आजकल के लाइफस्टाइल में हाईशुगर वाले फूड आइटम्स काफी पॉपुलर हो गए हैं। चाहें दोस्तों के साथ पार्टी करनी हो या फिर घर-परिवार में कोई फंक्शन या अपना दिन स्पेशल बनाना हो, हम अक्सर ऐसे फूड आइटम्स पसंद करते हैं, जिनमें शुगर काफी ज्यादा होती है मसलन पिज्जा, बर्गर, चिप्स, कोल्ड ड्रिंक्स। ऐसे फूड आइटम्स को खाकर काफी अच्छा फील होता है, आप और आपके दोस्त सेलिब्रेशन के मूड में भी बने रहते हैं, लेकिन अगर आप इसे अपनी रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा बना रही हैं तो इससे आपको काफी नुकसान हो सकता है। कई स्टडीज में हाई शुगर फूड के खतरों से आगाह किया गया है और इनसे आपको कई तरह की लाइफस्टाइल डिजीज भी हो सकती हैं। आपभी इस बात को जरूर रियलाइज करती होंगी कि मीठे से आपकी हेल्थ प्रॉब्लम्स बढ़ रही हैं और आपको वेट कंट्रोल करने में भी परेशानी हो रही है लेकिन इस आदत से पीछा छुड़ाने के लिए शायद आप कारगर तरीका नहीं अपना पाती हों। ऐसे में गुड न्यूज ये है कि आपको हाई शुगर की लत से निजात पाने के लिए अपने शरीर को इसके हिसाब से ढालने में महज 10 दिन लगते हैं। इन्हीं दिनों में आप कुछ आसान से उपायों से हमेशा के लिए हेल्दी डाइट को अपनी हैबिट में शामिल कर सकती हैं-

कैलोरी वाली ड्रिंक्स को कहें ना 

no sugar inside

जूस, सोडा ड्रिंक्स और हाई कैलोरी ड्रिंक्स में शुगर की क्वांटिटी काफी ज्यादा होती है। यह कुछ ऐसा ही है जैसे कि आप एक कटोरी चीनी खा रहे हो। इन्हें लेने पर आपके खून में शुगर का लेवल तेजी से बढ़ता है और वेट कंट्रोल करना भी मुश्किल हो जाता है। इसके बदले सूखते गले को राहत देने के लिए मिनरल वाटर पीयें। इससे आपका शरीर डीटॉक्स होगा, शरीर में नमी का स्तर बना रहेगा और आप हेल्दी बनी रहेंगी।

Read more : सर्दियों में मूंगफली खाने से बच्चे रहते हैं हेल्दी, जानिए कितनी मात्रा है बच्चों के लिए सही 

अनसैच्युरेटेड फैट जरूर लें

महिलाएं फैटी फूड से डरकर अक्सर ऑयली चीजें पूरी तरह से छोड़ देती हैं, जो आपकी सेहत के लिए सही नहीं है। फैट से भूख लगने में कमी आती है, खून में शुगर लेवल कंट्रोल होता है और नॉर्मली शरीर को खूब फायदा भी होता है। अगर आप सैच्युरेटेड फैट की जगह अन्सैचुरेटेड फैट्स चुने मसलन ऑलिव ऑयल, फलीदार सब्जियां और मछली तो शुगर क्रेविंग काफी हद तक कम हो जाएगी।

इमरजेंसी के लिए खाने को रखें हेल्दी फूड आइटम

अगर आपकी जॉब काफी हेक्टिक है और आप सही टाइम पर खाना नहीं खा पातीं तो आप सामने दिखने वाले अनहेल्दी फूड आइटम्स भी आसानी से खा लेती हैं। इससे बचने के लिए अपने पास हमेशा एक डिब्बे में ड्राई फ्रूट्स, मखाने, भुने हुए चने या मूंगफली रख सकती हैं। ऐसी चीजें आप लंबे समय तक कैरी कर सकती हैं और इनसे आपके इंस्टेंट एनर्जी भी मिलती है।

Read more : शरीफा खाएं और आंखों की रोशनी बढ़ाने के साथ दिल को भी रखें सेहतमंद

inside no sugar

लंबी सांस लें, भूल जाएंगी स्ट्रेस

जल्दी से कुछ मीठा सा खाने की क्रेविंग के पीछे कई बार वजह स्ट्रेस भी होती है। डीप ब्रेथ लेने और प्राणायाम करने से आप स्ट्रेस के हार्मोन, कोर्टिसोल, को कंट्रोल कर सकती हैं। कुछ घंटों के अंतराल पर कम से कम पांच बार गहरी सांस लें। इससे आपकी शुगर के लिए क्रेविंग को कंट्रोल करने में बहुत मदद मिलेगी।


नींद आए गहरी तो नहीं नहीं महसूस होगी मीठे की क्रेविंग

कम नींद लेने पर आपका एनर्जी लेवल लो रहता है, ऐसे में आपको हाई शुगर वाले फूड आइटम लेने की इच्छा तेज हो जाती है, क्योंकि इंस्टेंट एनर्जी के लिए ये ऑप्शन चुनना आसान होता है। अगर आप आठ घंटे की साउंड स्लीप लें तो आप महसूस करेंगी कि आपकी शुगर क्रेविंग वाकई बहुत कम हो गई है।

प्रोटीन डाइट और ढेर सारी सब्जियां लें

inside no sugar

प्रोटीन डाइट लेने का फायदा यह होता है कि यह आपके खून में शुगर लेवल बढ़ने से रोकता है और शरीर को एनर्जी भी देता है। प्रोटीन इनटेक से आपको लंबे समय तक पेट भरे होने का अहसास भी होता है। रोज अंडे, मछली या चिकन जरूर खाएं। हरी सब्जियां खून में शुगर लेवल कंट्रोल करने में मदद करती है। हर तरह की गोभी, पालक, मूली, तरोई, करेला, खीरा, टमाटर आदि खूब खाए। सब्जियों से शरीर को एसेंशियल कार्बोहाइड्रेट्स मिलते हैं, जो ब्लड में शुगर का लेवल बढ़ाते हैं और चर्बी के बजाय उसे एनर्जी में कन्वर्ट करते हैं।