हमेशा से हम ये बात जानते हैं कि घर में कोई सब्जी बनाते समय उन्हें धोना चाहिए। जब सब्जियां कच्ची होती हैं तभी उन्हें अगर ध्यान से साफ कर लिया जाए तो ये बहुत ही अच्छा माना जाता है। पर अक्सर लोग चिकन, मटन आदि को भी खरीदने के बाद ही कच्चे में धोते हैं। इसे ही सही माना जाता है और ऐसा लगता है कि ये सबसे अच्छा तरीका है। पर क्या आप जानते हैं कि ये काम जो हम अच्छा समझकर करते हैं वो असल में काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है। 

अमेरिकी संस्था सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) की तरफ से एक ट्वीट की गई है जिसमें से बताया था कि पकाने से पहले कच्चे चिकन को धोना स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। ये जितना अच्छा समझ आता है उससे ज्यादा खराब स्थिति पैदा कर सकता है। CDC के मुताबिक इससे न सिर्फ जर्म्स फैलते हैं बल्कि ये जरूरी भी नहीं है। 

आखिर क्यों चिकन को धोना स्वास्थ्य के लिए है हानिकारक?

सीडीसी के अनुसार ये इसलिए खतरनाक है क्योंकि इससे जरूरत से ज्यादा जर्म्स फर्श पर, किचन के अन्य सामान पर, बर्तनों पर फैलते हैं। हो सकता है यहां आपको लगे कि चिकन को बिना धोए कैसे खाया जाए और ये तो गलत है, लेकिन सीडीसी के पास इसका पूरा एक्सप्लेनेशन है। सीडीसी के अनुसार चिकन के जितने भी जर्म्स होते हैं वो इसे पकाने से दूर होते हैं और न कि धोने से। जब भी हम इस तरह के किसी मीट को लेकर आते हैं तो उसमें खाने संबंधित बीमारियां फैलाने वाले जर्म्स होते हैं जो पानी के नीचे जाते ही चिकन से निकलकर बर्तनों में फैलने लगते हैं। 

raw chicken

इसे जरूर पढ़ें- अगर वजन को करना है कम तो रात को सोने से पहले न खाएं ये 5 Foods

 

सीडीसी की मानें तो कच्चा मांस धोना नुकसान ही करेगा। उतना ही नुकसान जितना कच्चा मांस खाने से होता है। घर पर हम जब भी कोई पॉल्ट्री प्रोडक्ट लेकर आते हैं तो उसे धोने के बारे में सोचते हैं, लेकिन हम ये कभी नहीं सोचते कि उसकी सतह पर मौजूद जर्म्स यकीनन हमारे शरीर के लिए भी हानिकारक साबित हो सकते हैं। चिकन, अंडे, मछली, मटन आदि कुछ भी पकाते समय हम यही करते हैं और उसे पहले सीधे पानी के नीचे रख देते हैं। ये किसी बर्तन, सिंक आदि के ऊपर रखा होता है और ऐसे में जर्म्स उसी सरफेस पर आ जाते हैं।  

Recommended Video

कच्चे चिकन में होते हैं ये बैक्टीरिया- 

सीडीसी के अनुसार कच्चे चिकन में कई बार सैल्मोनेलिया, क्लोस्ट्रिडियम पर्फ्रिजेन्स, कैंपीलोबैक्ट (Salmonella, Clostridium perfringens, Campylobacter) जैसे बैक्टीरिया होते हैं। अगर आप अधपका चिकन खाएंगे तो ये न सिर्फ शरीर को नुकसान पहुंचाएगा बल्कि ये जिस भी बर्तन, सरफेस, फल-सब्जियों के आस-पास रखा होगा ये उसे खतरनाक बनाएगा। इससे आपको कई बीमारियां लग सकती हैं और सबसे कॉमन है फूड पॉइजनिंग।  

इसे जरूर पढ़ें- स्वाद ही नहीं सेहत के लिए भी है बहुत अच्छी, जानिए कश्मीरी गुलाबी चाय के फायदे 

चिकन, मटन, मछली आदि बनाते समय रखें इन बातों का ध्यान- 

- सभी चीज़ों को बहुत ही अच्छे से पकाएं। ये अगर ज़रा भी कच्चा रह जाता है तो ये नुकसानदायक होगा। 

- जिस चाकू, चम्मच आदि से चिकन काटने और खाने वाले हैं उसे भी अच्छे से धोएं। साथ ही अगर उस चाकू को कुछ अन्य सब्जियों को काटने के लिए इस्तेमाल करने वाले हैं तो धोकर ही करें। 

- जिस बर्तन, सरफेस आदि में पहले हमने कच्चा चिकन रखा था उसमें पका हुआ खाना, फल, सब्जियां, ब्रेड आदि न रखें। पहले उसे अच्छे से साफ करना बहुत जरूरी होगा। 

- कच्चा मांस काटने के बाद आप अपने हाथ अच्छे से साबुन से धो लें और जिस बर्तन में उसे रखा था उसे भी अच्छी तरह से धो लें।  

ये सभी सावधानियां आपको स्वस्थ जीवन जीने में मदद कर सकती हैं। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। साथ ही ऐसी अन्य स्टोरीज पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।