दिनभर की भागदौड़ और व्सस्तता के बाद जब आप बिस्तर पर जाती हैं और नींद नहीं आए तो आप और भी ज्यादा परेशान हो जाती हैं। एक हल्की सी आहट, दूसरे कमरों से आता शोर या किसी की आवाज आपको देर तक सोने नहीं देती। एक तरफ नींद नहीं आने से आप जूझ रही होती हैं और दूसरी तरफ अगले दिन के काम आपको सोने नहीं देते। ये चिंता भी होने लगती है कि नींद समय पर न खुली तो अगले दिन के काम देर से शुरू होंगे और उसका तनाव भी हावी होने लगता है।

अनिद्रा के तनाव से हम सभी कभी न कभी जूझते हैं। ऑफिस का वर्कलोड, अत्यधिक सतर्कता के साथ पूरे किए जाने वाले काम, किसी के सात कोई कड़वाहट, कोई दुर्घटना जैसी बहुत सी चीजें हमें रात में जगाए रखती हैं। और रात में नींद पूरी न हो तो न सिर्फ हमारी दिनचर्या प्रभावित होती है बल्कि लंबे समय तक यह समस्या रहने पर हमारी सेहत पर भी इसका बुरा असर पड़ता है। अगर आप चाहती हैं कि आपको सुकून की नींद आए और आपकी जिदंगी रहे खुशगवार तो इसके लिए आप कुछ आसान से उपाय अपना सकती हैं-

Read more: उड़ी हुई हैं रातों की नींद? तो इस juice में छिपा है अच्‍छी नींद का secret

1. 1-2 घंटे पहले से ही रिलैक्स करना शुरू करें

शाम के वक्त में ऐसे काम करने से परहेज करें, जिनमें बहुत ज्यादा ऊर्जा लगती हो। रात में सोने से थोड़ी देर पहले कमरे की रोशनी मद्धम कर लें और जो भी काम बचे हैं, उन्हें आराम-आराम से करें। इस समय में आपके लिए ऐसे काम करना बेहतर रहेगा, जिनसे आपको रिलैक्स मिलता है मसलन आप पढ़ सकती हैं, आरामदायाक मुद्राओं वाले योग कर सकती हैं, अपने साथी के साथ बातें कर सकती हैं। अगर दिन के कुछ जरूरों कामों को निपटाना है, तो उन्हें भी रिलैक्स तरीके से करें।

COFFEE NO inside

2. कैफीन दोपहर के बाद न लें

कैफीन लेने के बाद उसका असर शरीर में 8-14 घंटों तक रहता है। वैसे तो इसका प्रभाव हर किसी पर अलग होता है, लेकिन अगर आपको सोने में दिक्कत महसूस होती है तो इसे एक महीने के लिए अपनी डाइट से पूरी तरह अलग कर दें। आप पाएंगी इससे आपकी आपको अच्छी नींद आ रही है। इसके साथ ही कैफीनयुक्त पदार्थ जैसे कि चॉकलेट और चाय आदि से भी परहेज करें। विकल्प के तौर पर आप हर्बल टी, हर्बल कॉफी ले सकती हैं।

3. डिनर में लें नींद लाने वाले फूड आइटम

रात में ऐसा खाना लेने पर जोर दें, जिससे आपको अच्छी नींद आने में मदद मिले। डिनर में ज्यादा प्रोटीन युक्त फूड आइटम कार्बोहाइड्रेट्स के अच्छे कॉम्बिनेशन के साथ लें। सॉटे की हुई हरी सब्जियों के साथ आप कीनवा और चिकन भुने हुए कद्दू के बीजों के कॉम्बिनेशन के साथ ले सकती हैं। डेजर्ट में ताजी चेरीज ले सकती हैं या फिर दही में इन्हें मिलाकर खा सकती हैं।

