फिजिकल फिटनेस बेहद जरूरी है क्योंकि यह न केवल आपके शरीर को फिट और हेल्‍दी रखती है बल्कि आपके दिमाग को भी साफ करती है और आपको एनर्जी देती है जो आपको दिन-भर के कार्यों का सामना करने में मदद करती है। कुछ महिलाओं के लिए फिटनेस रूटीन उस हवा की तरह होता है जिसमें वह सांस लेती हैं जबकि कुछ महिलाओं के लिए यह हर दिन एक चुनौती की तरह होती है।

आप जिस भी उम्र की हैं लेकिन बढ़ती उम्र के साथ कितना वर्कआउट कर सकती हैं उसकी हमेशा एक सीमा होती है। इसलिए जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, जब आपको नॉर्मल एक्‍सरसाइज करने में कठिनाई होती है तो आप इस फिटनेस रूटीन को फॉलो करना बंद कर देती हैं। हालांकि, कुछ ऐसी एक्‍सरसाइज हैं जिन्‍हें आप उम्र की परवाह किए बिना कर सकती हैं। इस आर्टिकल में कुछ ऐसी एक्‍सरसाइज की लिस्‍ट दी गई है जिन्हें हर उम्र की महिला आसानी से कर सकती हैं। इन एक्‍सरसाइज की सबसे अच्‍छी बात यह है कि ये एक्‍सरसाइज आप तब भी मदद कर सकती हैं जब आप फिटनेस की दुनिया में अपेक्षाकृत नई हों।

वॉकिंग

walking exercise

अगर आप अभी फिटनेस रूटीन की शुरुआत कर रही हैं, तो वॉकिंग शुरू करना आपके लिए सबसे अच्छी एक्‍सरसाइज में से एक है। इसके लिए न्यूनतम एथलेटिक क्षमता की आवश्यकता होती है। यह आपके शरीर पर बहुत कम स्‍ट्रेस डालता है, इसमें कोई जोखिम नहीं होता है और यह सभी आयु वर्ग के महिलाओं के लिए उपयुक्त है। हफ्ते में 2.5 घंटे पैदल चलने से हार्ट रोगों का खतरा 30 प्रतिशत तक कम हो सकता है। इसके अलावा, यह आपके दिल को हेल्‍दी रखते हुए आपके ब्‍लड प्रेशर को भी कंट्रोल कर सकता है, डायबिटीज के विकास के जोखिम को कम कर सकता है और आपके मूड को भी सुधार सकता है। इसलिए अपनी उम्र के बावजूद बेहतर स्वास्थ्य की ओर बढ़ते रहें।

इसे जरूर पढ़ें:जवां रहने के लिए ये 8 एक्‍सरसाइज घर में ही कर सकती हैं महिलाएं, रोजाना जरूर करें

स्क्वाट्स

squat exercise inside

अगर आप बिना किसी उपकरण के एक्सरसाइज करना पसंद करती हैं तो आपको वॉकिंग के साथ-साथ स्क्वाट्स भी ट्राई करना चाहिए। आपके निचले शरीर को टोन करने की तुलना में स्क्वाट्स के बहुत अधिक फायदे हैं। यह पेट और पीठ की मसल्‍स सहित आपकी मुख्य मसल्‍स पर काम करता है। साथ ही आपके पोश्‍चर में सुधार करता है और बेहतर डाइजेशन में भी मदद करता है। अगर वजन कम करना आपके लिए चिंता का विषय है, तो स्क्वाट्स आपके शरीर की एक्‍सट्रा फैट को बर्न करने में आपकी मदद करती है। इसलिए बेसिक स्‍क्वाट्स से शुरू करें और अगर आप इन आसान एक्‍सरसाइज से ऊब चुकी हैं तो इसके कुछ बदलावों को आजमाएं।

पुश-अप्स

pushup exercise inside

पुश-अप्स आसान बेसिक वर्कआउट हैं जो आपकी मसल्‍स की ताकत में सुधार करता है और आपके शरीर को टोन कर सकता है। यह आसान वर्कआउट है जिसे बढ़ती उम्र की महिलाएं भी बहुत ही आसानी से कर सकती हैं। अगर आपसे जमीन पर नीचे न झुका जाएं तो आप इसे बेड या दीवार के सहारे कर सकती हैं। भले ही पुश-अप्सविशेष रूप से आपके कंधों, चेस्‍ट और बाजुओं की मसल्‍स पर काम करते हैं, आप अन्य मसल्‍स में कुछ बदलाव करके उन्हें टोन कर सकती हैं। पुश-अप्स सभी आयु समूहों के लिए एकदम सही हैं, बस सुनिश्चित करें कि आप इसे सही तरीके से कर रही हैं।

Recommended Video

प्‍लैंक

plank exercise inside

प्लैंक सिर्फ एब एक्सरसाइज नहीं है बल्कि यह कई तरह से आपको फायदा पहुंचाती है। अगर आपका लाइफस्‍टाइल गतिहीन हैं तो यह एक्‍सरसाइज आपके लिए एकदम सही है क्योंकि यह बैलेंस और पोश्चर में सुधार करता है और पीठ के निचले हिस्से के दर्द को कम करने में भी मदद करती है। यह आपकी कोर की मसल्‍स, बाजुओं, गर्दन, पीठ, हिप्‍स और पैरों को मजबूत करती है। अगर इसे सही तरीके से किया जाए तो डेली एक्टिविटी को बेहतर ढंग से किया जा सकता है। अगर आप खुद को चुनौती देना चाहती हैं तो कुछ प्लैंक वेरिएशन ट्राई करें।

इसे जरूर पढ़ें:बिना जिम जाए अपनी बॉडी को शेप में लाने के लिए घर पर ही ये 5 एक्सरसाइज करें

तो, इन आसान लेकिन प्रभावी एक्‍सरसाइज पर ध्यान दें, जिन्हें आपको अपनी फिटनेस रूटीन में शामिल करना चाहिए। अगर अभी तक आपके पास फिटनेस रूटीन  नहीं है तो अभी से बनाएं। ये आपको बढ़ती उम्र में भी शारीरिक रूप से एक्टिव रहने में मदद करते हैं। हर दिन इन एक्‍सरसाइज को करें और अपनी मसल्‍स को मजबूत करें। जब आप बूढ़ी हो जाएं, तो अपने पोते-पोतियों के साथ उस पुश-अप चुनौती को लें और उन्हें दिखाएं कि आपको क्या मिला है! फिटनेस से जुड़ी ऐसी ही और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।