अपने मित्रों या किसी जान पहचान वाले से ज़रूर सुना होगा कि सुबह-सुबह तांबे के बर्तन में पानी पीना शरीर के लिए बहुत अच्छा होता है। ऐसे और भी कई बर्तन हैं, जिमसे खाना खाने से लेकर पीने तक के कई फायदे हैं। कई लोग ऐसे भी होते हैं, जो किसी विशेष बर्तन में भोजन करना भी पसंद नहीं करते हैं। कई महिलाएं ऐसी भी होती हैं, जो वजन कम करने के लिए किसी विशेष बर्तन में ही पानी पीना, भोजन करना और नाश्ता करना भी पसंद करती हैं।

सामान्य तौर पर स्टील और प्लास्टिक के बर्तन में ही भोजन करते हैं। लेकिन, क्या आपको मालूम हैं कि अलग-अलग बर्तनों में खाने से मिलते हैं कई फायदे। अगर आपको इसके बारे में कोई जानकारी नहीं हैं, तो आज इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं कि अलग-अलग धातुओं से तैयार बर्तनों में भोजन करने के क्या है हेल्थ बेनिफिट्स। चलिए जानते हैं।

कांस के बर्तन 

benefits of having food in different kans vessel inside

कांस धातु से तैयार बर्तन में भोजन करना हेल्थ के लिए सही माना जाता है। कहा जाता है कि अन्य बर्तनों में भोजन करने के मुकाबले कांस के बर्तन में भोजन करने से दिमाग बहुत तेज होता है। इसके अलावा कई जानकारों का यह भी मानना है कि कांस के बर्तन में भोजन करने से रक्त विकार से सुधार होने के साथ-साथ भूख भी समय- समय पर लगती रहती है। हालांकि, कांस के बर्तन में एसिड से तैयार यानि खट्टी चीजों को खाने से बचने के लिए भी बोला जाता है।

इसे भी पढ़ें: World hearing day 2021: एक्सपर्ट से जानें बच्चों में बहरेपन के कारण और इससे बचाव के तरीके

एल्यूमिनियम का बर्तन 

benefits of having food in different vessel inside

शायद आपको मालूम हो। अगर नहीं मालूम हो तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बहुत से जानकारों का मानना यह है कि आयुर्वेद के अनुसार इसमें भोजन नहीं खाना चाहिए। कहा जाता है कि एल्यूमिनियम के बर्तन में खाना खाने से धीरे-धीरे शरीर की हड्डियां कमज़ोर होने लगती और साथ में पाचन तंत्र पर भी बुरा असर पड़ता है। इसलिए आपको भी इस विशेष बात का ज़रूर ध्यान रखना चाहिए।

लोहा और स्टील के बर्तन 

benefits of having food in different vessel iron inside

ये लगभग हर महिला जानती हैं कि लोहे के बर्तन में खाना बनाने और खाने से शरीर से आयरन की कमी को आसानी से दूर किया जा सकता है। इसमें तैयार भोजन को खाने से शरीर का उर्जा भी ठीक रहता है। हालांकि, मछली, एसिड भोजन आदि व्यंजन को लोहे के बर्तन में बनाने से बचना चाहिए। इसी तरह स्टील धातु से तैयार बर्तन में भी खाने से शरीर को कोई नुकसान नहीं पहुंचता है।

तांबे का बर्तन 

benefits of having food in different vessel tamba inside

शुरुआत में ही आपके साथ जानकारी सांझा किया था कि तांबे के बर्तन में सुबह-सुबह पानी पीने के कई लाभ है। कहा जाता है कि इससे पेट गैस की समस्या को आसानी से दूर किया जा सकता है। इसमें पानी पीने से स्मरण शक्ति बढ़ने और लीवर संबंधी परेशानी भी दूर हो जाती है। कई लोग पानी में तुलसी के पत्ते को डालकर भी सुबह में पानी का सेवन करते हैं।  

Recommended Video

इसे भी पढ़ें: गुणों से भरपूर है इन फल-सब्जियों के छिलके, डाइट में जरूर करें शामिल

मिट्टी के बर्तन 

benefits of having food in different vessel mud inside

सबसे सुरक्षित और सेहतमंद किसी बर्तन को समझा जाता है, तो वो हैं मिट्टी से तैयार बर्तन। कहा जाता है कि इसमें बनाना और भोजन करने से भी एक प्रतिशत भी शरीर को नुकसान नहीं पहुंचता है। हालांकि, शहरों में इसका इस्तेमाल बहुत कम देखा जाता है लेकिन, छोटे-छोटे गांव और आदिवासी इलाकों में आज भी बहुत से लोग मिट्टी के बर्तन में ही भोजन तौयार करते हैं और खाते हैं। हालांकि, इसमें बनने में टाइम तो लगता है लेकिन, पौष्टिक के मामले में बेहतरीन होता है।

सोना और चांदी के बर्तन 

हालांकि, कीमती धातु होने के चलते इसका बहुत कम लोग ही इस्तेमाल करते हैं। लेकिन, कहा जाता है कि सोने के बर्तन में भोजन करने से शरीर कठोर और मजबूत बनता है। चांदी के बर्तन में भी भोजन करने से शरीर में ठंडक पहुंचती है और दिमाग तेज होता है। पीतल के बर्तन में भी भोजन करना सही माना जाता है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें, और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit:(@i.ytimg.com,hhp-blog.s3.amazonaws.com)