उत्तर प्रदेश में छठ के मौके पर घरों में प्रसाद के तौर पर कुछ ना कुछ बनाया जाता है। क्योंकि चार दिनों तक चलने वाले इस महापर्व पर हर दिन प्रसाद में कुछ खास बनाने की परंपरा काफी पुरानी है। हालांकि, छठ के दूसरे दिन को 'खरना' कहा जाता है और इस दिन घरों में प्रसाद के तौर पर रसिया या रसियाव बनाया जाता है। 

जी हां, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि रसिया या रसियाव बिहार में काफी लोकप्रिय है। इसे बिहार के लोग बड़ी शौक से बनाते और खाते हैं। क्योंकि यह ना सिर्फ स्वादिष्ट हैं बल्कि हेल्दी भी हैं, इसे बनाना भी बहुत आसान है। खरना का प्रसाद 'रसियाव' बनाने के लिए चावल, दूध और गुड़ का इस्‍तेमाल किया जाता है। 

लेकिन इस बार आप छठ के मौके पर गन्ने के रस से बना रसिया बनाएं। ये यकीनन आपको काफी पसंद आएगा। तो चलिए आज रेसिपी ऑफ द डे में हम आपको बताते हैं कि कैसे आप घर पर आसानी से गन्ने के रस का रसिया बना सकते हैं। 

बनाने का तरीका 

  • गन्ने का रसिया बनाने के लिए सबसे पहले आप गन्ने के रस को एक बाउल में निकाल कर रख लें। गन्ने का रस आपको बाजार से आसानी से मिल जाएगा। 
  • अब दूसरे बाउल में तमाम मेवा यानि काजू, बादाम को बारीक काट कर रख लें। साथ ही, कच्चे चावल को अच्छी तरह से धोकर 1 से 2 घंटे के लिए भिगोकर रख दें। 
  • अब मध्यम आंच पर एक बड़ा बर्तन रखें और उसमें दूध डाल दें और फिर इसे उबलने दें। वैसे तो कई लोग रसिया को चूल्हे पर बनाते हैं।
  • लेकिन अगर आपके पास चूल्हा नहीं है, तो आप इसे गैस पर भी बना सकते हैं। हालांकि, चूल्हे पर बने रसिया की बात ही कुछ और होती है। (गुड़ का खीर कैसे बनाएं)
  • इधर जब दूध में उबाल आ जाए, तो इसमें चावल डाल दें। ध्यान रहे कि चावल डालने के बाद आप लगातार दूध को चम्मच से चलाते रहें। 
  • चावल डालने के बाद खीर में उबाल आ जाए, तो गैस की आंच को धीमा कर दें। फिर खीर को हर दो मिनट में चलाते रहें, ताकि वो बर्तन के तले पर ना लगे। 
  • अब गैस पर एक दूसरा बर्तन रख दें। फिर इसमें में गन्ने का रस डाल दें और गर्म होने दें। जब गन्ने के रस में उबाल आ जाए, तो गैस बंद कर दें।
  • आप चाहें तो गन्ने का रस सीधा खीर में भी डाल सकते हैं। लेकिन अलग से उबालने का फायदा ये होगा कि गन्ने के रस में से स्मेल या कच्चापन निकल जाएगा। 
  • जब रसिया थोड़ा गाढ़ा हो जाए, तो इसमें में कटे हुए काजू, किशमिश और बादाम डाल दें। साथ ही, जब दूध में चावल अच्छी तरह से मिल जाए, तो उसमें इलायची पाउडर डाल दें।
  • अब रसिया के ठंडा होने दें और फिर गन्ने का घोल छलनी से छान कर रसिया में मिला दें। आप चाहें तो गन्ने के रस को डालकर पका भी सकते हैं। 
  • छठ के लिए रसिया तैयार है, इसे ठंडा-ठंडा सर्व किया जाता है।
 
Image Credit- (@Freepik and google)

गन्ने के रस का रसिया Recipe Card

छठ के मौके पर Iघर पर इस तरह बनाएं गन्ने के रस का रसिया, जानें इसकी रेसिपी 

Total Time :
30 min
Preparation Time :
10 min
Cooking Time :
20 min
Servings :
4
Cooking Level :
Medium
Course:
Desserts
Calories:
125
Cuisine:
Indian
Author:
Shadma Muskan

सामग्री

  • चावल- 80 ग्राम
  • गन्ने का रस - 150 ग्राम
  • दूध- 1 लीटर
  •  बादाम- 7-10
  • काजू- 7-10
  • किशमिश- 2 टेबल स्पून
  • नारियल - 100 ग्राम इलायची- 5-6

विधि

Step 1
गन्ने का रसिया बनाने के लिए सबसे पहले आप गन्ने के रस को एक बाउल में निकाल कर रख लें। 
Step 2
अब दूसरे बाउल में तमाम मेवा यानि काजू, बादाम को बारीक काट कर रख लें। 
Step 3
साथ ही, कच्चे चावल को अच्छी तरह से धोकर 1 से 2 घंटे के लिए भिगोकर रख दें। 
Step 4
अब मध्यम आंच पर एक बड़ा बर्तन रखें और उसमें दूध डाल दें और फिर इसे उबलने दें।  
Step 5
जब दूध में उबाल आ जाए, तो इसमें चावल डाल दें और लगातार दूध को चम्मच से चलाते रहें। 
Step 6
चावल डालने के बाद खीर में उबाल आ जाए, तो गैस की आंच को धीमा कर दें। 
Step 7
अब गैस पर एक दूसरा बर्तन रख दें। फिर इसमें में गन्ने का रस डाल दें और गर्म होने दें। 
Step 8
इधर जब रसिया थोड़ा गाढ़ा हो जाए, तो इसमें में कटे हुए काजू, किशमिश और बादाम डाल दें। 
Step 9
साथ ही, जब दूध में चावल अच्छी तरह से मिल जाए, तो उसमें इलायची पाउडर डाल दें।
Step 10
अब रसिया के ठंडा होने दें और फिर गन्ने का घोल छलनी से छान कर रसिया में मिला दें। छठ के लिए रसिया तैयार है, इसे ठंडा-ठंडा सर्व किया जाता है।