हल्दी वाला दूध एक ऐसा ड्रिंक है जिसे आयुर्वेद में मानव शरीर को ठीक करने के साधन के रूप में इस्तेमाल किया गया है और इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। यह ब्राइट येलो ड्रिंक गाय के भैंस या प्‍लांट बेस दूध को हल्दी और अन्य मसालों, जैसे दालचीनी और अदरक के साथ गर्म करके बनाया जाता है। 

इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं और अक्सर इम्‍यूनिटी को बढ़ावा देने और बीमारी को दूर करने के लिए वैकल्पिक उपाय के रूप में उपयोग किया जाता है। बदलते मौसम में हल्‍दी का दूध आपकी हेल्‍थ के लिए बहुत फायदेमंद होता है। आइए इसके फायदों के बारे में विस्‍तार से आर्टिकल के माध्‍यम से जानते हैं।

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर

हल्दी में सक्रिय घटक करक्यूमिन, अपने मजबूत एंटीऑक्सीडेंट गुणों के कारण सदियों से आयुर्वेदिक चिकित्सा में उपयोग किया जाता रहा है। एंटीऑक्सीडेंट ऐसे यौगिक होते हैं, जो सेल्‍स डैमेज से लड़ते हैं, आपके शरीर को ऑक्सीडेटिव तनाव से बचाते हैं।

वे आपके सेल्‍स के कामकाज के लिए आवश्यक हैं और अध्ययन इस बात को नियमित रूप से दिखाते हैं कि एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर आहार आपके इंफेक्‍शन और बीमारी के जोखिम को कम करने में मदद कर सकते हैं।

turmeric milk for health

सूजन और जोड़ों के दर्द को कम करने में मददगार

गोल्डन मिल्क की सामग्री में शक्तिशाली एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। क्रोनिक सूजन को कैंसर, मेटाबोलिक सिंड्रोम, अल्जाइमर और हृदय रोग सहित पुरानी बीमारियों में एक प्रमुख भूमिका निभाने के लिए माना जाता है। इस कारण से, एंटी-इंफ्लेमेटरी यौगिकों में समृद्ध आहार इन स्थितियों के आपके जोखिम को कम कर सकते हैं।

इसे जरूर पढ़ें:5 मिनट में बनाएं टेस्‍टी और हेल्‍दी 'हल्‍दी मसाला दूध'

मूड को बनाता है बेहतर

बदलते मौसम में ज्‍यादातर महिलाओं को बहुत नेगेटिव महसूस होता है। यह आपके मूड को बेहतर बनाता है और डिप्रेशन की भावनाओं को कम कर सकता है। ऐसा प्रतीत होता है कि हल्दी, विशेष रूप से इसका सक्रिय यौगिक करक्यूमिन मूड को बढ़ावा दे सकता है और डिप्रेशन के लक्षणों को कम कर सकता है।

benefits of turmeric milk

हृदय रोग से बचाता है

गोल्‍डन मिल्‍क में मुख्य तत्व हल्दी, अदरक और दालचीनी, सभी में ऐसे गुण होते हैं जो हृदय कार्य को लाभ पहुंचा सकते हैं और हृदय रोग से बचा सकते हैं। फिर भी, इन प्रभावों की पुष्टि के लिए और अधिक अध्ययन की आवश्यकता है।

ब्लड शुगर लेवल को करता है कम

गोल्डन मिल्क में मौजूद तत्व, विशेष रूप से अदरक और दालचीनी, ब्‍लड शुगर लेवल को कम करने में मदद कर सकते हैं। इंसुलिन प्रतिरोधी कोशिकाएं आपके ब्‍लड से शुगर लेने में कम सक्षम होती हैं, इसलिए इंसुलिन प्रतिरोध को कम करने से आमतौर पर ब्‍लड शुगर लेवल कम हो जाता है।

Recommended Video

कैंसर के खतरे को करता है कम

कैंसर अनियंत्रित कोशिका वृद्धि द्वारा चिह्नित एक बीमारी है। पारंपरिक उपचारों के अलावा, वैकल्पिक कैंसर रोधी उपचारों की मांग तेजी से बढ़ रही है। दिलचस्प बात यह है कि कुछ शोध बताते हैं कि गोल्‍डन मिल्‍क में इस्तेमाल होने वाले मसाले इस संबंध में कुछ लाभ दे सकते हैं।

turmeric milk health

एंटी-बैक्‍टीरियल, एंटी-वायरल और एंटी-फंगल गुणों से भरपूर   

भारत में, अक्सर सर्दी के खिलाफ घरेलू उपचार के रूप में गोल्‍डन मिल्‍क का उपयोग किया जाता है। वास्तव में, गोल्‍डन ड्रिंक को इसके प्रतिरक्षा-बढ़ाने वाले गुणों के लिए जाना जाता है। 

गोल्डन मिल्क बनाने के लिए जिन सामग्रियों का उपयोग किया जाता है उनमें एंटी-बैक्‍टीरियल और एंटीवायरल गुण होते हैं जो आपके शरीर को इंफेक्‍शनसे बचा सकते हैं। उनके एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण आपके इम्‍यून सिस्‍टम को भी मजबूत कर सकते हैं।

इसे जरूर पढ़ें:रात को सोने से पहले हल्‍दी वाला दूध पीने से बॉडी में आते हैं ये 4 बदलाव

डाइजेशन में करता है सुधार

गोल्‍डन तत्‍व में दो तत्व अदरक और हल्दी, अपच को दूर करने में मदद कर सकते हैं। हल्दी अल्सरेटिव कोलाइटिस वाले लोगों में लक्षणों को दूर करने में भी मदद कर सकती है। 

प्रीति त्यागी, इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंटीग्रेटिव न्यूट्रिशन, न्यूयॉर्क से प्रमाणित स्वास्थ्य कोच और My22bmi की फाउंडर हैं। उन्‍हें विशिष्ट सेवा पुरस्कार और सरकार से सशक्त नारी सम्मान मिला है। इसके अलावा, वह स्मार्ट ग्लोबल सिटी एंटरप्रेन्योर अवार्ड की प्राप्तकर्ता, फोर्टिस एस्कॉर्ट्स के लिए वेलनेस एंबेसडर और सार्वजनिक व्यक्ति और सामाजिक कार्यकर्ता हैं।

इन सभी फायदों के अलावा, हम सभी जानते हैं कि दूध कैल्शियम और विटामिन-डी से भरपूर होता है और महिलाओं के लिए अपनी आहार में शामिल करना, खासकर 30 की उम्र के बाद आवश्यक होता है। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।