हार्मोनल असंतुलन आपके पूरे स्वास्थ्य को महत्वपूर्ण रूप से प्रभावित कर सकता है। मुख्य रूप से बढ़ती उम्र के साथ हार्मोन्स में बदलाव देखे जा सकते हैं लेकिन वास्तव में इनके असंतुलन से उम्र का ज्यादा सम्बन्ध नहीं है बचपन से किशोरावस्था में प्रवेश करने से लेकर आगे चलकर प्रेग्नेंसी और मेनोपॉज़ की अवस्था में मुख्य रूप से हार्मोन्स में बदलाव देखे जाते हैं। जब आपके रक्तप्रवाह में बहुत अधिक या बहुत कम हार्मोन होता है, तो यह हार्मोनल असंतुलन के विकास की ओर ले जाता है। 

हार्मोन शरीर के कामकाज में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसलिए, मामूली हार्मोनल असंतुलन भी स्वास्थ्य में गिरावट का कारण बन सकता है। ऐसे में डाइट स्पेशलिष्ट कुछ खाद्य सामग्रियों को अपने आहार में शामिल करने की सलाह देते हैं जिसे हार्मोन के असंतुलन को नियंत्रित किया जा सके। आइए फैट टू स्लिम ग्रुप की सेलिब्रिटी इंटरनेशनल डाइटीशियन और न्यूट्रिशनिष्ट शिखा ए शर्मा से जानें कौन से हैं वो खाद्य पदार्थ जिनसे हार्मोन्स का असंतुलन कम किया जा सकता है। 

हार्मोनल असंतुलन का प्रभाव

महत्वपूर्ण शारीरिक प्रक्रियाओं को संचालित करने के लिए हार्मोन मुख्य रूप से अनिवार्य हैं। हार्मोन चयापचय, हृदय गति, नींद चक्र, प्रजनन चक्र, सामान्य वृद्धि, शारीरिक विकास, तनाव स्तर और शरीर के तापमान को नियंत्रित रखने में सहायता करते हैं। इसलिए, एक हार्मोनल असंतुलन से पीड़ित होने पर अक्सर जोड़ों में दर्द, थकान, उच्च रक्तचाप, सिरदर्द और ऐसे कई स्वास्थ्य संबंधी लक्षण देखे जा सकते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:अगर विटामिन-डी लेवल हो रहा है कम तो इन चीज़ों को बिल्कुल ना करें इग्नोर

हार्मोनल बदलाव को कंट्रोल करने के लिए इन फूड्स को करें शामिल 

बादाम

almond for harmones

बादाम रक्त शर्करा के स्तर के नियमन में सहायक के रूप में कार्य करता है। लंबी अवधि में, यह टाइप 2 मधुमेह के विकास के जोखिम को कम कर सकता है। यह शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी मदद करते हैं। हालांकि, यदि आप वजन नियंत्रित करने के बारे में सोच रही हैं तो आपको बादाम का सेवन कम मात्रा में ही करने की आवश्यकता है क्योंकि वे कैलोरी में उच्च हैं।

एवोकाडो

एवोकैडो दुनिया के सबसे स्वादिष्ट फलों में से एक है। यह फल वसा और फाइबर में समृद्ध है। एवोकैडो एस्ट्रोजन के अवशोषण को कम करता है और टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है। यह हृदय स्वास्थ्य में भी सुधार करता है। रोजाना एक चौथाई एवोकाडो खाना आपकी सेहत के लिए फायदेमंद हो सकता है। एवोकाडो का सेवन आपको शारीरिक और मानसिक रूप से हर तरह से स्वस्थ रखने में मदद करता है। 

इसे जरूर पढ़ें:Expert Tips: जानें खाली पेट दही खाने के फायदों के बारे में

ब्रोकोली

broccoli use harmones

ब्रोकोली का हमारे हार्मोन संतुलन पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ता है। ब्रोकली का एक अन्य महत्वपूर्ण तत्व सल्फोराफेन है। सल्फोराफेन का कैंसर और अन्य बीमारियों के इलाज में प्रभावकारिता के लिए जाना जाता है। यह फैटी लिवर की बीमारी में भी मदद करता है और लिवर डिटॉक्सीफिकेशन को बढ़ाता है, जो एस्ट्रोजन को मेटाबोलाइज करने के लिए महत्वपूर्ण है। ब्रोकोली पोटेशियम, कैल्शियम और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्व भी प्रदान करता है। ये कुछ महत्वपूर्ण खनिज हैं जो मांसपेशियों की कार्यक्षमता में सुधार करते हैं और हड्डियों को मजबूत करते हैं। 

सेब

सेब क्वेरसेटिन का एक समृद्ध स्रोत है, एक एंटीऑक्सिडेंट जो शरीर में सूजन को कम करता है। यह फल उच्च रक्तचाप से लड़ने में मदद करता है, कैंसर के खतरे को कम करता है और वायरल संक्रमण को दूर रखता है। यह वजन घटाने के लिए एकदम सही फल है क्योंकि यह कैलोरी में कम और फाइबर से भरपूर होने के साथ-साथ शरीर को पोषण प्रदान करता है। इसका उचित इस्तेमाल शरीर में हार्मोन्स के असंतुलन को नियंत्रित करने में मदद करता है। 

अलसी

alsi use harmones

अलसी को अपने दैनिक आहार में शामिल करना आपके स्वास्थ्य के लिए चमत्कार कर सकता है। यह एंटीऑक्सिडेंट, फाइबर और स्वस्थ वसा में बहुत समृद्ध है। अलसी एक स्वस्थ आहार के रूप  में जाना जाता है क्योंकि यह भारी मात्रा में पोषक तत्वों और आवश्यक फैटी एसिड से भरा होता है। वास्तव में, पिसी हुई अलसी का पाउडर के रूप में इस्तेमाल आपके हार्मोन्स को नियंत्रित करने में मदद करता है। 

Recommended Video

ग्रीन टी 

ज्यादातर लोग इस तथ्य से अवगत हैं कि ग्रीन टी कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करती है। इसके साथ ही यह शरीर में मेटाबॉलिज्म को भी बूस्ट करता है। ग्रीन टी में थीनिन होता है, जो एक यौगिक है जो कोर्टिसोल हार्मोन को कम करता है जो एक तनाव हार्मोन है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट भी होते हैं जो शरीर की सूजन को कम करते हैं और बीमारी के जोखिम को भी कम करते हैं।

अंडे

eggs harmones control

अंडे में कोलीन की एक स्वस्थ खुराक होती है, एक विटामिन जो हमें न्यूरोट्रांसमीटर एसिटाइलकोलाइन का उत्पादन करने में मदद करता है, जो तंत्रिका तंत्र, मस्तिष्क स्वास्थ्य, स्मृति और विकास के कामकाज के लिए आवश्यक है। अंडे ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर होते हैं, एंटी-इंफ्लेमेटरी वसा जो मस्तिष्क को सहायता प्रदान करते हैं। जब मन और तंत्रिका तंत्र स्वस्थ होता है, तो व्यक्ति तनाव का बेहतर ढंग से सामना कर पाता है। 

यदि आप यहां बताए खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल करते हैं तो यह आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के साथ हार्मोन्स के संतुलन में मदद करते हैं।  है, तो इन खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल करने से आपको अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद मिल सकती है!

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik and wallpapercave.com