कई शहरों में मानसून आ गया है, हालांकि कुछ शहरों में अभी इंतजार करना होगा। मानसून आते ही आपके शरीर पर कई तरह की बीमारियों का हमला होता है, इस दौरान बच्चों का ख्याल अधिक रखना पड़ता है। ये मौसम बच्चों को अधिक पसंद होता है, लेकिन उनके बीमार होने की आशंका भी अधिक बढ़ जाती है। वहीं कोरोना काल में अधिक सजग होने की आवश्यकता है ताकि मौसमी बीमारियों से उन्हें बचाया जा सके।

ज्यादातर बीमारी बेहतर खानपान से ठीक की जा सकती हैं। न्यूट्रिशियन से भरपूर डाइट से आप बारिश के मौसम में होने वाले संक्रमण और फ्लू से बच्चों को बचा सकती हैं। बारिश के मौसम में होने वाली बीमारियां बच्चों को अति संवेदनशील बनाती हैं। इस मौसम में सर्दी-फ्लू, गले में संक्रमण और पेट की समस्या जैसी कई परेशानियां बच्चों में शुरू हो जाती हैं। वहीं बारिश के मौसम में होने वाली परेशानियों से बचने के लिए बच्चों की डाइट में इन पांच चीजों को शामिल करें। प्रोटीन और न्यूट्रिशियन से भरपूर ये फूड उन्हें ना सिर्फ संक्रमण से बचाएगा बल्कि वो जल्दी बीमार भी नहीं पड़ेंगे।

हल्दी वाला दूध

milk protine

बच्चों को रात में सोने से पहले हल्दी वाले दूध का सेवन कराएं। आप चाहें तो उसमें एक चुटकी काली मिर्च पाउडर को भी शामिल कर सकती हैं। हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट के गुण होते हैं जो ना सिर्फ इम्यूनिटी को बूस्ट करने का काम करते हैं बल्कि अन्य तरीके के संक्रमण से भी दूर रखने में मददगार है। वहीं रोजाना एक ग्लास दूध बच्चों के मानसिक और शारीरिक विकास के लिए भी महत्वपूर्ण माना जाता है। बीमारियों से दूर रखने और सेहतमंद रहने के लिए रोजाना उन्हें एक ग्लास दूध जरूर पिलाएं।

ड्राई फ्रूट्स एंड नट्स

dry fruits and nuts

बच्चे हरी सब्जियां खाने या फिर दूध जैसी चीजों को पीने में आनाकानी करते हैं, लेकिन जब उन्हें ड्राई फ्रूट्स या फिर नट्स खाने को दिये जाते हैं, तो वो उन्हें आसानी से खा लेते हैं। इन ड्राई फ्रूट्स, नट्स और सीड्स को आप किसी भी फॉर्म में उन्हें दे सकते हैं। आप चाहें तो दूध में मिक्स करके या फिर स्नैक्स के रूप में भी उन्हें खाने को दे सकती हैं। विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर ये नट्स और ड्राई फ्रूट्स उन्हें बीमारियों से बचाने में मदद करेंगे।

इसे भी पढ़ें:इलायची के साथ दूध मिक्स करके पीने के हैं कई फायदे, आप भी जानें

मौसमी फल और सब्जियां

fruits and green veggies

मौसमी फल और सब्जियों विटामिन और मिनरल्स से भरपूर होती हैं, जो आपके शरीर को बैक्टीरिया और इंफेक्शन से लड़ने में मदद करती हैं। जामुन, अमरूद, चेरी जैसे फल विटामिन सी से भरपूर होते हैं जो बच्चों की इम्यूनिटी को स्ट्रांग बनाते हैं। इसके अलावा टमाटर, ब्रोकली, ग्वार फली, और लौकी जैसी हरी सब्जियों को बच्चों की डाइट में शामिल करें। इसमें पाए जाने वाले फाइबर, विटामिन, और प्रोटीन जैसे गुण उन्हें एक नहीं बल्कि कई तरह की बीमारियों से बचाये रखते हैं।

Recommended Video

मशरूम

mushroom

सर्दियों में ही नहीं बल्कि बारिश के मौसम में भी सूप का आनंद उठाया जा सकता है। अगर बच्चे सब्जी या फिर अन्य तरीके से मशरूम का सेवन नहीं कर रहे हैं तो आप उन्हें मशरूम का सूप पिला सकती हैं। यह विटामिन डी और एंटीऑक्सीडेंट की प्रमुख स्त्रोत मानी जाती है जो ना सिर्फ इम्यूनिटी को स्ट्रांग रखती है बल्कि शारीरिक विकास में भी सहायक होती है। बच्चों की डाइट में शामिल करने के लिए आप सूप के अलावा सैंडविच, या फिर चीला जैसी चीजों में मिक्स कर सर्व कर सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: मुंहासों और स्‍कार्स को कम करने के लिए दुल्हन खाएं ये फूड्स

दाल

daaal

बारिश के मौसम में बच्चों को सेहतमंद रखने के लिए उनकी डाइट में एक और चीज होनी चाहिए, जो बेहद महत्वपूर्ण है। वो है प्रोटीन, जो ना सिर्फ उनकी इम्यूनिटी को स्ट्रांग करने के लिए जरूरी है बल्कि शारीरिक और मानसिक विकास के लिए भी बहुत आवश्यक है। बारिश के मौसम में बच्चों को डायजेशन की भी समस्या अधिक होती है, इसलिए फाइबर रिच फूड खिलाएं। इसके लिए उनकी डाइट में दाल को जरूर शामिल करें, आप चाहें तो इससे पतली खिचड़ी या फिर ऑयल फ्री स्नैक्स के रूप में सर्व कर सकती हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें। इसी तरह के अन्य रोचक लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।