बदलती लाइफस्‍टाइल और खान-पान की गलत आदतों के चलते अक्‍सर ladies को कई प्रॉब्‍लम्‍स से दो-चार होना पड़ता है। इन्‍हीं प्रॉब्‍लम्‍स में एक प्रॉब्लम कैल्शियम की कमी है। जी हां आज देश में ladies में कैल्शियम की कमी एक आम समस्‍या बनती जा रही है। कई रिसर्च से यह बात सामने आई है कि हमारे देश में अधिकांश ladies में पैंतीस साल की उम्र के बाद कैल्शियम की कमी पाई जाती है। जिसकी शुरुआत किशोरावस्था से हो जाती है, जो ताउम्र बनी रहती है। लेकिन सवाल यह उठता है कि आखिर महिलाओं में कैल्शियम की कमी क्यों पाई जाती है? इसके लक्षण क्या हैं? और इस कमी को दूर करने के लिए क्या खाना चाहिए। इस बारे में हमें न्‍यूट्रीशनिस्ट कविता देवगन बता रही है।

कविता ग्रेटर कैलाश में स्थित स्‍माइल स्‍टूडियो की न्‍यूट्रीशनिस्ट है और डाइट के बारे में उनकी एक बुक 'Don't Diet: 50 Habits of Thin People' भी छपी है। कैल्शियम के बारे में बताते हुए कविता कहती है कि ''महिला हो या पुरुष, बच्‍चा हो या जवां या फिर बूढ़ा, हर किसी को कैल्शियम की जरूरत होती है। जहां एक ओर बढ़ते बच्‍चों को ग्रोथ और दांतों और बोन्‍स को मजबूत बनाने के लिए, वहीं दूसरी ओर बड़ी उम्र में बोन्‍स को फ्रैक्‍चर और ओस्टियोपोरोसिस से बचाने के लिए इसकी जरूरत होती है।''

calcium in lady x Inside logo

डॉक्‍टर की सलाह

न्‍यूट्रीशनिस्ट कविता का कहना है कि ''लड़कियों को कई नेचुरल प्रोसेस जैसे पीरियड, प्रेग्‍नेंसी, ब्रेस्‍टफीडि़ग और मीनोपॉज से गुजरना होता है। ऐसे में उन्हें अच्‍छी डाइट और ज्यादा कैल्शियम की जरूरत होती है। मेनोपॉज के बाद तो लेडीज की बॉडी में कैल्शियम कम होने लगता है। लेकिन दुविधा यह है कि आज भी हमारे समाज में लड़कियों को लड़कों के मुकाबले डाइट कम दी जाती है।''

न्‍यूट्रीशनिस्ट कविता का यह भी कहना है कि ''हमारी बोन्‍स का बहुत अधिक हिस्सा कैल्शियम फॉस्फेट से बना होता है। यही कारण है कि कैल्शियम हमारी बोन्‍स की हेल्‍थ के लिए सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व है। महिलाओं को पुरुषों की तुलना में अधिक कैल्शियम की जरूरत होती है, क्योंकि वे उम्र के साथ बोन्‍स प्रॉब्‍लम्‍स से अधिक जूझती हैं।''

हमारी बॉडी को हेल्‍दी और स्‍ट्रांग बनाने के लिए कैल्शियम एक महत्वपूर्ण मिनरल है, यह ब्लड के pH बैलेंस को कंट्रोल में रखता है। लेकिन कैल्शियम की कमी से ब्‍लड क्‍लॉट बनना, किडनी स्‍टोन, ब्‍लड प्रेशर, हार्ट बीट बढ़ना, कब्‍ज जैसी समस्‍या हो सकती है। यहां तक की लंबे समय तक बॉडी में कैल्शियम की कमी से हार्ट पर असर दिखने लगता है।

कितना कैल्शियम लेना चाहिए?  

न्‍यूट्रीशनिस्ट कविता के अनुसार, ''बॉडी की कैल्शियम की जरूरत को पूरा करने के लिए आपको कुछ ज्‍यादा करने की जरूरत नहीं है, बस आपको अपने 3 meal के दौरान एक कैल्शियम से भरपूर फूड लेना है। इसके लिए आप सुबह के समय 1 ग्‍लास दूध, दिन में 1 कटोरी दही और रात को फिर से 1 ग्‍लास दूध ले सकती हैं। ऐसा करने से आपकी रोजाना की कैल्शियम की जरूरत पूरी हो जायेगी।''

कैल्शियम से भरपूर फूड

कैल्शियम की कमी को पूरा करने के लिए आपको अपनी डाइट में दूध के अलावा इन चीजों को शामिल करना चाहिए।

  • पालक
  • पनीर
  • टोफू
  • सोया मिल्‍क
  • चीज

जरूरी जानकारी

एक बात जो अक्‍सर लोगों को पता नही होती है लेकिन आपको एक बात का ध्‍यान रखना है। जी हां आपको कैल्शियम के साथ-साथ विटामिन डी भी लेना है, क्‍योंकि जब तक आप विटामिन डी नहीं लेगें आपकी बॉडी कैल्शियम को अच्‍छे से आब्‍जर्व नहीं कर पायेगी। और कैल्शियम बॉडी से बाहर चला जाएगा। रोजाना सुबह 10 से 15 मिनट धूप का आनंद लेने से बॉडी में विटामिन डी और कैल्शियम की कमी को दूर किया जा सकता है।

Read more: आयरन की कमी बनी Indian women के लिए सबसे बड़ा खतरा