Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    मूली का अधिक सेवन बन सकता है कई परेशानियों की वजह

    अगर आप मूली का अधिक सेवन करते हैं तो इससे आपको कुछ साइड इफेक्ट्स उठाने पड़ सकते हैं।
    author-profile
    • Mitali Jain
    • Editorial
    Updated at - 2022-11-12,09:00 IST
    Next
    Article
    Raddish side effects in hindi

    जब ठंड का मौसम आता है तो लोग कई तरह की सब्जियों का सेवन करना पसंद करते हैं। इन्हीं में से एक है मूली। सर्दियों में मूली के पराठों से लेकर सब्जी भी बनाई जाती है। कुछ लोग इसे ऐसे ही सलाद के रूप में भी खाना पसंद करते हैं। इसके सेवन के कई लाभ हैं। मसलन, यह ब्लड प्रेशर को कम करने के साथ-साथ हार्ट व लीवर आदि का भी ख्याल रखता है। साथ ही, यह एंग्जाइटी को भी कम करने में सहायक है। 

    लेकिन मूली का अगर जरूरत से ज्यादा सेवन किया जाए तो यह सेहत के लिए हानिकारक भी हो सकता है। जी हां, मूली सेहत के लिए अच्छी होती है, लेकिन इसका अधिक सेवन कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं की वजह बन सकता है। तो चलिए आज इस लेख में सेंट्रल गवर्नमेंट हॉस्पिटल के ईएसआईसी अस्पताल की डाइटीशियन रितु पुरी आपको बता रही हैं कि मूली के अधिक सेवन के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं-

    हाइपोथायरायडिज्म की बढ़ती है संभावना

    Hypothyroidism problem

    जब मूली का आवश्यकता से अधिक सेवन किया जाता है तो इससे हाइपोथायरायडिज्म होने की संभावना कई गुना बढ़ जाती है। दरअसल, मूली की ओवर ईटिंग से थॉयराइड ग्लैंड का वजन बढ़ता है और थायरोट्रोपिन स्तर में वृद्धि होती है। इतना ही नहीं, इससे आयोडीन की फंक्शनिंग पर भी असर पड़ता है और व्यक्ति को हाइपोथायरायडिज्म होने के चांसेस अधिक रहते हैं। वहीं, अगर किसी व्यक्ति को पहले से ही हाइपोथायरायडिज्म की समस्या है, तो उसके लिए भी यह परेशानी का कारण बन सकता है।

    इसे भी पढ़ें-सर्दियों में मूली खाने से दूर होती हैं ये 4 परेशानियां, आप भी करें ट्राई

    शरीर हो सकती है डिहाइड्रेट

    यूं तो मूली में काफी पानी होता है, लेकिन जब इसका अधिक मात्रा में सेवन किया जाता है तो इससे शरीर में डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है। दरअसल, यह आपके शरीर में यूरिनेशन की मात्रा को बढ़ा देता है और इस दौरान शरीर से काफी सोडियम भी निकल जाता है। इस तरह आप खुद को अधिक डिहाइड्रेट महसूस करते हैं। इसलिए, यह कहा जाता है कि मूली का सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए।

    हो सकता है बीपी लो

    low blood pressure problem

    मूली का सेवन हाई बीपी पेशेंट के लिए अच्छ माना जाता है। लेकिन अगर कोई व्यक्ति पहले से ही लोग बीपी की समस्या से परेशान है तो उसे मूली का सेवन जरा सोच-समझकर करना चाहिए। दरअसल, मूली में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो बीपी को लो करने में मदद करते हैं। लेकिन जिन लोगों को पहले से ही यह समस्या है, उनके लिए मूली का सेवन करना काफी हानिकारक हो सकता है। इससे आपको एंग्जाइटी, चक्कर आना और घबराहट जैसी स्थिति का सामना करना पड़ सकता है।

    health expert

    हाइपोग्लाइसीमिया की हो सकती है समस्या

    आपको शायद पता ना हो, लेकिन मूली का अधिक सेवन हाइपोग्लाइसीमिया की समस्या का कारण भी बन सकता है। हाइपोग्लाइसीमिया एक ऐसी स्थिति है, जब आपका शुगर लेवल का स्तर सामान्य से नीचे चला जाता है, मसलन, 70 मिलीग्राम/डीएल से कम है तो इसे हाइपोग्लाइसीमिया कहा जाता है।  यह स्थिति काफी खतरनाक है, जो आपके लिए परेशानी का सबब बन सकता है।

    इसे भी पढ़ें-मछली खाना हेल्थ के लिए क्यों है ज़रूरी, आप भी जानें

    तो अब आप भी मूली का सेवन करें, लेकिन इसे अधिक मात्रा में खाने से बचें। साथ ही, अगर आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है तो आप डॉक्टर की सलाह पर ही इसे खाएं।

    इस आर्टिकल के बारे में अपनी राय भी आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकीअपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

    Image Credit- freepik

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।