दुनिया में मां बनना महिलाओं के लिए सबसे बड़ा सुख है क्योंकि मां बनने की फीलिंग अलग ही होती है। ज्यादातर कपल्स बच्चों को लेकर फैमिली प्लानिंग करते हैं लेकिन कई कपल्स कम उम्र में ही पेरेंट्स बन जाते हैं। वह पेरेंट्स बन तो जाते हैं लेकिन अनुभव की कमी के कारण उन्हें कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। बच्चे की परवरिश करना 20’s में मां बनने वाली महिलाओं के लिए बहुत मु‍श्किल हो जाता है। अगर आप भी कम उम्र में मां बन गई हैं, तो आइए हम आपको कुछ टिप्स बताते हैं जो आपके बच्चे की परवरिश करने में काम आ सकते हैं।

हर छोटी छोटी बात पर घबरा जाना 

inside,, Health tips (Panic)

जब कोई कपल कम उम्र में पेरेंट्स बनता है तो उनके लिए बच्चे की परवरिश करना एक अलग ही अनुभव होता है। ज्यादातर पेरेंट्स को नहीं पता होता कि वह किस स्थिति में क्या रिएक्ट करें इसलिए वह छोटी छोटी बात पर घबराने लगते हैं। कुछ परिस्थितियों में पेरेंट्स व्याकुल हो उठते हैं बच्चे के ज़िद करने पर (जैसे टेबल पर सिर पीटने या किसी चीज़ की ज़िद करने पर) वो आपा खो देते हैं। ऐसे में आप अपना आपा नहीं खोएं बच्चे को शांति से समझाने की कोशिश करें। 

बच्चे की परवरिश करने के लिए प्लानिंग है जरूरी

inside,, Mother responsibilities plan

परिवार और बच्चे की परवरिश करने के लिए प्लानिंग करना बहुत जरूरी है। कुछ पेरेंट्स फैमिली प्लानिंग करते हैं जब वह आर्थिक रूप से मज़बूत होते हैं। बच्चा हो जाने के बाद भी पेरेंट्स प्लानिंग करें कि उनके बच्चे के लिए क्या बेस्ट है या रहेगा। इस विषय को लेकर आप अपने पार्टनर से बात करें कि किस तरह वह बच्चे की ज़िम्मेदारी को एडजस्ट कर सकते हैं। पेरेंट्स साथ मिलकर अपने बच्चे की ज़िम्मेदारी को संभालें। 

इसे ज़रूर पढ़ें-Pregnancy Tips: महिलाओं में फर्टिलिटी को तेजी से बढ़ाती हैं ये 5 चीजें

प्लानिंग के साथ स्ट्रैटिजी बनाएं

inside, Women strategy tips

पेरेंट्स प्लानिंग के साथ-साथ बच्चे की परवरिश को लेकर स्ट्रैटिजी भी बनाकर चलें। आप बच्चे की कौन सी ख्वाहिश को पूरा कर सकती हैं और कौन सी नहीं यह आपको तय करना है। आप कोई ऐसा लक्ष्य न रखें जिसे पूरा करने में आपकी हालत खराब हो जाए। इसलिए लक्ष्य को लेकर बिल्कुल भी अपने ऊपर बोझ डालने की ज़रूरत नहीं है। अगर आप हर चीज़ को पूरा करने में लगे रहेंगे तो खुद स्ट्रेस से घिर जाएंगे। कोशिश कीजिए कि अपना माइंड फ्री रखें।

 

Recommended Video

हर किसी से एडवाइस नहीं लें 

 inside, responsibilities advice

पेरेंट्स कम उम्र में बच्चे की ज़िम्मेदारी संभालने के लिए मानसिक रूप से पूरी तरह तैयार नहीं होते हैं। उन्हें हर कोई राय देने लगता है और वो किसी की भी सलाह पर भरोसा कर लेते हैं, जो गलत है। ऐसा करने पर आपको ही नुकसान उठाना पड़ सकता है क्योंकि कुछ पेरेंट्स की सलाह काम की होती है और कुछ पेरेंट्स की सलाह बिल्कुल भी काम की नहीं होती। इसलिए आप उन्हें सुनने की बजाय इग्नोर करें और वो करें जो सही हो। 

 इसे ज़रूर पढ़ें-महिलाओं के बहुत काम आ सकते हैं ये 6 Period Hacks

खुद का भी रखें ख्याल  

inside, Women self care

मां बनने के बाद बहुत सारी ज़िम्मेदारी बढ़ जाती है। हर कोई बच्चे की परवरिश और ख्याल रखने में लग जाता है। ज़िम्मेदारी को पूरा करने के चक्कर में आप अपनी जरूरतों और चाहतों को न भूलें। आप अपने शरीर और खाने पीने का खूब ख्याल रखें। अपने लिए भी थोड़ा समय निकालें और जो भी करने का मन हो वो करें और अपनी ख्वाहिशों को इग्नोर न करें। जब खुद सही रहेंगी तभी बच्चे की ज़िम्मेदारी को अच्छे से संभाल सकेंगी। 

मां बनने के बाद आप अपने और अपने बच्चे को लेकर बहुत ज़्यादा घबराएं नहीं इन टिप्स को फॉलो करें। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- freepik.com