• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial, 07 Mar 2022, 12:42 IST

बच्चों की नींद से जुड़े ये फैक्ट्स जानती हैं आप?

बच्चों की नींद से जुड़े ऐसे कई फैक्ट्स हैं, जिनके बारे में आपको शायद पता ना हो।
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial, 07 Mar 2022, 12:42 IST
Next
Article
know some amazing facts about child sleep

जब छोटे बच्चों की नींद की बात होती है तो हम सभी यही जानते हैं कि बच्चे काफी अधिक सोते हैं या फिर नवजात शिशु दिन में सोते हैं और रात में देर तक जागते हैं। उनका स्लीप साइकल अलग होता है। इतना ही नहीं, सही तरह से नींद ना होने के कारण वह थोड़े क्रैंकी हो जाते हैं। ऐसे में माताएं उन्हें एक अच्छी नींद दिलवाने की कोशिश करती हैं।

लेकिन एक पैरेंट्स के तौर पर, आपको अपने बच्चे की नींद से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातों के बारे में जान लेना चाहिए। दरअसल, जब आपको बच्चों की नींद से जुड़े फैक्ट्स के बारे में पता होता है तो ऐसे में बच्चों को अच्छी नींद लेने में मदद मिलती है। चूंकि बड़ों की तरह ही बच्चों के लिए भी पर्याप्त मात्रा में नींद लेना उनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको बच्चों की नींद से जुड़े कुछ फैक्ट्स के बारे में बता रहे हैं-

बहुत छोटे बच्चे नहीं देखते सपने

Child Sleep

जब हम सब सोते हैं तो अक्सर सपने देखते हैं। लेकिन बहुत कम लोगों को इस बात का पता नहीं होता है कि बहुत कम उम्र के बच्चे सोते समय सपने नहीं देखते हैं। दरअसल, बच्चों के अविकसित दिमाग और जीवन के अनुभव की कमी के कारण, वे बड़े बच्चों या वयस्कों की तरह सपने नहीं देखते हैं। बता दें कि अधिकांश बच्चे लगभग 7 या 8 वर्ष के होते हैं, तब वे अपने पहले सपने देखना शुरू करते हैं।  

बेडटाइम स्नैक्स से बच्चों को मिलती है बेहतर नींद

रात को सोते समय अमूमन बच्चे दूध पीते हैं (बच्चों के दूध को बनाना है और भी हेल्दी तो उसमें मिलाएं यह चीजें)। लेकिन इसके अलावा बेडटाइम स्नैक्स भी उन्हें बेहतर नींद दिलवाने में मददगार साबित हो सकती है। इसके लिए आप कार्बोहाइड्रेट के बेहतर लेवल वाली कोई चीज उन्हें खाने के लिए दे सकते हैं। हालांकि, आप यह उन्हें बहुत ज्यादा न दें, बस थोड़ा सा ही उनके लिए पर्याप्त है।  

बच्चे अपने बचपन का लगभग 40 प्रतिशत सोते हुए बिताते हैं

Sleep Child

यह भी बच्चों की नींद से जुड़ा एक दिलचस्प फैक्ट है, जिसके बारे में बहुत कम लोगों को पता होता है। आमतौर पर, बच्चे अपने बचपन का लगभग 40 प्रतिशत सोते हुए बिताते हैं। आप चाहें तो इसके लिए बच्चे की एक स्लीप डायरी भी तैयार कर सकती हैं। यकीन मानिए, जब आप बच्चे की स्लीप डायरी तैयार करेंगी तो उनकी नींद की जरूरतों को देखकर आप भी काफी अचंभित हो जाएंगे।

इसे जरूर पढ़ें: हेल्‍दी रहना चाहती हैं तो थोड़ा सा रोने में कोई हर्ज नहीं

टीन्स और 5 साल के बच्चों को एकसमान नींद की जरूरत होती है

यह तो हम सभी जानते हैं कि उम्र बढ़ने के साथ बच्चों की नींद संबंधी जरूरतें बदलने लगते हैं। जहां नवजात शिशु (नवजात शिशु की इस तरह करेंगी देखभाल))बहुत अधिक सोते हैं, वहीं दिन ब दिन उनके नींद के घंटे कम होने लगते हैं। लेकिन, यहां बच्चों की नींद का एक दिलचस्प तथ्य यह भी है कि टीनएजर्स और पांच साल के बच्चों की नींद संबंधी जरूरतें लगभग एकसमान होती है। उन्हें प्रति रात लगभग दस घंटे की नींद की ज़रूरत होती है।

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें: इन 5 फायदों के लिए इस खास पानी में पैर डालकर बॉडी डिटॉक्‍स जरूर करें

बेबी का स्लीप साइकल अलग होता है

Sleep Facts

बच्चों के सिर्फ नींद के घंटे ही बड़ों से अलग नहीं होते हैं, बल्कि उनका स्लीप साइकल भी अलग होता है। उनका 50 से 60 मिनट का एक छोटा स्लीप साइकल होता है(काम के चक्कर में बिगड़ गया है स्लीप साइकिल)। वह अपनी पूरी नींद के दौरान लगभग 50 प्रतिशत समय हल्की नींद लेते हैं। उन्हें गहरी नींद तक पहुंचने में 20 मिनट तक का समय भी लगता है। शायद यही कारण है कि बच्चे अक्सर नींद में सोते समय उठ जाते हैं।

आपको बच्चों की नींद से जुड़े यह फैक्ट्स कैसे लगे? हमें फेसबुक पेज के कमेंट सेक्शन में अवश्य बताइएगा। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit- freepik, 

 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।