बच्चों को जंक फूड से दूर रखना बहुत मुश्किल होता है और ऐसे में उन्हें न्यूट्रिशन से भरपूर खाना कैसे दिया जाए ये सबसे महत्वपूर्ण सवाल होता है। जहां तक जंक फूड का सवाल है तो उसमें सबसे ज्यादा इस्तेमाल मैदे का होता है और अगर आप उसे आटा नूडल्स या आटा पास्ता से स्विच कर दें तो ये काफी अच्छा ऑप्शन हो सकता है, लेकिन सिर्फ इतना ही काफी नहीं है। 

अगर हमें जंक फूड को बच्चों के लिए पौष्टिक बनाना है तो कुछ खास तरीके अपनाने होंगे। Food Safety and Standards Authority of India (Fssai) ने अपने ट्विटर अकाउंट पर ऐसी ही कुछ टिप्स शेयर की हैं जिसमें संस्था ने बताया है कि आखिर कैसे हम पास्ता, नूडल्स, स्मूदी आदि को हेल्दी बना सकते हैं। 

1. नूडल्स को बनाएं जूडल्स-

सब्जियों के नाम पर अक्सर पत्तागोभी, गाजर आदि ही डालें जाते हैं, लेकिन अगर इसमें जूशिनी (Zucchini) और कद्दू जैसी सब्जियां भी मिला दी जाएं तो इसका स्वाद भी बढ़ेगा और ये बहुत ज्यादा पौष्टिक भी हो जाएगी। आप अगर थोड़ा और एक्सपेरिमेंट करना चाहें तो इसमें बैगन को भी मिला दें। स्वाद के साथ-साथ सेहत भी बनी रहेगी। नूडल्स बनाने की आसान ट्रिक है उसमें एक जैसे शेप वाली लंबाई में कटी हुई सब्जियां मिला देना। 

इसे जरूर पढ़ें- खाने में इस्तेमाल हो रहा है ज्यादा तेल तो ये 4 Cooking Tips आएंगे काम 

Recommended Video

2. स्मूदीज को करें ग्रीन 

हरी सब्जियां खाने के फायदे तो हमें पता ही होंगे, लेकिन बच्चे अक्सर इन सब्जियों को नकार देते हैं। ऐसे में बच्चों को पालक, मेथी जैसी सब्जियां खिलाने का सबसे अच्छा तरीका साबित हो सकता है फ्रूट्स स्मूदीज। स्ट्रॉबेरी, केला, अनानास, आम आदि फलों के साथ थोड़ी-थोड़ी मात्रा में हरी सब्जियां मिलाएं और उसे बच्चों को पिलाना शुरू करें।  

फलों के स्वाद से बच्चे इस ड्रिंक को जल्दी पी भी लेंगे और उन्हें हरी सब्जियों का पोषण भी अच्छे से मिल जाएगा।  

3. पास्ता को बनाने का सही तरीका- 

पास्ता अक्सर बच्चों को पसंद आता है, लेकिन ये सेहत के लिए उतना ही खराब होता है। अगर आप देखें तो पास्ता में खासतौर पर मैदे का इस्तेमाल ही होता है, लेकिन अगर आप पास्ता बना रही हैं तो उसकी सॉस में ब्रॉकली, जूशिनी, पालक, कद्दू, गाजर आदी सब्जियों को पीसकर मिला दीजिए। उनके पेस्ट से रेड सॉस का स्वाद खराब नहीं होगा।  

बस इन्हें बहुत ज्यादा मात्रा में न मिलाएं। थोड़ी-थोड़ी मात्रा में अगर आप इसे मिलाएंगी तो ये न सिर्फ स्वादिष्ट होगा बल्कि ये बहुत ही पौष्टिक भी होगा।  

इसे जरूर पढ़ें- भारत में 13 में से 10 बड़े ब्रांड्स का शहद है मिलावट वाला, जानिए शहद की शुद्धता चेक करने की ट्रिक्स 

5 आदतें जो बेहतर बनाएंगी सेहत- 

Fssai की तरफ से पांच आदतों के बारे में भी बताया गया है जो बच्चों की सेहत को ठीक बना सकती हैं। ये न सिर्फ बढ़ते बच्चों के लिए लाभकारी होंगी बल्कि टीनएजर्स के लिए भी अच्छी होंगी।  

1.संतुलित आहार लें- एक ही तरह का खाना अच्छा नहीं होता। आपके खाने में हर तरह की चीज़ें होनी चाहिए जिससे खाने का बैलेंस बना रहे।  

2.पानी भरपूर पिएं- चाहें कोई भी मौसम हो आपको पानी भरपूर पीना चाहिए। ठंड में भी शरीर को पानी की भरपूर जरूरत होती है और ऐसे में अगर आप कम पानी पिएंगे तो ये अच्छा नहीं होगा।  

3. ज्यादा नमक और शक्कर वाला खाना न खाएं- आपको खाना ऐसा खाना चाहिए जिसमें सिर्फ जरूरत भर का नमक हो। अगर आपने ज्यादा नमक या शक्कर खाया तो ये सेहत के लिए अच्छा नहीं होगा।  

4. जूस नहीं फल खाएं- ये सही है कि फलों का रस बहुत ही पौष्टिक होता है, लेकिन असल मायनों में सीधे फलों को खाना जूस पीने के मुकाबले ज्यादा हेल्दी ऑप्शन हो सकता है।  

healthy smoothies fssai

5. फ्राई नहीं बेक करें- अगर आपको उबला हुआ खाना पसंद नहीं है तो भी फ्राई करने की जगह इसे बेक करना शुरू करें। फ्राइड फूड सेहत के लिए सबसे ज्यादा खराब होता है।  

इन सभी टिप्स को अपनाएं और हेल्दी लाइफस्टाइल जिएं। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।