अब त्योहारों का सीजन आ चुका है और इस सीजन में घरों में ना जाने कितनी तरह के पकवान बनते हैं। इन पकवानों और एक्स्ट्रा मसाले वाला डीप फ्राई फूड खाने से हमारे पेट में कितनी परेशानी हो जाती है वो तो हमें पता ही होगा। एसिडिटी, एसिड रिफ्लक्स, गैस की समस्या, पेट में मरोड़ उठना और ऐसी ही ना जाने कितनी समस्याएं सिर्फ पेट की परेशानियों के कारण ही होती हैं। 

पेट की समस्याओं में कई तरह के टॉनिक और दवाएं ली जाती हैं, लेकिन कई बार बड़ी समस्या की जगह आपको छोटी समस्या होती है जिसे आयुर्वेदिक नुस्खों से कम किया जा सकता है। 

इस विषय के बारे में हमने सर्टिफाइड क्लीनिकल डायटीशियन, लेक्चरर, डायबिटीज एजुकेटर, मीट टेक्नोलॉजिस्ट और NUTR की फाउंडर लक्षिता जैन से बात की। लक्षिता जैन डाइट से जुड़ी कई रिसर्च का हिस्सा रह चुकी हैं और साथ ही साथ वो शरीर की बीमारियों और उनसे जुड़ी डाइट की जरूरतों पर लगातार जानकारी देती रहती हैं। 

लक्षिता जी ने हमें कई आयुर्वेदिक नुस्खों के बारे में बताया जो कुछ हद तक पेट की परेशानियों को ठीक करने में मदद कर सकते हैं। 

नोट: अगर आपको कोई बड़ी हेल्थ से जुड़ी समस्या है या पेट में काफी समय से परेशानी हो रही है तो ये जरूरी है कि आप पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करें और बिना डॉक्टरी सलाह के कोई भी डाइट और हेल्थ से जुड़ा बदलाव ना करें। आपको ये ध्यान रखना होगा कि आपको लिए क्या जरूरी है। कोई भी नुस्खा समस्या को कम कर सकता है, लेकिन उसे जड़ से ठीक करने में मेडिकल हेल्प लेनी होगी। 

stomach problems and issues

इसे जरूर पढ़ें- ब्राउन राइस के भी हो सकते हैं कई साइड इफेक्ट्स, एक्सपर्ट से जानें

पेट की आम समस्याओं के लिए नुस्खे-

अब हम आपको पेट से जुड़ी समस्याओं के बारे में बताते हैं और उनसे जुड़ी चीज़ों के बारे में-

1. एसिडिटी-

  • हरड़ जूस अगर दिन में 1-2 छोटे चम्मच लिया जाए तो ये एसिडिटी को कंट्रोल करने में काफी मददगार साबित हो सकता है। 
  • ये जूस आप आंवला जूस के साथ मिलाकर पी सकते हैं जिससे बेहतर नतीजे मिलते हैं। 
  • आंवला जूस घर पर निकाला जाए तो ये ज्यादा फायदा करेगा। इसके लिए एक आंवले को ग्रेट करके उसका पल्प मस्लिन क्लॉथ में से निचोड़ें। 

ये ट्रिक आपकी एसिडिटी की समस्या को काफी हद तक कंट्रोल कर सकती है। हालांकि, कई लोगों को आंवले की तासीर से प्रॉब्लम हो सकती है इसलिए अगर बहुत ज्यादा सर्दी लगती है तो आप इसे डॉक्टर की सलाह पर ही लें। 

gastrititis and stomach issues

2. बेल्चिंग (ज्यादा डकार की समस्या)-

अगर आपको बहुत ज्यादा डकार आती है तो 2 छोटे चम्मच अजवाइन और अदरक को ग्राइंड कर पाउडर बनाएं। इसमें थोड़ा सा काला नमक मिलाएं। आपके पास हफ्ते भर का मिक्सचर बन जाएगा और इसे रोजाना थोड़ा-थोड़ा करके 1 कप गर्म पानी के साथ पिएं। 

Recommended Video

3. कब्ज की समस्या-

लाइफस्टाइल की परेशानियों के कारण कब्ज की समस्या आम हो गई है और इसे ठीक करने के लिए आप इन टिप्स को अपना सकते हैं- 

  • गुनगुने पानी में पिछला हुआ गुड़ मिलाकर पिएं। इससे कब्ज की समस्या में फायदा मिलेगा। 
  • रात में 6-8 खजूर पानी में भिगोकर रख दें और सुबह मिक्सी में पीसकर इसका सेवन करें। 
  • रात में किशमिश भिगोकर रख दें और सुबह खाली पेट पानी के साथ इसे पिएं। 
  • कब्ज की समस्या में व्हीटग्रास जूस बहुत मदद करता है। इसे सुबह-सुबह खाली पेट पिएं जिससे कॉन्स्टिपेशन की समस्या कम होती है। 
  • 1/2 चम्मच व्हीटग्रास को 1/4 चम्मच त्रिफला के साथ खाएं। ये क्रोनिक कब्ज को भी ठीक कर सकता है।  

4. डायरिया- 

अगर कब्ज की जगह दस्त परेशान कर रहे हैं तो उसके लिए ये आयुर्वेदिक नुस्खे आपके लिए मददगार साबित हो सकते हैं।  

  • 1 चम्मच अदरक पाउडर को 1 चम्मच भुना जीरा पाउडर, 1 चम्मच दालचीनी पाउडर के साथ मिलाएं और रोजाना इसमें से एक छोटा चम्मच मिश्रण शहद के साथ खाएं। इसे दिन में तीन बार खाने से ज्यादा फायदा होगा। 
  • 1 छोटा चम्मच जीरा एक ग्लास पानी में उबालें और 1 छोटा चम्मच ताज़ा धनिया का जूस और चुटकी भर नमक इसमें मिलाकर दिन में दो बार इसे पिएं। इसे 2-3 दिन करने में काफी फायदा होगा।  

इसे जरूर पढ़ें-  सर्दियों में ड्राई स्किन से पाना है छुटकारा तो अपनाएं ये टिप्स 

5. गैस्ट्रिक समस्याएं- 

  • 1/2 छोटा चम्मच सोंठ को चुटकी भर हींग और चुटकी भर काले नमक के साथ मिलाकर हल्के गुनगुने पानी के साथ पिएं। इससे गैस की समस्या में काफी फायदा होगा। 
  • इसके अलावा, एक छोटा चम्मच विलायती जीरा 1.5-2 लीटर पानी में उबालें और इसे धीमी आंच पर ही 15 मिनट तक पकाएं। इसे छानें और इस जीरा चाय का 1 कप रोजाना पिएं। ये दिन में 3 बार पीने से ज्यादा फायदा होता है।  

ये सारे टिप्स आपकी मदद जरूर कर सकते हैं, लेकिन हर किसी को हर तरह का नुस्खा सूट करे ये जरूरी नहीं है इसलिए आप हमेशा उन्हीं नुस्खों को अपनाएं जो आपको सूट करें और डॉक्टर द्वारा बताए गए हों। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।