• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

Exclusive Interview: 'कैंसर' के बारे में खुद को समझाना आसान था, बच्‍चों को नहीं- छवि मित्तल

एक वारियर की तरह ब्रेस्ट कैंसर से जंग लड़ रही टीवी एक्ट्रेस छवि मित्तल से उनकी स्‍पेशल जर्नी के बारे में खास बातचीत के कुछ अंश प्रस्तुत हैं-  
author-profile
Next
Article
chhavi  mittal  tv  actress

'कैंसर', यह शब्द किसी भी व्यक्ति को इस कदर भौंचक्का कर देता है, मानों दुनिया ही खत्म हो गई हो। मगर कहते हैं न 'डर के आगे जीत है' और इस बात को सत्य सिद्ध करके दिखाया है, एक्ट्रेस छवि मित्तल ने। 

जी हां, एक्ट्रेस छवि मित्तल ने कुछ दिन पहले खुद ही यह जानकारी दी थी कि उन्हें 'ब्रेस्ट कैंसर' हो गया है, जो स्टेज-2 पर है। हालही में छवि की सर्जरी भी हुई है और अब उनका एक लंबा मेडिकल ट्रीटमेंट चलने वाला है। मगर एक ट्रीटमेंट जो छवि ने खुद ही शुरू किया है, वो है 'पॉजिटिव' रहना, जो उनकी बातों में साफ झलकता भी है। 

हालांकि, कठिन वक्त में किसी के लिए भी पॉजिटिव रहना एक चुनौती है, मगर इस चुनौती को स्वीकार करना भी अपने आप में चुनौती है। छवि ने यह कर दिखाया है और अब वह लाखों लोगों लिए इंस्पिरेशन बन चुकी हैं। छवि इन दिनों सब कुछ कैसे मैनज कर रही हैं और इस जर्नी में वह किस हौसले के साथ आगे बढ़ रही हैं, इस पर हमने उनसे चर्चा की। 

छवि के साथ बातचीत के कुछ अंश प्रस्तुत हैं- 

इसे जरूर पढ़ें: ये 4 फूड्स कैंसर के मरीजों को खाना हमेशा के लिए बंद कर देना चाहिए

Actress  Chhavi  Mittal  Talk  About  Breast  Cancer

कहां से आई इतनी हिम्मत? 

छवि ने अपने इंस्टाग्राम पर जो वीडियो और पोस्ट शेयर की हैं, उन सभी को देख कर हर कोई इंस्‍पायर हो रहा है। मुश्किल वक्त का भी मुस्कुरा कर सामना किया जा सकता है, छवि इसका एक जीता जागता उदाहरण हैं। वह कहती हैं, 'दुनिया में ऐसे बहुत सारे लोग हैं, जो कैंसर से लड़ते हैं या फिर जीवन में चल रही किसी और परेशानी का सामना कर रहे होते हैं, बस मेरा नजरिया अलग है। देखा जाए तो हर किसी के लिए उनकी मुश्किलें बड़ी ही होती हैं, मगर मेरा ये मानना है कि अगर आप किसी मुसीबत में हैं, तो उसका सॉल्यूशन तलाशने की कोशिश करें।'

परेशानी के समय में छवि कभी इस ओर ध्यान नहीं देती हैं कि अब लाइफ बदल जाएगी बल्कि वह परेशानी को दूर करने के समाधान पर ध्यान देती हैं। छवि कहती हैं, 'जब मुझे पता चला कि मुझे ब्रेस्ट कैंसर हुआ है, तो मैंने सबसे पहले इस बीमारी के बारे में जानने की कोशिश की और मुझे पता चला कि इसका इलाज है। बाकि जो मेरे कंट्रोल में है वो काम तो मैं कर ही सकती हूं, जो कंट्रोल में नहीं है उसके बारे में सोचकर खुद को परेशान करना मेरा स्वभाव ही नहीं है।' 

इसे जरूर पढ़ें: ब्रेस्ट कैंसर से जूझ रही हैं टीवी एक्ट्रेस छवि मित्तल, सोशल मीडिया पर पोस्ट के जरिए किया खुलासा

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Chhavi Mittal (@chhavihussein)

 

बच्‍चों को कैसे समझाया? 

