त्योहारों का सीजन शुरू हो चुका है और ऐसे में लोगों का स्वीट्स, और खाने-पीने में काफी जोर रहेगा। इसके साथ ही कुछ लोगों को यह डर होता है कि ज्य़ादा खा लेने से वह ब्लोटिंग, मोटापा और अन्य परेशानियों से ग्रस्त हो सकता है। मगर सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर इसका भी तोड़ लेकर आई हैं। रुजुता कहती हैं, 'लोगों को लगता है कि अगर हमने फेस्टिवल में ज्यादा एन्जॉय किया तो भगवान हमें मोटापे, ब्लोटिंग और एसिडिटी आदि के साथ-साथ बाकी चीजों से पनिश करेगा।'

वह आगे कहती हैं कि हम इसलिए दिवाली मनाते हैं, ताकि सबसे अंधकार वाले समय में एक दीये से उजाला ही उजाला हो जाए। बस इसी कारण हमने हैशटैग फियरलेस फेस्टिलवल निकाला है और हम इस सीरीज के साथ हम लोगों को हमारे ट्रेडिशन, कुजीन, कल्चर के बारे में बताएंगे।' इस फेस्टिवल फियरलेस सीरिज में आज से रोजाना शाम 4 बजे फेस्टिवल के डाइट्स के बारे में विस्तार से बताएंगी। इंस्टाग्राम लाइव पर उन्होंने अपनी पहली सीरीज 'प्लानिंग मील्स- लेट नाइट्स, स्वीट्स, फ्राइड' में बताया कि कैसे हमें त्योहारों के सीजन में खाना चाहिए। आइए इस आर्टिकल में आगे जानें रुजुता दिवेकर ने और क्या-क्या बताया।

लेट नाइट में कैसे करें मील प्लान

paln your late night meals

रुजुता कहती हैं, 'अगर आप एक आधा दिन लेट नाइट कुछ खा रहे हैं, तो उससे आपको घबराने की जरूरत नहीं है। अगर सेलिब्रिशेन के समय में कुछ 7-8 लेट नाइट डाइट्स की वजह से आप सो नहीं पा रहे हैं, तो आपको अपनी स्लीप साइकल पूरे साल भर के लिए ठीक करनी होगी।' वह आगे कहती हैं कि आपको पूरे साल भर की लेट नाइट्स को नियमित करना है।

चिंता में ज्यादा न खाएं

रुजुता कहती हैं कि जब हम इस टेंशन में रहते हैं कि हम क्या खाएं और क्या नहीं तो ऐसे में हम ज्यादा खाते हैं। ऐसे में अगर दिनभर कम खाते हैं, तो आप रात को ज्यादा खाएंगे। वैसे ही अगर आप ज्यादा एक्सरसाइज करेंगे, तो रात को ज्यादा खाएंगे और फिर इस ओवरईटिंग की वजह से आप ब्लोटिंग, एसिडिटी के शिकार होंगे। इसलिए बिना सोचे और चिंता किए जैसा आप नॉर्मली खाना खाते हैं, वैसे ही अपनी मील्स लें।

इसे भी पढ़ें :रुजुता दिवेकर की इस खास डाइट से मिलेगी ग्लोइंग स्किन और शाइनी हेयर

लेट नाइट में क्या करें और क्या न करें

केला खाएं- अगर आप लेट नाइट डिनर करने जा रहे हैं, तो आपको केला खाना चाहिए।

दही चावल खाएं- वहीं अगर आप बाहर जाकर कुछ हैवी खाने का प्लान कर रहे हैं, तो ऐसे में दही चावल खाएं।

1 या 2 स्टाटर खाएं- रुजुता कहती हैं कि जब आप बाहर जाएं, तो कोशिश करें कि बहुत ज्यादा स्टाटर से अपना पेट न भरें। इससे आपको समस्या हो सकती है। स्टाटर खाएं, मगर एक या दो स्टाटर को लेट नाइट में खा सकते हैं।

एक कुजीन को ट्राई करें- जब आप बुफे जाते हैं, या बाहर खाना खाने जा रहे हैं, तो बहुत सारी कुजीन को ट्राई करने की बजाय एक कुजीन खाएं और उसके भी 1 या दो आइटम ट्राई करने चाहिए।

