Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    रात में खाएंगी ये 6 चीजें तो हो जाएंगी बीमार

    अगर आप भी हेल्‍थ से जुड़ी कई परेशानियों से दूर रहना चाहती हैं तो रात में कुछ चीजों को खाने से बचें। 
    author-profile
    Updated at - 2022-12-08,13:00 IST
    Next
    Article
    foods to avoid at night by expert

    क्या हम सभी ने यह नहीं सुना? 'रात का खाना बहुत हल्का खाना चाहिए', 'बिस्तर पर जाने से कुछ घंटे पहले खाना चाहिए', 'रात का खाना कभी नहीं छोड़ना चाहिए।' जी हां, हम सभी ने ये कई बार सुना है। लेकिन हम इसे कम ही फॉलो करते हैं। 

    हम सभी जानते हैं कि कुछ ऐसे फूड्स हैं जिन्हें आपको सुबह नहीं खाना चाहिए, लेकिन जब रात के खाने की बात आती है तो कई लोग इसके बारे में ज्यादा नहीं सोचते हैं। ऐसे कई फूड्स हैं जिन्हें डिनर में खाने से वजन कम करने या रात को अच्छी नींद लेने में परेशानी हो सकती हैं।

    जी हां, जहां एक हेल्‍दी ब्रेकफास्‍ट करना अच्‍छा विचार है, वहीं एक हेल्‍दी रात का खाना भी एक महत्वपूर्ण पहलू है, खासकर उन लोगों के लिए जो वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं।

    हमारा शरीर विभिन्न प्रकार के फूड्स के प्रति अलग तरह से प्रतिक्रिया करता है और यह डाइजेशन, शरीर के वजन और नींद को प्रभावित कर सकता है। इसके अलावा, रात में खाना पचने में समय लेता है। इसलिए आप अपने डिनर में क्या शामिल करते हैं यह मायने रखता है।

    दरअसल, कुछ लोग ऐसे होते हैं जिन्हें गैस, एसिडिटी, एसिड रिफ्लक्स, सीने में जलन, नींद में गड़बड़ी, वजन बढ़ना आदि जैसी समस्याएं होती हैं और उनके लिए समय पर खाना खाने के साथ ही कुछ ऐसी चीजों से परहेज  करना भी जरूरी है जो समस्‍या को बढ़ा सकते हैं। हमें रात को किन फूड्स को खाने से बचना चाहिए? इसकी जानकारी आयुर्वेदिक एक्‍सपर्ट जीतूंचदन जी अपने इंस्‍टाग्राम के माध्‍यम से शेयर की है।   

    उन्‍होंने कैप्‍शन में लिखा, 'रात का भोजन एक ऐसी चीज है जिसके बारे में आपको सावधान रहने की आवश्यकता है। अन्यथा यह कफ को बढ़ा देगा और सुबह नाक बहना, खांसी और जुकाम, एलर्जी, अत्यधिक वजन बढ़ना, अपच आदि जैसी जटिलताएं पैदा करेगा। समय के साथ यह टॉक्सिक संचय का कारण बनेगा और लक्षणों को और खराब करेगा।' 

    इसे जरूर पढ़ें: इन खाद्य पदार्थ का रात में बिल्कुल न करें सेवन, फायदे की जगह होगा नुकसान

    दही

    avoid curd in dinner

    दही का नाम हेल्‍दी फूड की लिस्‍ट में सबसे ऊपर आता है। दही अच्छे बैक्टीरिया का एक उत्कृष्ट स्रोत है और डाइजेशन में मदद करता है। यह आपके दांतों और हड्डियों के लिए अच्छा होता है। लेकिन रात के समय दही का सेवन न करें, खासकर अगर आपको खांसी और जुकाम होने की संभावना हो। 

    आयुर्वेद बताता है कि रात में दही का सेवन अच्छा नहीं होता है क्योंकि इससे बलगम बनती है। लेकिन अगर आप इसके बिना नहीं रह सकते हैं, तो इसके बजाय छाछ का विकल्प चुनें।

    कच्चा सलाद

    अक्सर जब हम देर शाम को खाना चाहते हैं तो हम ताजी सब्जियों का सलाद चुनते हैं क्‍योंकि इसे स्वास्थ्यवर्धक माना जाता है। लेकिन क्या सच में ऐसा है? तो हम आपको बता दें कि ऐसा बिल्‍कुल भी नहीं है। 

