क्‍या शादियों के सीजन ने आपके पेट की बैंड बजा दी है और इससे बचने का कोई उपाय समझ नहीं आ रहा है? तो परेशान न हो बल्कि इस आर्टिकल में बताए 3 जबरदस्‍त फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करें। इन फूड्स की जानकारी सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने अपने फैन्‍स के साथ इंस्‍टाग्राम के माध्‍यम से शेयर की है।  

भारत में शादियों का सीजन जैसे-जैसे खत्म होता जा रहा है, वैसे-वैसे त्योहारों की खुशी और बढ़ जाती है और यह काफी उत्साह लेकर आता है। विशेष रूप से पिछले साल के कोविड लॉकडाउन के बाद, इस साल शादी का मौसम और भी खास लगता है क्योंकि लोग साल के अंत में होने वाली बड़ी शादियों में शामिल होने का इंतजार कर रहे हैं।

शादियों का सीजन भला कौन पसंद नहीं करता है? लेकिन किसी को यह नहीं भूलना चाहिए कि इस समय के दौरान खाने-पीने की चीजें डाइजेशन को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकती हैं। कई शादियों में शामिल होने से लोगों के रूटीन में बदलाव भी आता है - अधिक देर रात जागना, नींद न आना, वर्कआउट न करना और कैलोरी से भरपूर भोजन पर ध्यान देना। इस दौरान अपनी इम्यूनिटी अच्‍छी और अपने पाचन स्वास्थ्य को सुचारू रखना महत्वपूर्ण है।

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Rujuta Diwekar (@rujuta.diwekar)

जी हां, शादियों का सीजन चल रहा है और हममें से ज्‍यादातर लोगों की शादी-ब्‍याह में जमकर खाने की आदत होती हैं। कुछ लोग तो ऐसा भी करते हैं कि पूरा दिन कुछ नहीं खाते हैं लेकिन शाम को शादी में पूरे दिन की कसर पूरी कर लेते हैं। उनको लगता है कि पूरा दिन नहीं खाया तो ज्‍यादा खाने से हमारी बॉडी पर कोई बुरा असर नहीं पड़ेगा।

लेकिन शायद वह यह नहीं जानते कि इससे हमारी सेहत पर बुरा असर पड़ता है। शादी में खाई जाने वाले चाट-पकौड़ी, मिठाईयों और फास्‍ट फूड जैसे अनहेल्‍दी चीजों से हमारा डाइजेशन स्‍लो और पेट में गड़बड़ हो सकती है। शादी के मौसम में डाइजेशन को हेल्‍दी रखने वाले टॉप 3 फूड्स के बारे में जानें।

इसे जरूर पढ़ें:डाइजेशन बेहतर बनाने के साथ पेट की प्रॉब्लम्स दूर करते हैं ये 5 सुपरफूड्स

गुड़, घी और सोंठ से बने मेथी के लड्डू

methi ladoo

गुड़, घी और सोंठ से बने मेथी के लड्डू पेट में ऐंठन और कब्ज को रोकते हैं, आंतों के म्यूकस को बढ़ावा देते हैं और यहां तक कि बालों को शाइनी बनाए रखने में भी मदद मिलती है जो पेट में गड़बड़ी के कारण फ्रिजी दिख सकते हैं।

ऐसे लें   

इसे या तो नाश्ते में या शाम 4-6 बजे के भोजन के रूप में लें। यदि शादियों के सीजन के दौरान आप भरपूर नींद नहीं ले पा रही हैं या आप एक्‍सरसाइज भी नहीं कर रही हैं, तो यह ब्‍लड शुगर के नियमन में भी मदद करता है।

छाछ का गिलास

buttermilk glass

दोपहर के भोजन के ठीक बाद हींग और काले नमक के साथ छाछ का गिलास लें। छाछ प्रोबायोटिक्स और विटामिन बी-12 दोनों का एक अच्छा स्रोत है। साथ ही हींग और काला नमक का कॉम्बिनेशन सूजन, गैस को कम करने और यहां तक कि आईबीएस को रोकने में मदद करता है। रोजाना छाछ पीने से पेट से जुड़ी समस्‍याओं को काफी हद तक कम किया जा सकता है। 

ध्‍यान रखें 

खासकर यदि आप शाम के फंक्‍शन में जाने के लिए बहुत ज्‍यादा खाने से बचना चा‍हती हैं।

सोते समय 1 चम्मच च्यवनप्राश

chyawanprash

इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूत, फ्लेवोनोइड्स और एंटीऑक्सीडेंट का सबसे अच्‍छा स्रोत च्यवनप्राश लेने सेशादी के सीजन के दौरान त्वचा कोमल और मुलायम बनी रहती है। च्यवनप्राश खाने से डाइजेशन मजबूूत होता है और इससे जुड़ी समस्‍याएं काफी हद तक कम हो जाती है। साथ ही बदलते मौसम के साथ होने वाली सर्दी-जुकाम की समस्‍या को भी कम किया जा सकता है।    

इसे जरूर पढ़ें: पाचन को रखना है दुरुस्त, तो डाइट में शामिल करें ये 5 ड्रिंक्स

ध्‍यान रखें 

अगर देर रात की शादियां लगातार है और खासकर यदि आप डेस्टिनेशन वेडिंग में हैं।

आप भी इन 3 चीजों को अपनी डाइट में शामिल करके शादियों के सीजन में डाइजेशन को दुरुस्‍त रख सकती हैं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Article Credit: Instagram.com (Rujuta Diwekar) 
Image Credit: Freepik & Shutterstock.com