पूजा को उनके ज्वाइंट में हमेशा दर्द रहता था। ऐसा ऑफिस में बैठने के कारण था। पूजा एक ऑफिस में पिछले पांच साल से काम करती है। वह ऑफिस में जहां बैठती है वहां एसी की हवा ज्यादा आती है। जिसकी वजह से तीन साल पहले उसे कमर और  ज्वाइंट में दर्द रहना शुरू हुआ। जब उसने जांच कराई तो रिजल्ट में गठिया निकलकर आया। गठिये के दर्द के कारण पूजा से एक जगह में बैठा नहीं जाता था और उसे कमर व ज्वाइंट्स पर काफी दर्द रहता था। रात में कमर व ज्वाइंट्स का दर्द काफी असहनीय हो जाता था। तभी पूजा को उसकी एक महिला कर्मचारी ने कच्चे पपीते का ड्रिंक पीने की सलाह दी। उस ड्रिंक को पीने से पूजा को एक ही हफ्ते में काफी आराम हो गया। 

डा. राममनोहर लोहिया अस्पताल की आहार विशेषज्ञ डॉ शिखा खन्ना ने बताते हैं कि "कच्चे पपीते का ड्रिंक पुराने से पुराने गठिया के दर्द को दूर कर देता है। जब यूरिक एसिड क्रिस्‍टल के रूप में हमारे हाथ और पैरों के जोड़ों में जम जाता है तो उसे गाउट की बीमारी बोलते हैं। दरअसल पीपते में ऐसे मिनरल्स होते हैं जो हड्डियों की लचक को जितना भी पुराना हो य ड्रिंक पीने से जरूर ठीक हो जाता है।"

गठिया का दर्द

अगर रह-रह कर पैर की उंगलियों, घुटनों और जोड़ों में दर्द होता है तो समझ जाइये कि आपके खून में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ गई है। जब यूरिक एसिड हाथ-पैरों के जोड़ों में क्रिस्‍टल के रूप में जम जाता है तो उसे गठिया की बीमारी कहते हैं। गठिया का दर्द बहुत ही असहनीय होता है। इसको अनदेखा करने पर उठना बैठना मुश्‍किल तक हो जाता है। 

संकेत और लक्षण

raw papaya drink for arthiriris patient inside

गठिया का दर्द अलग-अलग तरह से होता है। इसमें ज्वाइंट्स में सूजन आ जाती है। इसके सबसे सामान्य लक्षण हैं -

  • हाथ का उपयोग करने में असमर्थता
  • पैरों में दर्द के कारण चलने में समस्या
  • हमेशा थकान रहना
  • बुखार
  • अनिद्रा
  • मांसपेशियों में दर्द और बदन दर्द
  • शरीर में जड़ता

गठिया रोग का कारण

  • गठिया को अर्थराइटिस कहते हैं जो शरीर में एसट्रोजन की कमी के कारण होता है। ये समस्या महिलाओं में अधिक देखने को मिलती है। एसी में बहुत अधिक देर तक बैठने के कारण शरीर में एसट्रोजन की कमी हो जाती है। 
  • थइराइड के मरीजों को यह बीमारी अधिक होती है।
  • कई बार शरीर में आयरन और कैल्शियम की अति होने से भी यह समस्या हो जाती है।
  • पोषण की कमी के कारण भी कई बार रिह्यूमेटायड आर्थराइटिस होता है जिससे जोड़ों में दर्द, सूजन गांठों में अकड़न आ जाती है।
raw papaya drink inside

कच्चे पीपते का ड्रिंक बनाने की विधि-

  • सबसे पहले 2 लीटर साफ पानी ले कर उबालें।
  • अब एक मध्‍यम आकार का कच्‍चा पपीता लें और उसे अच्छी तरह से धो लें।
  • फिर पपीते के अंदर से बीज निकाल कर उन्हें फेंक दें। अब पपीते के छोटे-छोटे टुकड़े कर लें।
  • अब इन पपीते की टुकड़ों को उबलते पानी में डाल कर 5 मिनट तक उबालें।
  • फिर इस उबले पानी में 2 चम्‍मच ग्रीन टी की पत्‍तियां डालें और थोड़ी देर के लिए उबालें।
  • अब इस पानी को छान लें और ठंडा होने दें।
  • अब इस पानी को दिन भर पीते रहें।

तो इस ड्रिंक को आप हमेशा पीजिए और अपने कमर दर्द व ज्वाइंट्स के दर्द को टाटा बाय-बाय कहिए। 

Read More: छोटे से तिल में छिपे हैं बड़े-बड़े राज, जानिए इसके अद्भुत फायदे