Uterus एक महिला के बॉडी का महत्वपूर्ण अंग है। यह महिला प्रजनन प्रणाली का आधार बनाती है। इस प्रकार, यह जीवन की नींव में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसलिए uterus को हेल्दी बनाए रखना अधिक महत्वपूर्ण हो जाता है। 

जब मैं गर्भधारण करना चाहता थी, तब मैंने uterus को मजबूत बनाने वाले हेल्दी फूड्स पर बहुत सारे शोध किए। लेकिन मुझे इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं मिली। इसलिए यह आर्टिकल उन सभी महिलाओं के लिए gift की तरह हैं जो यह जानना चाहती हैं कि uterus को हेल्दी बनाने के लिए हमें कौन से फूड्स लेने चाहिए। जी हां यहां हेल्दी uterus और uterine health को बढ़ाने वाले बेस्ट फूड्स के बारे में बताया गया है।

Read more: अगर कंसीव करने में हो रही है परेशानी तो नाभि में डालें तेल की कुछ बूंदें

फाइबर
foods for uterus fiber

फाइबर से भरपूर फूड खाने से बॉडी से wastes और toxins निकालने में हेल्प मिलती है। परेशान ना हो अगर आप दिन में 2 से 3 बार पेट साफ होता है तो यह हेल्दी हैं। इसके अलावा फाइबर से भरपूर फूड्स आपकी बॉडी में जमा ज्यादा एस्ट्रोजेन को निकालने में हेल्प करते है। यह गर्भाशय फाइब्रॉएड के गठन को रोकता है। फाइबर से भरपूर चीजों में सेम, फलियां, सब्जियां, फलों और साबुत अनाज शामिल हैं।

आर्गेनिक फूड्स खाने की कोशिश करें क्योंकि यह केमिकल और कीटनाशकों से free होते हैं। इन अवांछित केमिकल आपकी कंसीव करने की संभावनाओं को कम कर सकते हैं। इसके अलावा, जब आप हाई फाइबर ले रही होती हैं, तो दिनभर में 8 से 10 गिलास पानी पीते रहीं हैं यह आपके पाचन तंत्र के माध्यम से फाइबर को आसानी से पास करा सकता है।

सब्जियां
foods for uterus vegetable

सब्जियां कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम और विटामिन का एक बड़ा स्रोत हैं। सब्जियों से भरपूर डाइट लेने से आप गंदे फाइब्रॉएड से बची रह सकती हैं। सब्जियां भी फ्राइब्रॉएड ट्यूमर की प्रगति को धीमा कर सकती हैं, जब तक कि आप फलियां, गोभी और ब्रोकोली जैसी सब्जियां खाती हैं। ये सब्जियां phytoestrogens से समृद्ध होती हैं। Phytoestrogens में बॉडी के एस्ट्रोजेन के साथ प्रतिस्पर्धा करने की क्षमता होती है। इस प्रकार, यह आपके एस्ट्रोजेन लेवल को कम करने में हेल्‍प करता है, जिससे, आपके गर्भाशय में ट्यूमर के विकास को रोकता है।

फल

फलों में उच्च मात्रा में विटामिन सी और बायोफ्लेवोनॉइड होते हैं जो गर्भाशय में फाइब्रॉएड की ग्रोथ को बाधित करता है। यह एस्ट्रोजन के लेवल को सामान्य रखने में हेल्प  करता है। इसलिए आपके लिए रोजाना फलों का सेवन करना फायदेमंद होता है। Bioflavonoids ovarian cancer को रोकने और गर्भाशय को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। खाने के बीच में फलों का सेवन करने से आप जंक फूड का सेवन करना बंद कर देते हैं। पोषक तत्व मिलने की वजह से गर्भाशय हेल्दीं रहता है।

डेयरी उत्पाद
foods for uterus dairy product

दूध, दही, पनीर मक्खन जैसे डेयरी प्रोडक्ट खाने गर्भाशय के लिए फायदेमंद होता है। इन प्रोडक्ट में कैल्शियम और विटामिन डी भरपूर मात्रा में होते हैं। कैल्शियम हड्डियों को मजबूत रखने में और विटामिन डी गर्भाशय फाइब्रॉएड दूर रखने में महत्वकपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके अलावा आपको विटामिन डी की जरुरत कैल्शियम को अवशोषित करने के लिए भी चाहिए।

नींबू

हम सभी जानती हैं कि नींबू विटामिन सी से भरपूर होता है और ये हमारी इम्यूानिटी को बूस्ट करने में हेल्प करता हैं। साथ ही विटामिन भी आपके गर्भाशय की इम्‍यूनिटी में सुधार करने में हेल्‍प करता है। जब ऐसा होता है, आपका गर्भाश्य बैक्टीरिया को अच्छी तरह से निकालता है जिससे इंफेक्शन को रोकने में हेल्प मिलती है। रोजाना सुबह में नींबू के साथ गर्म पानी लेने से आपके गर्भाशय की हेल्थ में सुधार होता है।

कैस्टर ऑयल
foods for uterus castol oil

आप सभी को शायद कैस्टर ऑयल याद होगा। क्योंकि बचपन में जब भी कब्ज की समस्या परेशान करती थी, तो मां कब्ज दूर करने और सिस्टम को साफ करने के लिए इसकी एक चम्मच लेने के लिए मजबूर किया करती थी। ठीक वैसे ही है, कैस्टर ऑयल डिम्बग्रंथि अल्सर और गर्भाशय फाइब्रॉएड का इलाज कर सकता है। इसके अलावा, अरंडी ऑयल में रॉकोनोलिक एसिड की मौजूदगी आपकी इम्यूानिटी को मजबूत बनाने में हेल्प करती है। नतीजतन, यह गर्भाशय को इंफेक्शन के लिए प्रति अधिक प्रतिरोधी बनाता है।

ग्रीन टी
foods for uterus green tea

ग्रीन टी एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है। वे सिर्फ एक हेल्दी गर्भाशय को बनाए रखने में हेल्‍प ही नहीं करती हैं, बल्कि यह गर्भाशय में फाइब्रॉएड्स का भी इलाज कर सकती है। हर्बल विशेषज्ञों के अनुसार, गर्भाशय फाइब्रॉएड वाली महिलाओं को लगभग 8 हफ्ते तक रेगुलर ग्रीन टी पीनी चाहिए। इससे फाइब्रॉएड्स की संख्या कम करने में हेल्प मिलेगी।
तो देर किस बात की आप भी अपने गर्भाशय को हेल्दी बनाने के लिए आज से ही अपनी डाइट में शामिल करें ये फूड्स।

Read more: क्‍या आप मां बनना चाहती हैं? तो अपनी fertility को बूस्‍ट करने के लिए अपनाएं ये टिप्‍स

  • Pooja Sinha
  • Her Zindagi Editorial