अपनी शादी के लिए हर दुल्हन वजन कम करने की इच्छा रखती है। जब से उनका रिश्ता तय होता है, तभी से वे अपनी ड्रेसेस में फिट होने के लिए मेहनत करना शुरू कर देती हैं। दुल्हन ही नहीं, बल्कि उनकी बहनें और दोस्त-रिश्तेदार भी तैयारियां शुरू कर देती हैं। कुछ महिलाएं क्रैश डाइट, जिम प्रोग्राम को फॉलो करने लगती हैं, तो कुछ वजन घटाने के लिए फैट बर्नर्स पर निर्भर रहती हैं। मगर, बाजारों में सप्लीमेंट खोजने की बजाय सबसे पहले अपने किचन में झांककर देखें। इस बात की 100 प्रतिशत गारंटी है कि सिंथेटिक वजन घटाने वाले ड्रग्स की तुलना में आपकी रसोई में मिलने वाली सामग्री का कोई भी दुष्प्रभाव नहीं होगा।

एक्सपर्ट स्वाति बथवाल दुल्हनों को ऐसे ही कुछ आसान घरेलू उपाय बताने जा रही हैं, जिनके सेवन से वे आसानी से वजन कम कर सकेंगी। इन्हें आजमाते वक्त बस इस बात का ध्यान रखें कि आप इनका अत्यधिक सेवन न करें। 

सोंठ/ सूखी अदरक का पाउडर

dried ginger powder drink for weight loss

सूखे अदरक का पाउडर का उपयोग सदियों से भारतीय संस्कृति में स्वाद बढ़ाने वाली सामग्री के साथ-साथ हीलिंग प्रॉपर्टीज के रूप में भी किया जाता रहा है। इस जड़ी बूटी का उपयोग जापानियों द्वारा भी सदियों से किया जा रहा है। अब आप पूछेंगी कि अगर सूखे अदरक का पाउडर मेटाबॉलिक रेट को बढ़ा सकता है और स्टबर्न फैट को बर्न कर सकता है, तो हम कच्चे अदरक का इस्तेमाल क्यों नहीं कर सकते? दरअसल, अदरक के सूखने की प्रक्रिया में जिंजरोल नामक कंपाउंड शोगोल (shogoals) में परिवर्तित हो जाता है, जो ब्राउन फैट को सक्रिय कर देता है और वह फैट बर्न करने में मदद करता है। सिर्फ 1/2 चम्मच अदरक के पाउडर का सेवन करने से आपके फैट के बर्न होने की क्षमता बढ़ सकती है। आप सिर्फ आधा चम्मच सूखे अदरक के पाउडर को अपने खाने में लें या फिर इसे सुबह पानी के साथ पिएं। इससे शरीर की चर्बी बर्न होने में मदद मिलेगी।

expert swati bathwal quote

टी/ग्रीन टी

green tea for weight loss

सिर्फ चाय पीने के एक घंटे के अंदर ही हमारा फैट बर्न होने में मदद मिल सकती है। अगर हम 30 मिनट की सैर से पहले, 24 घंटों के अंदर 4 कप चाय पीते हैं, तो हम अपनी वॉक के दौरान अतिरिक्त एक ग्राम वसा को बर्न कर सकते हैं। यह ग्रीन और ब्लैक टी पीने से संभव हो सकता है। एक कंपाउंड जिसे catechins 1.e EGCG कहते हैं, मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है। लेकिन दूध की चाय पीने वालों के लिए, यह तभी काम करेगा, जब आप अपनी चाय में दूध नहीं मिलाएं, इसलिए आपको दूध छोड़ना पड़ेगा। दरअसल, दूध catechins के अवशोषण में हस्तक्षेप करता है। अगर अपनी दूध वाली चाय को ग्रीन. व्हाइट, और ऊलोंग टी से बदलें, तो आप अपना मेटाबॉलिज्म बढ़ा सकते हैं और हमारा शरीर इस वजह से फैट बर्न कर सकता है। एक और दिलचस्प साक्ष्य जो सामने आया है, वो यह कि ग्रीन टी सप्लीमेंट शरीर में ऐसे किसी तरह का फैट बर्निंग इफेक्ट्स नहीं दर्शाते, जो वास्तव में ग्रीन टी पीने से दिखते हैं। दूध वाली चाय की जगह आपको लगभग 3-4 कप चाय, ग्रीन टी, व्हाइट या ब्लैक टी  का सेवन करना चाहिए।

