Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    विंटर में इन 5 हेल्थ रिस्क का बढ़ जाता है खतरा

    ठंड के मौसम में कई तरह के हेल्थ रिस्क का खतरा काफी बढ़ जाता है। जानिए इस लेख में।
    author-profile
    • Mitali Jain
    • Editorial
    Updated at - 2022-12-03,12:00 IST
    Next
    Article
    winter health risk in hindi

    ठंड का मौसम यूं तो काफी अच्छा लगता है। लेकिन इस मौसम में कई तरह के रिस्क भी बढ़ जाते हैं। ठंडी हवाएं ना केवल आपकी स्किन को रूखा बनाती हैं, बल्कि प्रतिरक्षा प्रणाली को भी कमजोर करती है। ठंडा तापमान आपके ब्लड वेसल्स को संकुचित करता है, जिससे कई तरह के हेल्थ रिस्क बढ़ जाते हैं। 

    यह सच है कि हम सभी पूरे साल भर इस मौसम का इंतजार करते हैं। लेकिन वहीं दूसरी ओर इस मौसम में खुद को कई तरह की बीमारियों से प्रोटेक्ट करने की भी जरूरत होती है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको ऐसे ही कुछ हेल्थ रिस्क फैक्टर के बारे में बता रहे हैं, जिनका सामना अमूमन हम सभी को इस मौसम में करना पड़ सकता है-

    बढ़ सकता है अर्थराइटिस का दर्द

    Arthritis problem

    अगर आपको अर्थराइटिस की समस्या है तो यकीनन ठंड के मौसम में आपके जोड़ों का दर्द बढ़ सकता है। ठंडी हवाएं आपके पुराने दर्द को एक बार फिर से बढ़ा सकती हैं। इसलिए, अगर आप इस मौसम अपने अर्थराइटिस के दर्द को बढ़ने से रोकना चाहती हैं तो कोशिश करें कि आप खुद को अच्छी तरह कवर करें। जब भी आप बाहर जाएं तो गर्म कपड़ों के अलावा दस्ताने, मोज़े और कैप भी अवश्य पहनें। इसके अलावा, ठंड के मौसम में आप खुद को अधिक सक्रिय रखने का प्रयास करें ताकि आपके जोड़ों के दर्द की समस्या ना बढ़े।  

    हो सकती है उदासी या डिप्रेशन की समस्या

    ठंड के मौसम में मूड स्विंग्स, उदासी व डिप्रेशन की समस्या काफी बढ़ जाती है। दरअसल, इस मौसम में जब शरीर को पर्याप्त मात्रा में सूरज की रोशनी नहीं मिल पाती है तो ऐसे में मन में हमेशा एक उदासी छाई रहती हैं। जिसे सीजनल अफेक्टिव डिसऑर्डर भी कहा जाता है। इसलिए, कोशिश करें कि आप अपने दिन का कुछ वक्त निकालकर धूप में समय अवश्य बिताएं। इसके अलावा, आप खुद को अधिक सक्रिय रखने और अपने फैमिली मेंबर्स के साथ समय बिताने की कोशिश करें। इससे आपको अच्छा फील होगा। 

    इसे भी पढ़ें-मोटापे के कारण बढ़ जाते हैं ये पांच हेल्थ रिस्क, जानिए

    जुकाम और वायरस की बढ़ जाती है समस्या

    problem of cold and virus

    ठंड के मौसम में बुखार, ठंड लगना, खांसी आदि ऐसी कई बीमरियां बेहद आम बात है। मौसम में बदलाव के साथ खांसी, जुकाम व फ्लू जैसी बीमारियां होती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इस मौसम में आपका इम्युन सिस्टम काफी कमजोर हो जाता है। इसलिए, अगर आप खुद को इन मौसमी बीमारिायें से बचाना चाहती हैं तो अपने खान-पान पर ध्यान दें और अपने इम्युन सिस्टम को अधिक स्ट्रांग बनाने की कोशिश करें।    

    विंटर में बढ़ सकता है वजन

    Weight can increase in winter

    यूं तो वजन बढ़ने की समस्या किसी भी मौसम में हो सकती है। लेकिन ठंड के मौसम में यह संभावना अधिक बढ़ जाती है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि इस मौसम में दिन छोटे होते हैं और रातें लंबी। जिससे हम अपेक्षाकृत अधिक सोते हैं। वहीं, दूसरी ओर इस मौसम में लोग फिजिकली रूप से कम एक्टिव होते हैं। इतना ही नहीं, इस मौसम में तरह-तरह की फूड क्रेविंग होने के कारण मीठा व फ्राइड फूड अधिक खाया जाता है, जिससे वजन बढ़ जाता है।  

    इसे भी पढ़ें-इन 5 कारणों से महिलाओं में बढ़ता है लाइफस्टाइल डिसीज का खतरा

    इस मौसम में हार्ट हेल्थ पर भी पड़ सकता है असर 

    Cold weather affect heart health

    ठंडे के मौसम का प्रभाव हार्ट हेल्थ पर भी पड़ सकता है। दरअसल, कम तापमान होने से रक्त वाहिकाएं संकीर्ण हो सकती हैं, जिससे ब्लड सर्कुलेशन पर असर पड़ सकता है। इसके कारण दिल के दौरे का जोखिम बढ़ जाता है। हालांकि, इसका अर्थ यह नहीं है कि स्वेटर न पहनने से आपको कार्डियक अरेस्ट हो जाएगा। लेकिन आपको बाहर ठंड होने पर आपको सही तरह से कपड़े पहनने चाहिए। साथ ही, अपने खानपान व दवाइयों पर भी विशेष रूप से ध्यान दें।

    इस आर्टिकल के बारे में अपनी राय भी आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। साथ ही, अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

    Image Credit- freepik

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।