पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम महिलाओं को प्रभावित करने वाला एक नार्मल हार्मोनल डिसऑर्डर है जिसे पीसीओएस के नाम से जाना जाता है। यह रिप्रोडक्टिव उम्र की महिलाओं में आम होता है और ओवरीज के काम करने के तरीके को प्रभावित करता है। आमतौर पर यह प्यूबर्टी के दौरान विकसित होता है लेकिन कुछ महिलाओं में इसका विकास वजन बढ़ने के कारण भी हो सकता है। अगर इस समस्या पर उचित ध्यान ना दिया जाए तो इसके कारण दूसरी लॉन्ग टर्म मेडिकल प्रॉब्‍लम्‍स भी होने लगती हैं।

लेकिन परेशान होने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि डायग्‍नोज होने पर इसे आसानी से लाइफस्टाइल में बदलाव, सही दवाओं और ट्रीटमेंट के साथ मैनेज किया जा सकता है। इसके अलावा कुछ योगासन को अपने रूटीन में शामिल करके भी इसे आसानी से कंट्रोल कर सकती हैं। इन योगासन की जानकारी हमें बॉलीवुड एक्‍ट्रेस शीबा के इंस्‍टाग्राम को देखकर पता चली है। वह अक्‍सर अपने इंस्‍टाग्राम पर बीमारियों से बचाव वाले योग के वीडियोज शेयर करती रहती हैं। कुछ दिनों पहले हमने आपके साथ उनके बताए वैरिकोज वेन्‍स और डायबिटीज के लिए योग के वीडियो शेयर किए थे।

शीबा ने बताया पीसीओएस के लिए योग

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Sheeba Akashdeep Sabir (@simplysheeba)

पीसीओएस के लिए योग शेयर करते हुए शीबा ने कैप्‍शन में लिखा है, ''क्या आपके पीसीओएस सेल्फ केयर रूटीन से योग गायब है? अगर आप सप्‍लीमेंट, बेहतर पोषण, अच्छी हेल्‍थ केयर कर रहे हैं और अभी तक योग के आस-पास तक नहीं पहुंचे हैं तो शुरू करना एक अच्छा विचार है। यहां कुछ आसन दिए जा रहे हैं जो आप पीसीओएस को कंट्रोल करने के लिए आसानी से कर सकती हैं। हमेशा किसी भी नए आसन को शुरू करने से पहले अपने हेल्‍थ केयर एक्‍सपर्ट से सलाह जरूर ले लें। प्रत्‍येक आसन को करते हुए 30 सेकंड के लिए इसे बनाए रखें।'' एक्‍ट्रेस ने पीसीओएस के लिए 5 योगासन बताए हैं। आइए इसे करने के तरीके के बारे में जानें। 

इसे जरूर पढ़ेें: वैरिकोज वेन्‍स के इलाज में प्रभावी है योग, एक्‍ट्रेस शीबा से जानें

भरद्वाज आसन

bharadvajasana inside

  • जमीन पर बैठ जाएं, पैर को सामने सीधा रखें और हाथों को नॉर्मल ही रखें। 
  • घुटनों को ऐसे मोड़ें कि पूरा वजन दाएं हिप्‍स पर हो।
  • अब दाएं पैर की एड़ी को बाएं पैर की थाई पर रखें।
  • गहरी लंबी सांस लें और रीढ़ की हड्डी को सीधा करें।
  • फिर धीरे-धीरे सांस छोड़ें और शरीर के ऊपरी भाग को घुटने के विपरीत दिशा में दाईं ओर मोड़ते जाएं।
  • सीधा हाथ सहारे के लिए दाई तरफ और उल्टा हाथ बाएं घुटने पर रखें।
  • हर सांस के साथ रीढ़ की हड्डी को सीधा करते जाएं।
  • सिर बाईं ओर मोड़कर बाएं कंधे के ऊपर से देखें और थोड़ी देर तक इसी पोजीशन में रहें।
  • अब धीरे-धीरे सांस छोड़े और नॉर्मल पो‍जीशन में आ जाएं।
  • इस योग को दूसरी साइड से भी करें।

चक्कीचलनासन

chakki chalanasana inside

  • इसे करने के लिए मैट बिछाकर बैठ जाएं।
  • फिर अपने दोनों पैरों को बिल्‍कुल सामने की ओर फैला लें।
  • बैठने के बाद दोनों हाथों को जोड़कर पैरों के पास लाएं।
  • दोनों हाथों को जोड़े हुए ही इसे क्‍लॉक वाइज घुमाना शुरू करें, ठीक वैसे ही जैसे चक्‍की चलाई जाती है।
  • इसी तरह एंटी क्‍लॉक वाइज भी घुमाएं। 
  • शुरूआत में आप इसे 5 मिनट तक कर सकती हैं। फिर क्षमतानुसार समय को बढ़ा सकती हैं।

सेतुबंधासन

setubandhasana inside

  • पीठ के बल लेट जाएं। अपनी बाज़ुओं को सिर के साथ रख लें।
  • टांगों को मोड़कर पैरों को हिप्‍स के करीब ले जाएं। जितना करीब हो सके उतना लाएं।
  • हाथों पर वज़न डालकर धीरे-धीरे हिप्‍स को ऊपर उठाएं। ऐसा करते समय सांस अंदर लें।
  • पैरों को मज़बूती से टिका कर रखें। पीठ जितनी मोड़ी जाए, उतनी ही मोड़ें। 
  • अब दोनो हाथों को जोड़ लें।
  • इस पोजीशन में 5-10 सेकेंड रहें, फिर हिप्‍स को वापिस जमीन पर टिकाएं। 
  • नीचे आते समय सांसों को छोड़ें।

Recommended Video

सर्वांगासन

sarvangasana inside

  • जमीन पर पीठ के बल लेट जाएं और अपने दोनों हाथों को शरीर के साइड में रखें।
  • दोनों पैरों को धीरे-धीरे ऊपर उठाएं।
  • पूरा शरीर गर्दन से समकोण बनाते हुए सीधा लगाएं और ठोड़ी को सीने से लगाएं।
  • इस पोजीशन में 10 बार गहरी सांस लें और फिर धीरे-धीरे नीचे आएं।

मत्स्यासन

matsyasana inside

  • इसे करने के लिए सबसे पहले जमीन पर दोनों पैरों को मोड़ कर बैठ जाएं। 
  • इसके बाद पीछे की ओर झुक कर लेट जाएं। 
  • इतना करने के बाद अपने पैरों के दोनों अंगूठों को अपने हाथों से पकड़े। 
  • पीठ को ऊपर की ओर उठाएं।

अगर आप भी पीसीओएस को कंट्रोल में रखना चाहती हैं तो अपने फिटनेस रूटीन में शीबा के बताए इन 5 योगासन को जरूर शामिल करें। फिटनेस से जुड़ी और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।