सर्दियों में ठंड की वजह से लोग घरों से बाहर नहीं निकलते हैं। कंबल में ज्यादा से ज्यादा समय बिताने की वजह से, आलस या फिर सुस्ती हमेशा छाई रहती है। कई लोग इस मौसम में हमेशा एक्सरसाइज स्किप कर देते हैं। इसकी वजह से भी आलस और सुस्ती पूरे दिन बनी रहती है। सर्दियों के मौसम में अक्सर आपको भी इस तरह की परेशानी होती हैं तो जरूरत है अपनी डाइट में कुछ ऐसी चीजों को शामिल करने की, जिससे ना सिर्फ आपको पोषण मिलेगा, बल्कि पूरे दिन तरोताजा भी महसूस करेंगी।

वहीं इस मौसम में लोग खानपान को लेकर अक्सर लापरवाही करते हैं, जिससे वजन भी कम हो जाता है। ऐसे में इन चीजों का सेवन रेगुलर करने से वजन भी बढ़ाया जा सकता है। इसके अलावा ये फूड आइटम्स सर्दियों में खूब पसंद किए जाते हैं। दरअसल, कई लोगों की आदत होती है, उन्हें दोपहर के मील के साथ मीठा खाना पसंद होता है। ऐसे में इन चीजों को रोजाना खाया जा सकता है। इस तरह आप भी रुजुता दिवाकर के इन डाइट टिप्स को फॉलो कर सर्दियों में सुस्ती और आलस को भगा सकती हैं।

चिक्की

chikki

गुड़ और चीनी दोनों तरीके से चिक्की बनाई जाती है। हालांकि, सर्दी में आपको गर्म के साथ सेहतमंद रखने के लिए गुड़ की चिक्की अधिक फायदेमंद होती है। बता दें कि सर्दियों के मौसम में ठंड की वजह से लोगों की फिजिकल एक्टिविटी कम हो जाती है और हमारा मेटाबॉलिक रेट भी कम हो जाता है। इसका सीधा असर हमारी सेहत पर पड़ता है। इस समस्या को दूर करने के लिए जरूरी है कि आप अपने डाइट में न्यूट्रिएंट्स से भरे चीजों को शामिल करें। इसके लिए गुड़ और मूंगफली से बनी चिक्की बेस्ट ऑप्शन है। इसके अलावा यह पाचन से जुड़ी समस्याओं को ठीक करने के लिए भी कारगर है, क्योंकि यह फाइबर से भरपूर होता है।

इसे भी पढ़ें: सर्दियों में डाइट और एक्सरसाइज से ऐसे लाएं त्वचा में रौनक, शहनाज़ हुसैन से जानें टिप्स

गजक

gajak

सर्दियों शुरू होते ही मार्केट में गजक मिलनी शुरू हो जाती हैं। गजक में भी कई वैरायटी होती हैं, लेकिन गुड़ से बनी चीजें, सेहत के लिए बेस्ट मानी जाती है। गजक गुड़ और तिल से बनी होती है, इसके अलावा कुछ लोग इसमें मावा का भी उपयोग करते हैं। यह शरीर को ताकत प्रदान करने का काम करता है और कमजोरी को दूर करता है। तिल और गुड़ से बनी गजक शरीर में मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में मदद करता है। यह सभी चीजें, हेल्दी बॉडी रखने के लिए जरूरी है। साथ ही, इससे आप तरोताजा भी महसूस करेंगी। बता दें कि तिल में प्रोटीन और हेल्दी फैट भरपूर मात्रा में होती हैं, जो रक्तचाप को नियंत्रित करने में भी मदद करता है।

लड्डू

laddo

खाने के बाद मीठे में लड्डू खाना लोग बेहद पसंद करते हैं। हालांकि, सर्दियों में आप आम मिठाई वाले लड्डू की जगह हेल्दी लड्डू का सेवन करें। सर्दियों अलसी के बीज, काले तिल के लड्डू, चने के लड्डू आदि घर में खूब बनाए जाते हैं। सर्दियों में सुस्ती और आलस भगाने के लिए इन लड्डू को अपनी रेगुलर डाइट में शामिल कर सकती हैं। कुछ लड्डू औषधि की तरह काम करते हैं। इस मौसम में सर्दी-जुकाम जैसी समस्याओं से भी भगाने के लिए भी इसका सेवन खूब किया जाता है। तंदुरुस्त और तरोताजा बनाए रखने के लिए दोपहर की डाइट के बाद रोजाना इसका सेवन किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: सर्दियों में क्यों पीना चाहिए सोंठ का पानी? जानें इसके फायदे

Recommended Video

ध्यान रखें ये बात

दोपहर की डाइट में गजक, लड्डू या फिर चिक्की, इन तीनों चीजों में से किसी एक को शामिल कर सकती हैं। रोजाना 1 या 2 खाना काफी है। गर्मियों की तुलना में सर्दियों में भूख ज्यादा लगती है, लेकिन हम इसे नजर अंदाज कर देते हैं, जिसकी वजह से आलस और सुस्ती महसूस होती है। ऐसे में आप अपनी मिल मिल के साथ किसी एक चीज को शामिल कर सकती हैं। 

 रुजुता दिवाकर के इन टिप्स को आप भी फॉलो कर सकती हैं। साथ ही, आपको यह स्टोरी कैसी लगी? हमें कमेंट कर जरूर बताएं और इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हर जिंदगी के साथ।