    इसका कारण यह है कि डाइजेस्टिव सिस्‍टम की एक विशेष लय होती है। डाइजेशन सुबह में अधिक एक्टिव होता है और शाम को धीमा होता है। यह याद रखना चाहिए कि कच्चे भोजन को संसाधित करना अधिक कठिन होता है और इसमें उस पर ज्‍यादा एनर्जी खर्च होती है।

    फल

    avoid fruits in dinner

    सोते समय फल का सेवन करने से कैलोरी और चीनी ज्‍यादा हो जाती है। सोने से पहले इसे खाने से पेट खराब हो सकता है और नींद बाधित हो सकती है, जिससे उन्हें अगले दिन थकान महसूस होती है। यदि कोई एसिड रिफ्लक्स से पीड़ित है तो बिस्तर पर लेटने से पहले फल खाने से बहुत ज्‍यादा नुकसान हो सकता है। संतरे और पाइनएप्‍पल जैसे सभी खट्टे फल अक्सर एसिड रिफ्लक्स वाले लोगों के लिए समस्याग्रस्त होते हैं और सोते समय इससे बचना चाहिए।

    चॉकलेट

    हम में से ज्यादातर लोग चॉकलेट पसंद करते हैं, है ना? साथ ही इस बात पर विश्‍वास करना चाहते हैं कि चॉकलेट दुनिया की सभी समस्याओं को हल कर सकती है। इसे खाने की इच्छा विशेष रूप से रात में उठती है और अधिकांश लोग सोने से पहले इसका सेवन करने के दोषी हैं। हानिरहित लगता है, है ना? खैर, दुखद खबर यह बिल्कुल विपरीत है क्योंकि सोने से पहले चॉकलेट वास्तव में आपकी नींद में खलल डाल सकती है।

    रात में चॉकलेट खाने से बचें क्योंकि इससे दांतों की समस्या हो सकती है। इसके अलावा, चॉकलेट में थोड़ी मात्रा में कैफीन होता है जिसके परिणामस्वरूप नींद में परेशानी या कठिनाई होती है।

    नॉन-वेजिटेरियन और पचने में भारी भोजन

    avoid red meat in dinner

    यह प्‍लांट बेस प्रोटीन से भरपूर होते हैं जो डाइजेशन के लिए बहुत अधिक एनर्जी लेते हैं और इस प्रक्रिया को लंबा करने से आपकी नींद का समय अस्त-व्यस्त हो सकता है।

    इस प्रोटीन में अमीनो एसिड-टायरोसिन होता है जो ब्रे की एक्टिविटी को बढ़ावा देता है। यदि आप उन्हें मसालों के साथ मिलाते हैं, तो यह आपके मेटाबॉलिज्‍म को बढ़ावा देगा और शरीर के लिए एक वेक-अप कॉल के रूप में काम करेगा, जिससे सोना मुश्किल हो जाएगा।

    Recommended Video

    जमे हुए और ठंडे फूड्स

    आइसक्रीम सभी का फेवरेट डेजर्ट है जिसे हम आमतौर पर सोने से पहले खाना पसंद करते हैं। आइसक्रीम से भरा बाउल आपको लुभा सकता है लेकिन इसमें मौजूद चीनी बाद में आपकी नींद में बाधा डाल सकती है। इसमें बहुत अधिक फैट होता है और यहां तक कि कम वसा वाली आइसक्रीम में भी चीनी अधिक हो सकती है जिसे डाइजेस्‍ट करने में समय लग सकता है।

    इसे जरूर पढ़ें: लड़कियां रात 8 बजे के बाद इन चीजों का करें सेवन, नहीं होगा फिगर खराब

    इसलिए आपका शरीर तब तक आराम नहीं कर पाता जब तक वह खाना पचा रहा होता है। कैंडी बार, आइस क्रीम, केक, आदि सभी आधी रात की क्रेविंग के लिए बिल्कुल सही नहीं हैं।

    अगर आप भी इन चीजों का सेवन रात में करती हैं तो इनसे बचें। इस आर्टिकल को शेयर और लाइक जरूर करें। साथ ही आर्टिकल के अंत में आ रहे कमेंट सेक्‍शन में कमेंट करके जरूर बताएं। डाइट से जुड़े ऐसे ही और आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

    Image Credit: Freepik 

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।