स्ट्रेस हमसे कई सारी चीज़ें करवा लेता है और ये कुछ इस तरह की समस्या है जो किसी को कभी भी हो सकती है। स्ट्रेस के कारण ऐसा होता है कि आप बहुत सारी ऐसी चीज़ें शुरू कर दें जो आपके लिए सही नहीं हैं, उदाहरण के तौर पर कई बार ऐसा होता है कि आप स्ट्रेस के कारण नाखून चबाना शुरू कर देते हैं, कई बार स्ट्रेस के कारण खाना ही ज्यादा शुरू हो जाता है। पर अगर ये सब शादी से पहले हो तो क्या होता है?

दरअसल, कई बार देखा गया है कि लड़कियां अपनी शादी से पहले ही ज्यादा खाना शुरू कर देती हैं। ये वेडिंग प्लानिंग के स्ट्रेस के कारण होता है और कई बार ये एंग्जाइटी ईटिंग इतनी बढ़ जाती है कि कई महिलाएं अपना वजन बढ़ा हुआ पाती हैं। ये सिर्फ ब्राइड्स के लिए नहीं होता बल्कि दूल्हे के लिए भी इस तरह की चीजें असर डालती हैं।

मिस इंडिया कंटेस्टेंट्स को ट्रेनिंग देने वाली एक्सपर्ट डायटीशियन अंजली मुखर्जी ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इस समस्या से निजात पाने के कुछ तरीके शेयर किए हैं। अंजली लगभग 20 सालों से इसी फील्ड में काम कर रही हैं और वो डाइट टिप्स एक्सपर्ट भी हैं।

stress eating before wedding

इसे जरूर पढ़ें- आपके किचन में मौजूद ये चीज़ें कर सकती हैं फैट कम करने में मदद, एक्सपर्ट से जानिए टिप्स

क्या है स्ट्रेस ईटिंग?

यहां स्ट्रेस ईटिंग का मतलब सीधे तौर पर बिना भूख के खाने से है। इसका ताल्लुक कार्ब्स से भी है जहां आप शरीर की जरूरत से ज्यादा कार्ब्स खाने लगते हैं और इसका कारण ही ये है कि हमारा शरीर हमें इस तरह की क्रेविंग्स की याद दिलाता है जो हमेशा शक्कर, ग्लूटेन या फिर अन्य कार्ब्स खाने से पूरी होती है। एक रिसर्च ये भी बताती है कि शक्कर खाने से बहुत कम मात्रा में दिमाग में कुछ ऐसे हार्मोन बनते हैं जैसे कोकीन लेने पर बनते हैं।

stress eating problems

ये किसी ड्रग की तरह होता है और हमारा शरीर इसे ही कंफर्ट फूड के तौर पर समझने लगता है। यही कारण है कि हमारे वजन पर भी इस तरह का असर होता है। कई बार ऐसा होता है कि आप उन्हीं चीज़ों को ज्यादा खाने लगते हैं जो आपने कंफर्ट फूड्स के तौर पर सोच ली हैं, उदाहरण के तौर पर-

  • आप रोटी ज्यादा खाते हैं
  • शक्कर से बनी चीज़ों का सेवन ज्यादा करते हैं
  • चावल की मात्रा बढ़ा देते हैं
  • ब्रेड और मक्खन या सैंडविच आदि का सेवन ज्यादा हो जाता है 

ऐसे समस्या से बचने के लिए क्या करें? 

अंजली जी के मुताबिक इस क्रेविंग की समस्या से बचने के लिए भी आप कुछ खास टिप्स आजमा सकते हैं। इसे कम करने के लिए सबसे अच्छा तरीका साबित हो सकता है कि आप अपना प्रोटीन इंटेक बढ़ा लें। 

  • ब्रेकफास्ट में अंडे खाएं
  • प्रोटीन से भरी हुई चीज़ों का सेवन करें
  • अगर क्विक स्नैक खाने का मन कर रहा है तो भी प्रोटीन से भरा स्नैक खाएं
  • अगर आपको ठीक लगे तो अपने साथ वेडिंग शॉपिंग आदि के समय नट्स, फ्रूट्स, प्रोटीन बार आदि लेकर चलें। 
 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Anjali Mukerjee (@anjalimukerjee)

 

इसे जरूर पढ़ें- सर्दियों में बढ़ता है कई किलो वजन तो न करें ये 5 काम 

क्या है इसके पीछे का कारण? 

दरअसल, हमारे शरीर में एक्स्ट्रा क्रेविंग्स ब्लड शुगर के ऊपर-नीचे होने के कारण भी होती हैं। ब्लड शुगर का लेवल स्ट्रेस को और भी ज्यादा बढ़ावा देता है। अगर आपकी डाइट में सही मात्रा में प्रोटीन रहेगा तो आपका शरीर क्रेविंग्स पर बेहतर तरीके से कंट्रोल करेगा। 

Recommended Video

आपकी जिंदगी का सबसे बेहतर दिन अगर स्ट्रेस की वजह से खराब हो रहा है तो ये छोटी सी ट्रिक आपकी बहुत मदद कर सकती है। अगर आपको स्ट्रेस ईटिंग की समस्या हो रही है तो आप अपनी डाइट में प्रोटीन बढ़ाएं। अगर आपको डाइट से लेकर कोई समस्या है तो पहले डॉक्टर से संपर्क कर लें। 

अपनी डाइट में कोई भी बड़ा बदलाव करने से पहले एक्सपर्ट से बात करना सही साबित हो सकता है। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।