प्यार-एक खूबसूरत अहसास, दुनिया का हर इंसान प्यार के पल जीना चाहता है। हर रिश्ते की परख आपके प्यार की मजबूती से होती है। फैमिली हो या पार्टनर सही तालमेल बिठाने के लिए प्यार, विश्वास और साथ की जरूरत होती है। आपका पार्टनर आपका सबसे अच्छा दोस्त होता है, उसके साथ अच्छे-बुरे पल बाटना यकीनन आपको सुख देता होगा, लेकिन हेल्थी रिलेशन वही कहा जाता है जहा साथ रहकर भी आपको अपने मन की आज़ादी होती है, जहा आप किसी भी डिसिशन के लिए बाउंड फील नहीं करते, जहा ज़िन्दगी के कुछ पहलुओं में इंडेपेंडेन्सी हो, डिपेंडेंसी नहीं।अब हम आपको कुछ ऐसे टिप्स देंगे जो आपके रिश्ते में आपको अपनी पहचान बनाने में मदद करेंगे –

how to be happy in marital life

आत्मनिर्भर बनें

सबसे पहला और जरूरी फैक्ट कि आप किसी जॉब या बिज़नेस में इन्वॉल्व हो ताकि आर्थिक रूप से खुद को मजबूत बना सके और अपने पार्टनर को अहसास दिलाये कि आप उनसे केवल प्यार की चाहत रखती हैं जिससे उनको भी उनको उनकी इम्पोर्टेंस का अहसास हो।

इसे जरूर पढ़ें: वरुण धवन और नताशा दलाल कर सकते हैं मई 2020 में शादी!

अपनी फीलिंग्स को पहचानें

अपने अच्छे और ख़राब मूड का आधार अपने पार्टनर को न बनाये।  ध्यान रखे की आपको खुद किस बात से खुशी मिलती है। हमेशा ये सोचना कि- हमको खुश रखना हमारे पार्टनर की ड्यूटी है, बिल्कुल गलत होगा। उनकी अपनी भी ढेर जिम्मेदारी हो सकती हैं। फैक्ट को समझ परिस्थिति के अनुसार अपनी फीलिंग्स को जाहिर करे।

how to be happy in relationship 

खुद को समय दें

कभी-कभी ऐसा होता है कि आपके जो शौक हैं आपके पार्टनर के लिए फ़ालतू की चीज़ें हो सकती हैं। बिना इस पर ध्यान दिए आप अपनी हॉबीज डेवेलप करें। फिर चाहे डांस हो या पेंटिंग अपने शौक भरपूर जियें। ये न केवल आपको स्ट्रेस से फ्री करेंगे बल्कि जीवन के लिए आपके भीतर नया जोश भर देंगे। मौका देख अपने पार्टनर के साथ भी अपनी हॉबीज से रिलेटेड बातें शेयर करें।  

इसे जरूर पढ़ें: Vastu Tips: फेंग्शुई ड्रैगन से मैरिटल लाइफ होगी बेहतर, घर-परिवार में आएंगी खुशियां

'NO’ कहना सीखें

inside

अगर आप किन्ही मुद्दों को लेकर सहमत नहीं है तो पार्टनर को बेहिचक 'नो 'कहे  और साथ ही 'नो' सुनने की आदत भी डालें।  अपने पार्टनर से किसी बात में 'नो' के रिप्लाई को अपनी ईगो से कैम्पेयर न करें और ऐसा कर आप खुद को आज़ाद महसूस करेंगी।

प्रॉयरिटी सुनिश्चित करें

समझ पैदा करे कि आपकी लाइफ में कब कौन सी बातें इम्पोर्टेन्ट हैं। अपने पार्टनर को जताये कि आपको उनकी फीलिंग्स की क़द्र है लेकिन परिस्थति के अनुसार आपकी लाइफ की प्रॉयरिटी कुछ और है।

live happy and positive

खुलकर बोलें

अगर आपको लगता है कि आपकी लाइफ में कुछ मिसिंग या गलत है तो इसके लिए खुलकर अपने पार्टनर से बात करें। विचार व्यक्त करने से सोल्युशन जरूर निकलते हैं। मन की बात अपने भीतर दबाकर रिश्तों को उलझाए नहीं।

खुद पर यकीन करें

सबके लिए पॉजिटिव फीलिंग्स रखना अच्छा है, लेकिन उससे भी ज्यादा इम्पोर्टेन्ट है कि आप खुद से प्यार करें। अपनी कमजोरी नहीं अपनी क्वालिटीज़ को देखें और हमेशा कहें कि 'मै अपनी फेवरेट हू।

इन बातों को ध्यान में रखकर ज़िन्दगी जियें, आप खुद को आजाद महसूस करेंगी। इससे पति के प्यार और उनके साथ के अलावा और आपके पास और भी कुछ होगा और वो है आपका ‘आत्मविश्वास’।