डेजर्ट को ऐसे करें शामिल- अब मीठा जरूर खाएं, मगर उसे कैसे खाना है यह भी ध्यान रखें। ऐसे डेजर्ट को चुनें, जो विशेश तौर पर दिवाली या फेस्टिव सीजन के लिए बनाई गई हो। अगर आप किसी के घर जाकर डेजर्ट खा रहे हैं, तो घर पर बनी मिठाई या डेजर्ट खाएं। 

बाहर से खाना खाने के बाद आने पर फॉलो करें ये टिप्स

रुजुता कहती हैं कि जब आप बाहर से एन्जॉय करके आ जाएं, तो फिर परेशान होने की जरूरत नहीं है। बस कुछ टिप्स को फॉलो करें।

पैरों पर घी लगाएं- घी एसिडिटी और ब्लोटिंग की समस्या को कम करता है और आपको अच्छी नींद देने में मदद करता है। इसलिए बाहर से लौटने के बाद सोने से पहले अपने पैरों में घी जरूर लगाएं।

गर्म पानी पिएं- घर आकर गर्म पानी जरूर पीएं। इससे आपके वोकल कॉर्ड्स को आराम मिलेगा।

फोन पर न लगें- रुजुता आगे कहती हैं कि घर आकर अपने फोन पर बिल्कुल भी न लगें। इससे अच्छा आपको टाइम पर सो जाने की कोशिश करनी है।

ऐसे करें स्वीट्स को मील में शामिल

how to eat sweets in diwali

रुजुता कहती हैं कि फेस्टिव सीजन में अपनी 3 पारंपरिक मिठाई बनाएं और उन्हें त्योहार में शामिल करें। हमारी मिठाई में ज्वार, नट्स, सीड्स और तमाम पोषक तत्व होते हैं, जो आपको स्वस्थ रखने में मदद करेंगे। इसी तरह अगर आप लड्डू जैसा स्वीट खा रहे हैं तो उसे सुबह के समय में खाएं। अगर आप खीर खा रहे हैं, तो उसे अपने लंच और डिनर में अपनी डाइट में शामिल करें। इस तरह दिवाली के मौके पर हर दिन एक स्वीट अपनी डाइट में शामिल करने से आपकी हेल्थ पर बहुत ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचेगा। 

इसे भी पढ़ें :वेट लॉस और हेल्थ के लिए जरूरी हैं ये 3 फूड, सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता से जानें

फ्राइड आइटम को करें डाइट में शामिल

how to eat fried dishes in festive season

फ्राइड आइटम खा रहे हैं या बना रहे हैं, तो उसे डीप फ्राई करें और बस इतना ध्यान रखें कि इस डीप फ्राई ऑयल को फिर से इस्तेमाल न करें। हालांकि अगर आप घर पर बने घी का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो फिर उसे दोबारा इस्तेमाल किया जा सकता है। रुजुता आगे बताती हैं कि डीप फ्राई इसिलए खाना चाहिए क्योंकि इससे आपको संतुष्टि मिलती है। आपको शुगर क्रेविंग नहीं होती है और अगर आप एयर फ्राइड आइटम्स खाते हैं, तो आपको लगता है कि यह हेल्दी है और आप उसे ज्यादा से ज्यादा खा लेते हैं, जो एक तरह से गलत है। 

रुजुता कहती हैं कि फेस्टिव सीजन में आपको सभी चीजें खानी चाहिए। बस अपने खाने का पोर्शन का ध्यान रखना जरूरी है और इन टिप्स को फॉलो करके आप बिना चिंता किए फेस्टिवल सीजन को एन्जॉय कर सकते हैं।

रुजुता दिवेकर की बात सुनकर आपको भी अब फेस्टिव सीजन में खाने-पीने की चिंता को छोड़ देना चाहिए। फेस्टिव सीजन को एन्जॉय करो और इस लेख को लाइक और शेयर करें। आहार व पोषण से जुड़े ऐसे आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।

Image Credit: freepik and instagram