किसी भी परिस्थिति में खुद को समझाना एक बार आसान हो सकता है, मगर बच्चों को समझाने के लिए बच्चा बनना पड़ता है। दरअसल, एक बच्चे के लिए उसके माता-पिता हीरो होते हैं। वह इस बात को कभी स्वीकार ही नहीं कर सकते हैं कि उनके सुपर हीरो को कुछ हो सकता है। छवि के केस में भी कुछ ऐसा ही हुआ। वह कहती हैं, 'अपने हसबैंड के बाद मैंने सबसे पहले अपनी बीमारी की बात अपनी बेटी को बताई थी।' मां बीमार है यह जानकर बेटी का पहला रिएक्‍शन क्या था? इस बारे में छवि कहती हैं, 'कुछ वक्त पहले ही हमारे एक करीबी रिश्‍तेदार को कैंसर हुआ था। मेरी बेटी को यह पता था कि कैंसर की वजह से वह कुछ खा नहीं पाती थीं और फिर एक दिन उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। इसलिए मेरी बेटी ने सबसे पहले मेरे से यही सवाल किया कि क्या मुझे वही बीमारी हुई है? मेरे हां कहने पर वह रोने लगी। मगर जब मैंने उसे यह बात समझाई की मेरी बीमारी इतनी गंभीर नहीं है, तो उसे राहत मिली। मैंने उसे समझाया है कि जैसे बेबी को पेट काट कर निकाला जाता है, वैसे ही कैंसर को निकालने के लिए ब्रेस्ट की सर्जरी होगी।'  

Chhavi  Mittal Inspirational  And  Motivational  Story

पति के सपोर्ट ने बांधी हिम्‍मत 

कठिन वक्त में सबसे ज्यादा हौसला किसी को भी उसके पार्टनर से ही मिलता है। छवि के पति मोहित हुसैन भी उन्हें कितना सपोर्ट कर रहे हैं, यह छवि की इंस्‍टाग्राम पोस्‍ट में आसानी से देखा जा सकता है। मगर छवि की तकलीफ और उन्हें खोने का डर भी मोहित छिपा नहीं पाते हैं। इस बारे में छवि कहती हैं, 'जो बीमार होता है, उसे तो सभी पैंपर करते हैं मगर हालत उन लोगों की बुरी होती है, जो अपने करीबी को तकलीफ में देख रहा होता है। मोहित बहुत स्ट्रॉन्ग हैं और उनसे ही मुझे भी मजबूती मिलती है, मगर जब मैं फाइनली सर्जरी के लिए जा रही थी तब मोहित की आंखें नम थीं और मैं समझ सकती हूं कि उस वक्त उनके मन में क्या चल रहा होगा।' 

महिलाओं के लिए संदेश 

भारत में ब्रेस्‍ट कैंसर से जूझ रही महिलाओं का प्रतिशत सबसे ज्‍यादा है। मगर इस बीमारी को लेकर महिलाओं में बहुत कम अवेयरनेस है। इस बारे में छवि कहती हैं, 'मेरे को चेस्ट इंजरी हुई थी, जो दो दिन में ही ठीक हो गई थी। मगर इस इंजरी का इलाज करते वक्‍त ही मुझे ब्रेस्ट कैंसर के बारे में पता चला। मैं हैरान थी कि मुझे इस बारे में कैसे नहीं पता चल पाया। मगर मेरे जैसी कई महिलाएं हैं, जिन्हें यह अनुभव हुआ होगा। मगर मैं लकी थी और मुझे स्टेज-2 में ही इस बात की जानकारी हो गई और इलाज शुरू हो गया। बहुत सी महिलाएं ऐसी होती हैं, जिन्हें ऐसी स्टेज पर पता चलता है, जब खतरा ज्यादा बढ़ जाता है। मैं महिलाओं को यही कहुंगी की सेल्‍फ लव, सेल्‍फ एग्‍जामिन बहुत जरूरी है। खुद को वक्त दें और अपनी सेहत का ध्यान रखें।' 

अब आगे क्‍या करने का इरादा है? 

इस सवाल पर छवि का कहना था, 'सबसे पहले हेल्‍थ है। मैं अभी जो काम कर रही हूं उसी पर फोकस रखूंगी। ज्यादा स्ट्रेस नहीं लेना चाहती हूं और खूब एंज्‍वॉय करना चाहती हूं। बस जल्दी से इस बीमारी से छुटकारा मिले, मैं चाहती हूं कि सब पहले जैसा हो जाए।' 

 

उम्मीद है कि छवि मित्र की इस इंस्पिरेशनल जर्नी ने आपको भी बहुत मोटिवेट किया होगा। हरजिंदगी की पूरी टीम छवि के जल्‍दी सेहतमंद होने की कामना करती है। इस आर्टिकल को शेयर और लाइक करें, इसी तरह और भी आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।  

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।