आम के दीवाने, जिन्हें आम देखते ही हो जाता है कुछ-कुछ

By Inna Khosla25 Jul 2018, 19:26 IST

आम का सीज़न आते ही आम खाने वाले लोगों के चेहरे पर मुस्कान छा जाती है। फिर दिन हो या रात हो उन्हें सिर्फ आम ही आम नज़र आता है। आम को फलों का राजा कहा जाता है और ये यूं ही नहीं कहा जाता इसका स्वाद ऐसा है कि जो सीज़न में खाने के बाद सालभर याद आता रहता है। हालांकि लोगों को गर्मी का मौसम पसंद नहीं है। लेकिन इस चिलचिलाती हुई गर्मी में भले ही कितनी ही चिपचिप परेशानियां हो रही हों लेकिन आम देखते ही सब भूल जाते हैं। 

आम के दीवानों के लिए ये मौसम किसी त्योहार से कम नहीं होता। आप इस वीडियो में ऐसे ही क्रेज़ी मैंगो लवर्स को देख सकती हैं। आम खाने की शौकीन इन लड़कियों को देखकर आपका मन भी आम खाने के लिए करने लगेगा। 

वैसे इस वीडियो में कई तरह की आम खाने वाली लड़कियों की क्रेज़ीनेस को दिखाया गया है- 

प्यार से आम खाने वाली लड़कियां- जो लड़कियां आम से प्यार करती हैं वो पहले उसे फील करती हैं फिर उसे स्मेल करती हैं फिर स्माइल करती हैं और फिर चम्मच से आम का स्लाइस अपने मुंह में डालकर मज़े से उसे खाती हैं। आम के लिए उनका प्यार देखते ही आपको भी आम से मोहब्बत हो जाएगी। 

Read more: घर पर बनाकर पिएं आम की ठंडी-ठंडी और टेस्टी लस्सी

पागलों की तरह आम खाने वाली लड़कियां- कुछ लड़कियां आम को सामने देखते ही इतनी क्रेज़ी हो जाती हैं जो सब भूल जाती हैं फिर चाहे आम खाते समय वो कहीं पर भी गिरे उनके कपड़े खराब हों या उनके हाथ और मुंह बस वो किसी तरह से आम खा लें उनका पूरा फोकस इसी बात पर होता है।

Read more: आम से जुड़े ये 10 फैक्‍ट्स जानकर आप भी बन जाएंगी मैंगो लवर

आम की जानकार- कई लड़कियां ऐसी होती हैं जिन्हें आम के बारे में अच्छी खासी जानकारी होती है। जैसे किस मौसम में कौन सा आम बाज़ार में मिलेगा उन्हें ये सब पता होता है। मॉर्डन ज़माने में आम किसी भी सीज़न में मिल जाता है लेकिन आम खाने का असली मज़ा गर्मी और बारिश के मौसम में ही है। 

इसी तरह से कई लड़कियां ऐसी भी होती हैं जिन्हें खाने-पीने की हर चीज़ में आम ही आम नज़र आता है तो कुछ लड़कियां ऐसी भी होती हैं जो आम ना सिर्फ काटकर खाती हैं बल्कि वो उसे चूसकर या फिर चम्मच से भी खाना पसंद करती हैं।

आप भी इस वीडियो को देखें और बताएं कि आप किस तरह की मैंगो लवर हैं।  

 

Credit

Producer: Rekha Yadav

Video Editor: Atul Tripathi