नवरात्र में आप भी अपने घर पर फलाहारी चीला बना सकती हैं। जिस तरह से आप कुट्टू और सिंघाड़े के आटे के पकौड़े और समा के चावल बनाते हैं उसी तरह से आप इससे चीला भी बना सकते हैं लेकिन फलाहारी चीला बनाने की रेसिपी आपको पता होनी चाहिए। 

हम आपको नवरात्रि के लिए समां के चावल और साबूदाना से बना खास फलाहारी चीला बनाने की सही रेसिपी बता रहे हैं ये खाने में जितना स्वादिष्ट है आपकी सेहत के लिए उतना ही फायदेमंद भी है। 

फलाहारी चीला आपको खाने में उतना ही पसंद आएगा जितना कि आप आम दिनों में बेसन का चीला या फिर मूंग दाल का चीला खाना पसंद करती हैं। 

अब आप अपने घर पर फलाहारी चीला कैसे बना सकती हैं इसे बनाने के लिए आपको कौन से Ingredients चाहिए और इसे बनाने का सही तरीका क्या है ये सब हम आपको इस रेसिपी में बताने जा रहे हैं। 

इसे जरूर पढ़ें- नवरात्रों में इस तरह से बनाए सिंघाड़े के आटे के पकौड़े 

फलाहारी चीला बनाने की सामग्री

  • समां के चावल- 200 ग्राम (भीगे हुए)
  • साबूदाना- 50 ग्राम (भीगे हुए)
  • तेल- 3-4 चम्मच
  • हरा धनिया- थोड़ा सा बारीक कटा हुआ
  • हरी मिर्च- 2 (बारीक कटी हुई)
  • सेन्धा नमक- 3/4 छोटा चम्मच या स्वादानुसार
  • जीरा- ½ छोटा चम्मच

Pro Tip: नवरात्रों में घर पर फलाहारी चीला बनाने से पहले आप समा के चावल और साबूदाना को पहले ही भिगो दें इससे चीला जल्दी बन जाएगा। साबूदाना और समा के चावलों को चीला बनाने से 3 घंटे पहले पानी में भिगो कर रखना है।

navratri sabudana sago rice cheela INSIDE

Photo: HerZindagi

फलाहारी चीला बनाने की विधि

ऐसे बनाएं फलाहारी चीले का बैटर 

  • नवरात्रों में फलाहारी चीला बनाने के लिए आप सबसे पहले भिगे हुए साबूदाना और समा के चावलों को अच्छे से धो लें और उसमें से सारा पानी बाहर निकाल लें। 
  • अब इसे आप एक मिक्सर के जार में डालिए और इसे पीस लीजिए। मिक्सी में पीसने के बाद इसका पेस्ट तैयार हो जाएगा।
  • आप इसे पीसने के बाद इसे एक बाउल में निकाल लें। 
  • नोट साबूदाना और समां के चावलों को अलग-अलग पीसना है। 
  • समां के चावल-साबूदाना के पेस्ट को एक साथ बाउल में मिला लें फिर इस पेस्ट में सेन्धा नमक, हरी मिर्च, हरा धनिया, जीरा डालकर इसे अच्छी तरह से मिक्स कर लें। 
  • इसमें थोड़ा सा पानी डालकर बैटर की कन्सिस्टेन्सी पतली एकदम चम्मच से गिराने वाली कनिस्टेन्सी का कर लीजिए. इतना बैटर बनाने के लिए 1 कप पानी का इस्तेमाल होगा। फलाहारी चीला बनाने के लिए बैटर तैयार हो गया है।


ऐसे बनाएं फलाहारी चीले

  • अब आप एक नॉन स्टिक तवा ले और उसे गैस पर गरम होने के लिए रखें। जब तवा गर्म हो जाए तब आप इस पर थोड़ा सा तेल डालकर चारों तरफ फैला लीजिए और गैस धीमी कर दीजिए ताकि तवा थोड़ा सा ठंडा हो जाए।
  • तवे पर से अगर ज्यादा तेल है तो आप तेल को चम्मच से निकाल लें और हल्के गरम तवे पर 2 से 3 चम्मच बैटर डालकर चीले को चमच़े से गोल-गोल घुमाते हुए फैला दीजिए।
  • चीला फैलाने के बाद, गैस की आंच़ को तेज कर लीजिए और चीले के चारों ओर तथा बीच में थोड़ा-थोड़ा तेल डाल दीजिए और सब तरफ चम्मच से एक जैसा कर दीजिए. 
  • नीचे की ओर से गोल्डन ब्राउन होने पर चीले को पलट दीजिए और दूसरी तरफ से हल्की चित्ती आने तक चमचे से दबा-दबाकर सेक लीजिए।
  • जैसे ही चीला दूसरी ओर से भी सिक जाए, इसे तवे से उतारकर प्लेट में रख लीजिए। फिर से गैस कम कर दीजिए और तवे पर थोड़ा सा पानी डालिए और गीले कपड़े से पौंछकर इसे ठंडा कर लीजिए तथा दूसरा चीला भी बिल्कुल पहले वाले चीले की तरह फैला दीजिए।

व्रत के करारे-करारे चीले बनकर तैयार हैं। 

Tips: फलाहारी चीला को गरमागरम हरे धनिये की चटनी और मूंगफली के दाने की व्रत की चटनी के साथ सर्व करें। पतला चीला बनाने के लिए आप तवे पर तेल फैलाने के बाद गैस को धीमा करे दें तवा ज्यादा गर्म होगा तो तवे पर डालते ही चिपक जाएगा जिससे चीला पतला नहीं बनेगा और टूट जाएगा।

Read more: नवरात्रों में इस तरह से बनाए सिंघाड़े के आटे के पकौड़े