इस भाग-दौड़ भरी ज़िंदगी में खुद को फिट रखना एक बड़ी चुनौती है। इस दौर में ज़्यादातर लोग मोटापे की समस्या से जूझ रहे हैं। बिज़ी शेड्यूल और लगातार बैठे रहने से पेट पर चर्बी जमा हो जाती है और भी कई दिक्कतें हो जाती हैं। लॉकडाउन की वजह से आप घर रहकर वर्कआउट या व्यायाम कर रही होंगी। किसी भी व्यायाम को करने से पहले ज़रूरी है उसके बारे में जानना कि ये कैसे और कब किया जाता है? देखा जाए तो, व्यायाम में सबसे ज़्यादा प्रभावी और पसंदीदा आसन वॉकिंग प्लैंक है।

ये एक ऐसा व्यायाम है जो आपको ज़्यादा लाभ देता है लेकिन तब, जब सही तरीके से किया जाए। ये आपके कोर को मज़बूत करने के साथ-साथ स्थिरता प्रदान करता है। इसलिए फिटनेस के शौकीनों की प्लैंक सबसे ज़्यादा पसंदीदा एक्सरसाइज हैं, ज़रूरी नहीं सभी की फेवरेट हो। इसके लाभों को प्राप्त करने के लिए ज़रूरी है इसे ठीक से करना, कोई गलती ना हो लेकिन हमें पता कैसे चलेगा कि हमसे क्यागलती हो रही है। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि वॉकिंग प्लैंक करते समय कुछ सामान्य गलतियां हैं जो हमें नहीं करनी चाहिए। 

शरीर पर कंट्रोल ना होना 

inside  body

कई बार एक्सरसाइज करते समय ऐसा होता है कि  हमारे शरीर पर हमारा ही कंट्रोल नहीं रहता। ऐसा अधिक वजन की वजह से भी हो सकता है। आप एक्सरसाइज करते समय शरीर पर नियंत्रण रखें। साथ ही एक्सरसाइज ध्यान से करें, नहीं तो संभावना है कि आपकी कोहनी और कलाई पर चोट लगा सकती हैं। 

इसे ज़रूर पढ़ें- महिलाओं से जुड़े 10 रोग दूर करता है सिर्फ ये 1 योग

अधिक समय तक करना  

inside  timer

इस योगा को अधिक समय तक करना ठीक नहीं है क्योंकि ऐसा करने से आपके शरीर में दर्द हो सकता है। इसलिए वॉकिंग प्लैंक करते समय अपने सामने एक टाइमर रख लें। टाइमर में सेट टाइम के अनुसार ये आसन करें। ये आपके कोर को मज़बूत करने के साथ-साथ स्थिरता प्रदान करेगा।

Recommended Video

कूल्हों को बार-बार हिलाना 

inside  hips

जब भी आप वॉकिंग प्लैंक करती हैं, तो उस वक्त अपने कूल्हों को ना हिलाएं क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि हमारा पूरा शरीर हिलता है, जो कि गलत है। कोशिश कीजिए कि आपके कूल्हे स्थिर रहें। हां, ये बात अलग है कि जब आप हाई और लो प्लैंक की मुद्रा बदलते हैं तब आपके कूल्हे ऊपर नीचे हो सकते हैं। तो ज़रूरी है आप आसन को सही ढंग से करें बार-बार कूल्हों को ना हिलाएं। एक हिस्से पर अपने पूरे शरीर का भार ना डालें। अगर आप अपने कूल्हों को बहुत ऊपर या नीचे ले जाएंगी तो आपकी कमर में दर्द हो सकता है। सुनिश्चित करें कि आपका शरीर एक सीधी रेखा में हो।

इसे ज़रूर पढ़ें-लोअर बैक पेन से मिलेगा छुटकारा, करें ये एक्सरसाइज

कोहनी की चौड़ाई सामान्य रखें

inside  hand space

वॉकिंग प्लैंक करते समय अपनी कोहनी चौड़ी रखें लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि आप कोहनियों को ज़्यादा फैला लें। कोहनी ज़्यादा चौड़ी करने से आपको दिक्कत हो सकती है। तो कोशिश कीजिए कि आसन करते समय कोहनी की चौड़ाई सामान्य हो। इससे आपके कंधे पर अनावश्यक दबाव नहीं पड़ेगा। अपनी बाहों का एल आकर बनाए और कोहनी और हाथों को ज़मीन पर रखें। 

वॉकिंग प्लैंक एक्सरसाइज करते समय इन बातों का ध्यान रखें। लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें, साथ ही ऐसी अन्य जानकारी पाने के लिए जुड़े रहें हरजिन्दगी के साथ।

Image credit- freepik.com