प्रोटीन हमारे शरीर के आवश्यक पोषक तत्वों में से एक है और इसकी आपूर्ति के लिए हम कई तरह के फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करते हैं। इसी लिस्ट में सोया फूड्स का नाम प्रमुखता से लिया जाता है। टोफू, सोया दूध, एडामे, सोया नगेट्स आदि सोया फूड पूरी दुनिया में काफी लोकप्रिय हो रहे हैं। खासतौर से, अगर आप वेजिटेरियन हैं तो ऐसे में अपनी डाइट में प्रोटीन की प्रचुरता के लिए आप सोया फूड का सेवन कर सकते हैं। प्लांट बेस्ड डाइट में सोया को चिकन और मांस के लिए एक आदर्श विकल्प माना जाता है। इतना ही नहीं, अगर आप लैक्टोज इनटॉलरेंस हैं वे आप सोया मिल्क का सेवन करके कैल्शियम व प्रोटीन प्राप्त कर सकते हैं। वैसे सोया फूड का सेवन सिर्फ प्रोटीन की कमी को दूर करने के लिए ही नहीं किया जाता, बल्कि इससे आपकी सेहत को अन्य भी कई लाभ प्राप्त होते हैं। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको सोया फूड से मिलने वाले कुछ बेमिसाल फायदों के बारे में बता रहे हैं, जिसे जानने के बाद आप भी यकीनन सोया फूड को अपनी डेली डाइट में शामिल करना चाहेंगी-

सोया फूड में उच्च मात्रा में होता है फाइबर 

inside  fiber protien

फाइबर पाचन तंत्र के लिए बेहद अच्छा माना जाता है। यह बाउल मूवमेंट को बेहतर बनाकर कब्ज आदि पेट की समस्याओं को दूर रखता है। साथ ही यह गट हेल्थ का भी ख्याल रखता है। इस लिहाज से आपको सोया फूड प्रॉडक्ट्स को अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए, क्योंकि इनमें फाइबर उच्च मात्रा में पाया जाता है। साथ ही इसका सेवन करने से शरीर में ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को मैनेज करने में भी मदद मिलती है।

सोया फूड में कम होता है सैचुरेटिड फैट

inside  fiber food

यह भी एक कारण है जिसकी वजह से सोया फूड को डाइट में शामिल करने की सलाह दी जाती है। दरअसल, सोया फूड सैचुरेटिड फूड में लो होते हैं। इस तरह अगर आप हेल्दी तरीके से अपने वजन को मेंटेन रखना चाहती हैं तो सोया फूड का सेवन कर सकती हैं।

सोया फूड है प्रोटीन का पावरहाउस

inside  soya protien

प्रोटीन शरीर के लिए एक आवश्यक पोषक तत्व माना जाता है। यह मांसपेशियों और ताकत को बढ़ाने, भूख को कम करने और हड्डियों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने और बहुत कुछ करने में मदद करता है। ऐसे में प्रोटीन का पर्याप्त मात्रा में सेवन करने के लिए सोया फूड का सेवन करना बेहद आवश्यक है, क्योंकि वेजिटेरियन लोगों के लिए सोया फूड प्रोटीन का पावरहाउस माना जाता है।

इसे ज़रूर पढ़ें- Expert Tips: खाने की इन 10 चीज़ों से हो सकती है एलर्जी, डाइट में शामिल करते समय ध्यान रखें ये बातें

वे ओमेगा -3 फैटी एसिड का एक बड़ा स्रोत हैं

inside  soya food

सोया फूड प्रॉडक्ट्स ओमेगा -3 फैटी एसिड का एक बेहतरीन स्त्रोत माने जाते हैं। यह हृदय जोखिम को कम करने और रक्तचाप के स्तर को प्रबंधित करने में मदद कर सकता है। वेजिटेरियर फूड में ऐसे कम ही प्रॉडक्ट होते हैं, जिनमें ओमेगा -3 फैटी एसिड की प्रचुरता हो। इस लिहाज से भी सोया फूड को डाइट में शामिल करना अंत्यत आवश्यक है।

Recommended Video

पोषक तत्वों का खजाना

inside  food of soya

सोया फूड का सेवन करने से सिर्फ प्रोटीन या फाइबर आदि ही प्राप्त नहीं होता। बल्कि यह तो कई तरह के पोषक तत्वों का खजाना है। मसलन, सोयाबीन में विटामिन K1, फोलेट, कॉपर, मैंगनीज, फास्फोरस और थायमिन सहित कई विटामिन और खनिज पाए जाते हैं।  विभिन्न पोषक तत्वों की अधिकता के कारण यह ओवर ऑल हेल्थ पर सकारात्मक असर डालते हैं।

इसे ज़रूर पढ़ें- Expert Tips: जानें धनिया पाउडर के सेहत से जुड़े ऐसे फायदे जो आपने पहले नहीं सुने होंगे

कैंसर की रोकथाम में कारगर

inside  soya benefit

सोया प्रॉडक्ट्स में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट और प्रोटीन कैंसर कोशिकाओं से लड़ने और ट्यूमर कोशिकाओं के विकास को रोकने के लिए बेहतरीन तरीके से काम करता है। फ्री रेडिकल्स में स्वस्थ कोशिकाओं को कैंसर कोशिकाओं में बदलने की क्षमता होती है। अमेरिकन इंस्टीट्यूट ऑफ कैंसर में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, एडमैम और सोया प्रॉडक्ट्स के नियमित सेवन से स्तन कैंसर के रोगियों को अच्छी तरह से स्वस्थ होने में मदद मिली है। इसके अलावा, सोयाबीन भी आहार फाइबर का एक अच्छा स्रोत है जो कोलोरेक्टल और कोलन कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए जुड़ा हुआ है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- Freepik