व। 

अक्षय तृतीया पर नमक क्यों खरीदा जाता है 

Buy Salt On Akshaya Tritiya

अक्षय तृतीया पर दान करने से जीवन सुखमय होता है। इस दिन नमक का दान करने से जीवन में लाभ प्राप्त होता है। एस्ट्रोलॉजर के अनुसार इस शुभ दिन नमक का दान करने से पितरों को खुशी मिलती है। इससे वह हमारे जीवन के सभी परेशानियों को दूर करते हैं। इसलिए अक्षय तृतीया पर नमक खरीदा जाता है। कहा जाता है कि नमक का दान करने से पितृ प्रसन्न हो जाते हैं। 

नमक का दान किसे करना चाहिए? 

नमक का दान हमेशा ब्राह्मण को करना चाहिए। अन्य लोगों को इसका दान देने से बचना चाहिए। एक बात का ध्यान रखें कभी नमक का दान लेना नहीं चाहिए। इसके अलावा आप किसी जरूरतमंद को भी नमक का दान कर सकते हैं। नमक का दान करने से बुरा समय दूर हो जाता है। (अक्षय तृतीया पर क्या दान करें)

इसे भी पढ़ेंः  Akshaya Tritiya 2022: अक्षय तृतीया पर जरूर करें इन चीजों का दान, कभी नहीं होगी धन की कमी

रात के समय नमक नहीं देना चाहिए 

Buy Salt On Akshaya Tritiya ()

रात के समय नमक का दान करना अशुभ माना जाता है। इसके अलावा सूर्यास्त के बाद न नमक लेना चाहिए और न ही किसी को नमक देना चाहिए। इससे आपके ऊपर कर्ज चढ़ जाता है जिसे चुकाना पड़ता है। इसके अलावा नमक किसी के हाथ में भी नहीं देना चाहिए। इससे बहस हो सकती है। अगर आप किसी को नमक देते हैं तो चम्मच या बर्तन में देना चाहिए। 

नमक दान का शुभ दिन 

शुक्रवार का दिन नमक दान करने के लिए शुभ माना जाता है। नमक का रंग सफेद होता है शुक्रवार को सफेद वस्तुओं का दान शुभ माना जाता है। (नमक खाने के नुकसान)

इसे भी पढ़ेंः Akshaya Tritiya 2022: भूलकर भी न करें ये काम, पंडित जी से जानें क्यों

किस दिन नमक नहीं खरीदना चाहिए

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनिवार को नमक की खरीदारी नहीं करनी चाहिए। इस दिन नमक खरीदना अशुभ माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि इस दिन नमक खरीदने से घर पर कर्ज बढ़ता है। 

नमक के टोटके 

Buy Salt On Akshaya Tritiya ()

  • बरकत के लिए टोटका- घर में बरकत के लिए पोंछा लगाते समय पानी में थोड़ा सा साबुत नमक मिला लें। इससे घर पवित्र हो जाता है, जिससे मां लक्ष्मी के लिए घर का द्वार खुलता है। हमेशा घर में बरकत बनी रहती हैं। वीरवार यानी गुरुवार के दिन पोंछा लगाते समय नमक का उपयोग नहीं करना चाहिए। 
  • काली नजर के लिए नमक का टोटका- साबुत नमक का टुकड़ा लें। इसे लाल कपड़े में बांधकर मुख्य द्वार पर लटका दें। इससे घर में किसी भी काली नजर प्रवेश नहीं करेगी। 
  • नकारात्मकता ऊर्जा के लिए- घर से नकारात्मकता ऊर्जा दूर करने के लिए एक कटोरी में साबुत नमक भरें। इसके बाद इस कटोरी को बाथरूम में रख दें। महीने में एक बार कटोरी के नमक को बदलना चाहिए। इस उपाय से घर में सकारात्मकता बढ़ती है। 

अक्षय तृतीया के दिन नमक खरीदना शुभ माना जाता है। वहीं अगर आप इस दिन उपवास रखते हैं तो नमक का सेवन न करें। इस पितरों को प्रसन्न करने के लिए नमक का दान अच्छा माना जाता है। उम्मीद है कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए हमें कमेंट कर जरूर बताएं और जुड़े रहें हमारी वेबसाइट हरजिंदगी के साथ।  

Image Credit: freepik

 
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।