पानी

water for weight loss

क्या आप जानती हैं कि हमारा शरीर सिर्फ पानी पीने से फैट बर्न कर सकता है? 'द जर्नल ऑफ क्लिनिकल एंडोक्रिनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्म' द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया है कि दो कप पानी पीने से पुरुषों और महिलाओं के मेटाबॉलिज्म रेट में 30 प्रतिशत की वृद्धि हुई। पानी पीने के 10 मिनट से शुरू होकर या एक घंटे के अंदर पीक पर पहुंचता है। पानी का एक बड़ा गिलास पीने से हमारा शरीर 24 कैलोरी बर्न कर सकता है। कुछ अध्ययनों में मेटाबॉलिक रेट में 5-10 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है। इसलिए, हाइड्रेटेड रहें और हर घंटे दो गिलास पानी पीने का लक्ष्य रखें।

इसे भी पढ़ें :अपनी शादी पर पाएं बेदाग त्वचा, एक्सपर्ट के बताए ये टिप्स करें फॉलो

लाल मिर्च

red chilli pepper for weight loss

लाल या हरी मिर्च में कैप्साइसिन नामक कंपाउंड होता है, जो शरीर में फैट बर्न करने का काम करता है। अब आपको अपना मेटाबॉलिक रेट बढ़ाने के लिए हर मील में लाल मिर्च डालने की जरूरत नहीं है। बस दो ग्राम लाल मिर्च पाउडर हमारे मेटाबॉलिक रेट को बढ़ा सकता है। इस तरह से मेटाबॉलिक रेट बढ़ाने और शरीर से वसा जलाने की प्रक्रिया को थर्मोजेनेसिस कहा जाता है। अगर हम अपने भोजन में लाल मिर्च पाउडर डालते हैं, तो हम उन भोजन से पाई गई कैलोरी को आसानी से बर्न कर सकते हैं। कुल मिलाकर,  हमारा मेटाबॉलिक रेट 10 प्रतिशत बढ़ जाता है। अपने भोजन में ज्यादा मिर्च यह सोचकर न डालें कि आप इससे ज्यादा कैलोरी बर्न करेंगी। ध्यान रखें कि किसी भी चीज की अधिकता के दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ें :अगर नहीं खाते हैं अंडा तो प्रोटीन के लिए ऐसे इस्तेमाल करें मावा लड्डू

ब्लैक कॉफी

black coffee for weight loss

ब्लैक कॉफी पीने से मेटाबॉलिक रेट बढ़ जाता है। औसतन, प्रत्येक कप कॉफी अगले एक घंटे के लिए मेटाबॉलिक रेट को 10 प्रतिशत तक बढ़ा देती है। प्रत्येक कप ब्लैक कॉफी पीने से हम 15 कैलोरी बर्न कर सकते हैं। इसके बावजूद, एक दिन में पांच कप से ज्यादा कॉफी पीने की सलाह नहीं दी जाती है। पांच कप से ज्यादा ब्लैक कॉफी पीने से अवसाद और चिंता की समस्या हो सकती है और डिहाइड्रेशन का खतरा बढ़ सकता है। ध्यान रखें कि हर दो कप कॉफी में, डिहाइड्रेशन के खतरे को रोकने के लिए दो गिलास अतिरिक्त पानी डालें। कॉफी में क्रीमर, दूध, चीनी आदि मिलाने से मेटाबॉलिक रेट में कोई वृद्धि नहीं होती है और न ही वजन कम होता है।

Recommended Video

यह उपाय एविडेंट आधारित शोध पर हैं, हालांकि ऐसी कोई मैजिक पिल नहीं है जो बिना व्यायाम के आपके शरीर से वसा को हटा सके। अगर आप एक्सरसाइज नहीं करती हैं, तो घर में चल-फिर कर या घर के काम करके और लगातार दिनभर चलकर, अपना मेटाबॉलिज्म रेट बढ़ाएं। ध्यान रखें, पूरे दिनभर बिस्तर में न पड़े रहें। चलती-फिरती रहें और रात को अच्छी नींद पाने के लिए ही बिस्तर पर जाएं। 

आप एक्सपर्ट द्वारा बताए गए इन नुस्खों को जरूर आजमाकर देखें। अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी के साथ।

 

Image Credit : freepik.com