जिंदा रहने के लिए खाना बहुत जरूरी है, इसलिए हर कोई दिन में दो से तीन बार खाना खाता है, लेकिन फिर भी अक्‍सर ऐसा क्‍यों होता है कि कोई हेल्‍दी रहता है और कोई बार-बार बीमार होता चला जाता है। आप भी तो दिन में अच्‍छा सा खाने के बाद भी बीमारी रहती हैं तो हो सकता है कि आपका खाना ही आपको बीमार कर रहा है। जी हां हर उम्र में बॉडी को अलग-अलग तरह के पोषणा की जरूरत होती है लेकिन बॉडी को सही पोषण नहीं मिलता है तो बॉडी में कई तरह की बीमारियां होने लगती है। यह सिर्फ शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक परेशानियों का कारण बनता है। पोषक तत्‍वों से न सिर्फ बॉडी मजबूत होती है बल्कि इससे हमारा इम्‍यून सिस्‍टम मजबूत होता है और हमारी बीमारियों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है। इसलिए रोजाना टाइम पर खाने के साथ-साथ डाइट में पोषक तत्‍वों का लेना बहुत जरूरी है यानि यह जानना बहुत जरूरी है कि सही और पर्याप्‍त डाइट ले रही हैं या नहीं।

इसे जरूर पढ़ें: बीमार करने वाली इन 4 आदतों को बदलकर बन जाइए हेल्दी

daily diet health

एक्‍सपर्ट की राय

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नॉलॉजी इंफोर्मेशन (एनसीबीआई) के आंकड़ों के अनुसार पोषण की कमी बड़ों से ज्‍यादा बच्‍चों में पाई जाती हैं और पर्याप्त पोषण के कारण विकासशील देशों में पांच साल से कम उम्र के बच्चों में से 45 प्रतिशत की मौत हो जाती है। किसी के लिए भी इस बात को जानना काफी कठिन होता है कि उसे क्या खाना है और कितना खाना है। संयुक्त राष्ट्र के अनुसार पोषण की कमी के कारण बॉडी कमजोर हो जाती है और इस कारण बीमारियों का हमला होता है और बच्‍चे बीमार रहते हैं।

healthy food for health

बॉडी की जरूरतों के लिए कुछ चीजों को शामिल करें

जयपुर के क्लिनिकल न्यूट्रीशनिस्ट, डाइटिशियन और 'हील यॉर बॉडी' के संस्थापक रजत त्रेहन का कहना है कि बॉडी की जरूरतों को पूरा करने के लिए डेली रूटीन में पर कुछ चीजों को शामिल करना होगा। आइए जानें कौन सी ये चीजें।

  • प्रोटीन हमारे इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूत रखता हैं। डेयरी प्रोडक्‍ट और अंडों में प्रोटीन होता है। इन्हें अपनी डाइट में हर हाल में शामिल करना चाहिए। बीमारी फैलाने वाले कारकों से बचने के लिए विटामिन सी, ई और बीटा-केराटीन की हमें जरूरत होती है और इसी कारण इन्हें अपने भोजन में शामिल करना जरूरी है।
  • रोजाना 4-5 लीटर पानी पीना चाहिए।
  • एनर्जी के लिए ऑलिव ऑयल, मछली, मेवे और फैटी एसिड युक्त भोजन लेना चाहिए।
balance diet health
  • फैट में घुलनशील और पानी में घुलनशील विटामिन, आवश्यक मिनरल  जैसे आयरन, कैल्शियम, और फाइटोकेमिकल्स लेने चाहिए जो हार्ट रोगों, डायबिटीज, कैंसर, अर्थराइटिस, और ऑस्टियोपोरोसिस से सुरक्षा प्रदान करते हैं। साथ ही फल-सब्जियों का एक विविध आहार समावेशी अनाज, फलियां, और फैट फ्री मीट भी जरूरी हैं।
  • इसके अलावा लाइफ के हर स्‍टेज पर पोषण संबंधी जरूरतें बदलती रहती हैं। इसलिए उम्र और समस्‍याओं के लिए हिसाब से फूड्स अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए।
  • इसके अलावा एक्‍सरसाइज करना कभी न भूलें। हफ्ते में 5 दिन कम से कम 30 मिनट एक्‍सरसाइज करना चाहिए।

अगर आप भी हेल्‍दी रहना चाहती हैं तो अपनी डाइट में इन चीजों को जरूर शामिल करें।

Source: IANS