हर महिला फिट और हेल्‍दी रहना चाहती है और बढ़ती उम्र के साथ तो और भी ज्‍यादा फिट और ग्‍लोइंग दिखना चाहती है। लेकिन कुछ जीवनशैली की आदतों, हमारे पोश्‍चर, खान-पान में पोषक तत्‍वों की कमी और रेगुलर एक्‍सरसाइज न करने से लंबे समय में मांसपेशियों की इनफ्लैक्सिबिलिटी आ सकती हैं। ऐसे में ज्‍यादातर महिलाओं के मन में सवाल आता है कि क्‍या किया जाए? तो हम आपको बता दें कि ऐसे योग को शामिल करना महत्वपूर्ण है जो हमारी गति की सीमा को लक्षित करते हैं और गतिशीलता में सुधार करते हैं। ऐसा ही एक योग मुद्रा उत्‍कटासन है जो जोड़ों को स्थिर करने में मदद करती है, पैरों और ग्‍लूट्स को मजबूत करती है और आपको लंबे समय तक फिट और ग्‍लोइंग बनाए रखती है।

इस योग की सबसे अच्‍छी बात यह है कि इसे रकुल प्रीत सिंह रोजाना करती हैं। आपको लग रहा होगा कि हमें इस बात की जानकारी कैसे है? तो आपको बता दें कि हमें इस बात की जानकारी इंस्‍टाग्राम देखने के बाद मिली है। हाल ही में एक्‍ट्रेस रकुल प्रीत सिंहने इंस्‍टाग्राम के माध्‍यम इस योग को करते हुए फोटो शेयर की है। जी हां एक्‍ट्रेस एक और योग मुद्रा के साथ खुद को चुनौती दे रही हैं, इस बार उत्कटासन कर रही हैं। योग ट्रेनर अंशुका परवानी ने कैप्‍शन में योग के बारे और इसके प्रभाव के बारे में विस्‍तार से बताया। अगर आप भी रकुल प्रीत की तरह 30 साल की हैं तो फिट रहने के लिए यह योग रोजाना करें।

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by ANSHUKA | Yoga & Wellness (@anshukayoga)

परवानी के अनुसार, ''यह योग बर्निंग और ग्‍लोइंग में मदद करता है। संस्कृत भाषा में 'उत्कटासन' का अर्थ है जो शास्त्रीय हिंदू दर्शन की भाषा है, शक्तिशाली है और रॉयल्टी के लिए आरक्षित एक उठी हुई कुर्सी को भी संदर्भित करता है। शरीर, मन और आत्मा को एकजुट करने के अपने संक्षिप्त अर्थ में योग को दर्शाया गया है। मुझे पसंद है कि कैसे एक मुद्रा शारीरिक और भावनात्मक शक्ति दोनों ला सकती हैं।

इसे जरूर पढ़ें:रकुल प्रीत की तरह खूबसूरती चाहती हैं तो अपनाएं उनका फिटनेस और डाइट सीक्रेट

उत्‍कटासन योग के फायदे

Utkatasana inside

उत्‍कटासन को कुर्सी योग के नाम से भी जाना जाता है। फिजिकली जैसे ही आप घुटनों को मोड़ती हैं, पैरों को फर्श पर प्रेस करती हैं, आपकी कोर मसल्‍स को एक्टिव करती हैं, आप एक ही समय में आग, ऊर्जा और कठिनाई महसूस करना शुरू कर देती हैं। यह जोड़ों को मजबूत और स्थिर करता है। पाचन अग्नि का निर्माण करता है और जैसे-जैसे आप इस स्थिति से ऊपर जाते हैं, यह पैर और ग्लूट्स को मजबूत करता है।

Recommended Video

रोजाना इसे करने से रीढ़ की हड्डी, हिप्‍स और चेस्‍ट की मसल्‍स के लिए अच्‍छी योग है। पीठ के निचले हिस्से को मज़बूती प्रदान करता है। थाइज, एड़ी, पैर और घुटनो की मसल्‍स को ताकत मिलती है। साथ ही यह आपके इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूत करता है। इसके अलावा उत्कटासन से पेट के भीतर के अंगों को अच्छी मसाज मिल जाती है। साथ ही वेट लॉस में मदद मिलती है और यह हिप्स का फैट लॉस करने के लिए बेस्ट आसन है। साथ ही इसे रोजाना करने से चेहरे पर ग्‍लो आता है। 

उत्‍कटासन करने का तरीका

Utkatasana inside

  • इसे करने के लिए तड़ासन में खड़ी होकर पैरों और अंदरूनी हिप्‍स की चौड़ाई को अलग करें। 
  • पैर की उंगलियां आगे की ओर होनी चाहिए।
  • हथेलियों को एक-दूसरे के सामने रखकर अपनी बाहों को ऊपर उठाएं।
  • दोनों घुटनों को मोड़ें और सिट बैक पोजीशन में आ जाएं। ऐसा करते हुए आपका ज्यादा वजन एड़ी पर होना चाहिए।
  • ऊपरी शरीर को थोड़ा आगे की ओर झुकने दें।
  • धीरे से अपने कंधे के ब्लेड एक दूसरे की ओर स्‍ट्रेच करें। कंधों को अपने कानों से दूर रखें।
  • कोशिश करें और 60 सेकंड के लिए इस मुद्रा में रहें, फिर रिलीज करें।

अगर आप भी रकुल प्रीत की तरह फिट और ग्‍लोइंग दिखना चाहती हैं तो रोजाना इस योग को करें। फिटनेस से जुड़ी और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।

Image credit: freepik.com