महिलाओं का दिल कभी नहीं होगा बीमार, करनी पड़ेगी ये 10 चीजें

अगर महिलाएं अपने दिल को हमेशा दुरुस्‍त रखना चाहती हैं तो इन चीजों का जरूर ख्‍याल रखना उनके लिए बेहद जरूरी है। 
things to keep heart health main

यह एक मिथक है कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं में हार्ट रोग की आशंका कम होती है। वास्तव में मेनोपॉज के बाद, डायबिटीज, अधिक वजन वाली महिलाओं में पुरुषों की तुलना में अधिक नहीं तो कम जोखिम भी नहीं होता है। लेकिन परेशान होने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि ऐसी कई चीजें हैं जो महिलाएं अपने दिल का ख्याल रखने के लिए कर सकती हैं। इन चीजों के बारे में हमें मुंबई, एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट के सीनियर इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजिस्ट, डॉक्‍टर तिलक सुवर्णा जी बता रहे हैं। अगर आप भी अपने दिल को हमेशा दुरुस्‍त रखना चाहती हैं तो इन चीजों का जरूर ख्‍याल रखें। 

1हार्ट अटैक के अपने जोखिम का आकलन करें

expert tips for heart INSIDE

हार्ट डिजीज परिवारों में चलता है और हार्ट डिजीज के पारिवारिक इतिहास की उपस्थिति एक महत्वपूर्ण जोखिम कारक है। इसलिए एक सरल एल्गोरिदम है जो हार्ट अटैक के आपके जोखिम को निर्धारित करने में आपकी हेल्‍प कर सकता है। ये एल्गोरिदम आपकी उम्र और स्‍मोकिंग, डायबिटीज, हाई ब्‍लड प्रेशर, हाइपरकोलेस्ट्रोलेमिया जैसे हार्ट जोखिम कारकों की उपस्थिति को ध्यान में रखते हैं। आप जोखिम की स्थिति के आधार पर अपने डॉक्टर के परामर्श से उचित निवारक कदम उठा सकती हैं।

2अपने नंबर पता लगाएं

blood pressure inside

यह महत्वपूर्ण है कि आपको अपने शरीर के आदर्श वजन और ब्‍लडप्रेशर के साथ-साथ आपके शुगर और कोलेस्ट्रॉल के मूल्यों को जानना चाहिए, क्योंकि ये हार्ट डिजीज के प्रमुख जोखिम कारक हैं। अगर आपके लेवल असामान्य हैं तो आपको उन्हें सामान्य स्थिति में लाने के लिए उचित उपाय करने होंगे।

3फिजिकल एक्टिविटी

exercise inside

फिजिकल एक्टिविटी या एक्‍सरसाइज चिकित्सीय जीवनशैली बदलावों का एक प्रमुख घटक है जो हार्ट डिजीज से बचाव के लिए जरूरी हैं। हफ्ते में 5 दिन कम से कम 30-45 मिनट के लिए सिंपल ब्रिस्‍क वॉकिंग काफी अच्छी रहती है। अन्य विकल्पों में रनिंग, जॉगिंग, स्विमिंग और डांसिंग शामिल हैं।

4हार्ट-हेल्‍दी डाइट लें

heart health diet inside

हार्ट-हेल्‍दी डाइट ऐसी होनी चाहिए जिसमें लो-फैट और कम नमक वाले आहार शामिल हो, फाइबर, सब्जियों और फलों भरपूर मात्रा में हो और सेचुरेटेड फैट, शुगरी फूड्स, प्रोसेस्‍ड फूड और रेड मीट से बचा जाए। यह हार्ट डिजीज को रोकने में एक लंबा रास्ता तय करेगा।

5वजन कम करें

weight loss inside

मोटापा हार्ट डिजीज के लिए एक प्रमुख जोखिम कारक है। कोई भी महिला जिसका बॉडी-मास इंडेक्स 25 से ज्‍यादा है या जिसकी कमर 35 इंच से ज्‍यादा है उसे हार्ट डिजीज का खतरा बढ़ जाता है। रेगलुर एक्‍सरसाइज और कंट्रोल डाइट से आपके शरीर के वजन को कम करने और बनाए रखने में मदद मिलती है। 

6स्‍मोकिंग से बचें

avoid smoking inside

खतरनाक रूप से, महिलाओं में स्‍मोकिंग का प्रचलन बढ़ रहा है। स्‍मोकिंग से हार्ट डिजीज का खतरा 4 गुना बढ़ जाता है। लेकिन अच्छी बात यह है कि अगर आप स्‍मोकिंग करना बंद कर देती हैं तो आपका जोखिम स्‍मोकिंग न करने वाले व्यक्ति की तरह 1 वर्ष में कम हो जाता है। ई-सिगरेट बदतर नहीं होती है लेकिन  समान रूप से खराब होती है।

7तनाव प्रबंधन और योग

yoga inside

तनाव एक अन्य महत्वपूर्ण जोखिम कारक है जिसे दुर्भाग्य से मापा नहीं जा सकता है। हमारे जीवन में तनाव लगभग अपरिहार्य है, विशेष रूप से महिलाओं को जब उन्हें घर के काम, काम से संबंधित परेशानियों और विभिन्न रिश्तों को मैनेज करना पड़ता है। लेकिन यह जरूरी है कि आप अपने तनाव को कैसे प्रबंधित करती है जो हार्ट डिजीज के लिए आपकी संवेदनशीलता को प्रभावित करता है। तनाव से मुकाबला करने में योग और ध्यान बहुत उपयोगी हो सकते हैं।

8हार्ट अटैक के लक्षण और संकेत जानिए

signs of heart attack inside

आपको हार्ट अटैक पड़ने के लक्षणों के बारे में जानकारी होनी चाहिए जैसे सीने में दर्द या भारीपन या कसना, सांस की तकलीफ, पसीना या ठंडा-पसीना, हल्की-सी उदासी, मतली या उल्टी, कंधे या हाथ या जबड़े या पीठ में दर्द होना। अगर आपके घर में किसी को भी हार्ट अटैक पड़ने की आशंका है तो एस्पिरिन लेने, एम्बुलेंस के लिए कॉल करने, निकटतम नर्सिंग होम या हॉस्पिटल तक पहुंचने, सीपीआर करने की आवश्यकता होने पर, आपके पास कार्रवाई की योजना तैयार होनी चाहिए।

9कार्डिक संबंधी दवाएं

medicine inside

अगर आप हार्ट रोगी हैं या आपको डायबिटीज, हाई बीपी या हाई कोलेस्ट्रॉल है और आपके लिए अपने डॉक्‍टर द्वारा कुछ दवाएं निर्धारित की गई हैं। अपनी दवाओं के साथ खुद को परिचित करें और सुनिश्चित करें कि आप उन्हें नियमित रूप से निर्धारित समय पर लेती रहें, क्योंकि इनमें से कुछ दवाएं हार्ट अटैक पड़ने की संभावना को कम करने और कभी-कभी आपके अस्तित्व को लम्बा करने के लिए दी जाती हैं।

10रेगुलर चेकअप

heart checkup inside

आपके डॉक्टर द्वारा सलाह दिए गए पीरियाडिक चेकअप, दवाओं के प्रति आपकी प्रतिक्रिया का पता लगाने के साथ-साथ आपकी दवाओं के किसी भी साइड इफेक्‍ट का पता लगाना भी जरूरी होता है। इन चीजों की मदद से महिलाएं भी अपने दिल की देखभाल अच्‍छी तरह से कम सकती हैं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

 
Loading...
Loading...