होली आने को है और हर बार होली के अवसर पर न जाने कितने लोगों को ठंडाई पीने का मन करता है। भांग की ठंडाई हो या फिर गुलाब की ठंडाई इसका मज़ा होली के मौसम में दोगुना हो जाता है। होली के समय अगर ठंडाई न मिले तो इसका रंग कुछ फीका सा साबित होता है। अब बहुत सारे ड्राई फ्रूट्स, अच्छे फ्लेवर और दूध की खूबियों वाली ठंडी-ठंडी ठडाई आखिर कैसे किसी को न पसंद आए, लेकिन अधिकतर लोगों की ये समस्या होती है कि उनकी ठंडाई ठीक से नहीं बनती है और कोई न कोई कमी रह जाती है। 

बाज़ार जैसी अच्छी ठंडाई बनाने के लिए हमें कुछ बातों का ध्यान रखना होगा और हम आपको कुछ ऐसी ही टिप्स के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपकी ठंडाई को बेहतर स्वाद और फ्लेवर देंगे।

1. फ्लेवर का ध्यान हमेशा रखें-

आप चाहें किसी भी तरह की ठंडाई बनाने जा रहे हैं आपके लिए सबसे अच्छा तरीका यही होगा कि आप फ्लेवर वाला पाउडर ही बना लें। फ्लेवर हमेशा ठंडाई पाउडर में बनाना ही बेहतर होता है और आप चाहें जिसका भी इस्तेमाल कर रहे हों ये ध्यान रखना जरूरी है कि पाउडर वाला फ्लेवर ड्राई होगा। रोज़ पाउडर, बादाम पाउडर, काजू पाउडर, भांग पाउडर सब कुछ ड्राई फॉर्म में रखें तभी आपकी ठंडाई बहुत ज्यादा अच्छी तरह से बनेगी। कई लोग ये गलती करते हैं कि एक साथ बहुत सारा फ्लेवर डाल देते हैं जिसकी वजह से ठंडाई पाउडर कड़वा हो जाता है। ऐसा नहीं करना चाहिए। ठंडाई का फ्लेवर हमेशा माइल्ड होता है और आपको ये बात ध्यान रखनी होगी।

making thandai 

इसे जरूर पढ़ें- होली खेलने से पहले त्वचा और बालों को करें ऐसे तैयार

2. दूध पर ध्यान है जरूरी-

ठंडाई का फ्लेवर हमेशा फुल फैट मिल्क से आता है। कई लोग इस बात को नजरअंदाज़ कर देते हैं और खराब दूध का चुनाव करते हैं। वैसे तो स्किम्ड, लो फैट या फ्लेवर्ड मिल्क से भी ठंडाई बनाई जाती है, लेकिन जो स्वाद फुल फैट मिल्क में मिलेगा वो किसी में नहीं। इसका कारण ये है कि फुल फैट मिल्क में हमेशा क्रीमी टेक्सचर मिलता है और यही इसकी खासियत बनता है। 

3. मसालों को मिलाना न भूलें-

कई लोग ये सोचते हैं कि ठंडाई को जितना मीठा कर देंगे उतना अच्छा होगा, लेकिन ठंडाई में सभी तरह के मसाले लगते हैं जो गले को ताजगी देने के साथ-साथ कफ आदि को साफ भी करते हैं। ठंडाई का असली मज़ा तभी है जब ये गले में थोड़ी सी लगे। इसलिए इसमें काली मिर्च बहुत जरूरी होती है। इलाइची, काली मिर्च, सौंफ आदि मिलाकर ही ठंडाई का असली स्वाद आएगा और आपको ये ध्यान रखना है। बिना मसालों के ठंडाई सिर्फ फ्लेवर्ड मिल्क बनकर रह जाएगी। 

thandai tips

ठंडाई बनाने की आसान रेसिपी-

  • 4.5 कप फुल फैट मिल्क (उबाला और ठंडा किया हुआ)
  • 1/4 कप पाउडर्ड शक्कर
  • 1 चुटकी कुटी काली मिर्च
  • कुछ स्ट्रैंड केसर 

वो इंग्रीडियंट्स जिनका पाउडर बनाना है-   

  • 1/4 कप बादाम  
  • 2 चम्मच खस-खस  
  • 2 चम्मच सौंफ
  • 1/2 चम्मच इलाइची
  • 20 व्हाइट पेपरकॉर्न या 4-6 चम्मच गुलकंद या कोई और फ्लेवर जो भी आपको चाहिए 
recipe and thandai

इसे जरूर पढ़ें- मथुरा ही नहीं बल्कि इन जगहों पर भी खास तरीके से मनाई जाती है होली 

विधि- 

  1. वो सभी इंग्रीडियंट्स जिनका पाउडर बनाना है उन्हें एक साथ ब्लेंड करके स्टोर कर लीजिए। 
  2. अब आप ठंडे दूध को फ्रिज में से निकालकर उसमें दो चम्मच पाउडर मिलाकर अच्छे से चलाएं। अब इसे 2 घंटे के लिए फ्रिज में रख दें।  
  3. इसके बाद इसे छानकर इसमें शक्कर, काली मिर्च पाउडर और केसर मिलाएं।  
  4. अब ठंडी ठंडाई को सर्व करें।  

ये रेसिपी बहुत आसान है और आप अपनी ठंडाई से सभी को इम्प्रेस कर सकते हैं। हां अगर आपको भांग ऊपर से मिलानी है तो वो भी ठंडाई में मिलाई जा सकती है।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।