क्‍या आप थोड़े समय पहले मां बनी हैंं?
हिप्‍स और थाइज के फैट को कम करना चाहती हैंं?
बैली फैट ने भी आपकी खूबसूरती को कम कर दिया है?
क्‍या आप एक ऐसी एक्‍सरसाइज की तलाश में हैंं? जो आपकी इन सभी समस्‍याओं को दूर करने के साथ-साथ आसान और प्रभावी हो। तो आपकी खोज इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद दूर हो जाएगी। आज हम आपको बॉलीवुड की फिट और खूबसूरत एक्‍ट्रेस भाग्‍यश्री की बताई ऐसी एक्‍सरसाइज के बारे में बता रहे हैं जो उन्‍होंने अपने इंस्‍टाग्राम के माध्‍यम से फैन्‍स के साथ शेयर की है।

जी हां भाग्‍यश्री न केवल खुद को फिट रखने के लिए रोजाना योग और एक्‍सरसाइज करती हैं बल्कि फैन्‍स को फिटनेस के प्रति इंस्‍पायर करने के लिए अपने फिटनेस के वीडियोज और फोटोज भी शेयर करती हैं। कुछ दिनों भाग्‍यश्री पहले हिप रेज़स करते हुए इंस्‍टाग्राम पर फोटो शेयर की और कैप्‍शन में इसके फायदों के बारे में बताया। अगर आप भी खुद को प्रेग्‍नेंसी के बाद फिट रखना चाहती हैं तो आइए हमारे साथ आप भी इसके फायदों के बारे में विस्‍तार से जानें।   

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Bhagyashree (@bhagyashree.online)

भाग्‍यश्री ने कैप्‍शन में लिखा ''हिप रेज़स एक साधारण पिलाटेस एक्सरसाइज है, जिसके कई फायदे हैं। अगर हिप रेज़स को सही तरीके से किया जाए तो यह प्रेग्‍नेंसी के बाद सबसे प्रभावी एक्‍सरसाइज में से एक हो सकती है। इसे बुजुर्गों द्वारा भी किया जा सकता है क्योंकि यह एक फंक्‍शनल मूवमेंट है जो हिप्‍स की चोट को रोकने के लिए हिप्‍स और पैर के ऊपरी हिस्‍से की मसल्‍स को मजबूत करने में मदद करता है। इससे आप अपने बैली, हिप्‍स और थाइज के फैट से छुटकारा पा सकती हैं। हालांकि यह आश्चर्य की बात है कि इसका इस्तेमाल शायद ही कभी रोज़मर्रा में किया जाता हो। हिप रेज़स की सादगी इसे सबसे कम मूल्यांकन वाली एक्‍सरसाइज बनाती है।''

इसे जरूर पढ़ेंफिट और सुंदर दिखने के लिए नए साल में ये 5 योगासन रोजाना करें

हिप्‍स रेज़स करने का तरीका

  • हिप्‍स को उठाने के लिए प्रभावी ढंग से पीठ के बल फ्लैट लेट जाएं। 
  • पैरों को शरीर के करीब, पैर फर्श पर सपाट रखें। 
  • घुटनों के बीच की दूरी आपके हिप्‍स के जोड़ के बराबर होनी चाहिए। 
  • कोर को टाइट अपने हिप्‍स को धीरे-धीरे कशेरुका द्वारा अपने स्कैपुला तक ऊपर उठाएं। 
  • शरीर की कंधे से हिप्‍स और घुटनों तक एक सीधी रेखा बननी चाहिए। 
  • 5 की गिनती तक इस पोजीशन में रहें और फिर धीरे-धीरे नीचे तक पहुंचने तक छोड़ दें। 
  • इससे पहले कि आपका टेलबोन फर्श को छूता है, फिर से ऊपर उठाएं और इस एक्‍सरसाइज को करें। 
  • 10 रेप्‍स के साथ की गई यह एक्‍सरसाइज आपकी पीठ पर प्रेशर डाले बिना कोर को एक्टिव करने का काम करती है। 
  • जैसे ही आपको इसे करने की आदत हो जाए, आप धीरे-धीरे होल्ड की गिनती बढ़ाकर या रेप्‍स बढ़ाकर इसे कर सकती हैं।

हिप रेज़स करते हुए एक और वीडियो शेयर करते हुए भाग्‍यश्री ने कैप्‍शन में लिखा है, ''3 सेट 15 रेप्‍स, यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपके घुटने, क्वाड्स और चेस्‍ट को संरेखित किया गया है, आपको अपने पेट को पकड़ना होगा और बट को सिकोड़ना होगा। जब आप अपनी रीढ़ को फर्श पर लाते हैं तब चेस्‍ट को कशेरुका द्वारा नीचे की ओर ले जाएं और अभी भी ग्लूट्स को एक्टिव और कोर टाइट रखना होगा।''

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Bhagyashree (@bhagyashree.online)

सबसे अच्‍छा वार्म-अप

हिप्‍स रेज़स एक प्रमुख एक्‍सरसाइज है जो आपके एब्डोमिनल और ग्लूट को एक्टिव करती है। एक शानदार एक्‍सरसाइज से शुरुआत करें ताकि ग्लूट्स की मसल्‍स वार्म-अप हो जाएं और आप आसानी से अन्य एक्‍सरसारइज कर सकें। जिम में ज्यादातर हिप और लोअर बैक इंजरी तब होती है जब ग्लूट्स एक्टिव नहीं होते हैं। यह आसान एक्‍सरसाइज वर्कआउट से पहले वेट लिफ्टिंग और कार्डियों जैसे रनिंग के लिए बहुत अच्‍छा वार्म-अप हो सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें: उल्‍टा वॉक करने से भी सेहत को मिलते हैं अद्भुत फायदे, भाग्‍यश्री से जानें

यूरिन लिकेज की समस्‍या से छुटकारा

हिप रेज़स एक्‍सरसाइज महिलाओं को शर्मनाक स्थितियों से बचने में भी मदद करती है। यह यूरिनरी इंकॉन्टीनेंस में मदद करती है जो बच्चे के जन्म के बाद महिलाओं को हो सकती है। प्रेग्‍नेंसी के दौरान ब्‍लैडर पर प्रेशर पड़ने के कारण किसी को खांसी या छींक आने पर यूरिनरी इंकॉन्टीनेंस या यूरिन लिकेज होता है। पेट की मसल्‍स कमजोर होने के कारण बच्चे के जन्म के बाद भी यह समस्‍या हो सकती है। हिप रेज़स को अक्सर प्रेग्‍नेंसी के बाद कीगल एक्‍सरसाइज के रूप में इस्‍तेमाल किया जाता है। यह एब्डोमिनल को टाइट करने में मदद करती है।

इसलिए इस आसान एक्‍सरसाइज को अपने डेली वर्कआउट रूटीन में शामिल करें और फर्क देखें और महसूस करें। हिप रेज़स एक स्‍ट्रेंथ बिल्‍डिंग और आपके कोर के लिए सबसे अच्‍छी एक्‍सरसाइज है जो आपके हिप्‍स जोड़ों को भी खोलता है और उत्तेजित करता है। आप भी इन एक्‍सरसाइज को करके हिप्‍स और थाइज के साथ-साथ बैली फैट को कम कर सकती हैं। फिटनेस से जुड़ी और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।

Image credit: Instagram