4. तय समय पर बंद कर दें बत्तियां

अपने रूटीन के हिसाब से रात में सोने के लिए एक समय तय कर लें और हर रात उसी समय में बिस्तर पर चली जाएं। गहरी नींद आने के लिहाज से रात 10 बजे से 2 बजे तक का समय सबसे अहम होता है। समय पर बिस्तर पर आ जाने से यह आपकी हैबिट में शुमार हो जाएगा और आपको गहरी नींद में जाने में मदद मिलेगी।

5. नाक की बाईं तरफ से लें सांस

नाक के दाहिनी तरफ के हिस्से को अंगूठे से बंद कर लें और धीरे-धीरे सिर्फ बाईं तरफ से सांस लें। बाईं तरफ से श्वास लेने का दिमाग पर सकारात्मक असर होता है और शरीर को रिलैक्स फील होता है। कुडलिनि योग में सुझाव दिया गया है कि अगर आप 26 बार इसी तरह से लंबी श्वास लें तो इससे मस्तिष्क और दिमाग पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। जाहिर है जब आपका दिमाग स्वस्थ रहेगा तो नींद भी अच्छी आएगी।

6. बदलें अपना नजरिया

अगर आप कुछ बातों से ज्यादा ही तनाव में आ जाती हैं तो दिमागी सुकून के लिए उन वजहों की पड़ताल करें, जिनके कारण ये तनाव उपजते हैं और इसके बाद उनके समाधान की दिशा में काम करें। साथ ही खुद को इस बात का अहसास दिलाएं कि आप हर समस्या से पार पा सकती हैं और इस समय आपको कोई टेंशन नहीं लेनी।

7. नेचर के अनूकूल रखें अपनी दिनचर्या

प्रयास करें कि आपकी दिनचर्या नेचर के साथ मेल खाती हो। इस बात का ध्यान रखें कि दिन में एक बार धूप में जरूर जाएं और शाम में कमरे में अंधेरा रखें। किसी प्रोजेक्ट पर काम करना हो, घर की व्यवस्था से जुड़े काम हों, ऑनलाइन बिल भरने का काम हो, इन सभी के लिए दिन का समय रखें। इससे आप रात के समय खुद-ब-खुद सोने के लिए प्रेरित होंगी। यह भी ध्यान रखें कि रात में ऐसे काम हरगिज न करें, जिनमें आपको बहुत ज्यादा दिमाग लगाना पड़े या जिसमें आप शारीरिक रूप से थक जाएं।

BATH inside

8. रिलेक्सेशन बाथ से मिलेगा सुकून

आधे कप इप्सम साल्ट के साथ नहाने के पानी में एसेंशियल ऑयल जैसे कि लेवेंडर की कुछ बूंदे डालें। इसमें पानी में 20 मिनट तक रहें। इप्सम साल्ट में मैग्नीशियम होता है, जो शरीर में absorb हो जाता है और सुकून का अहसास देता है।

9. एक्युप्रेशर या रिलैक्स करने वाली अन्य तकनीक अपनाएं

सोने से समय एक्युप्रेशर मैट पर लेट सकती हैं। शरीर को आराम देने के लिए योग निद्रा का वीडियो देख सकते हैं, जिससे आप अपने मस्तिष्क के जरिए अपने हर बॉडी पार्ट को रिलैक्स कर सकती हैं। इसके अलावा आप एक्युपंक्चर जैसी तकनीकें भी आजमा सकती हैं।

Read more: जब कह देगी sugar को no, तो क्‍या होगा जानें

10. दिन में ब्रेक लेकर करें काम

आपकी दिनचर्या चाहे कितनी भी व्यस्त हो, उसमें निश्चित अंतराल पर ब्रेक जरूर लें। कोशिश करें कि एक-दो घंटे के काम के बाद 15 मिनट का ब्रेक लें। इससे आप दिनभर पूरी ताजगी के साथ काम करेंगी और रात होते-होते थकान से चूर नहीं होंगी।