आजकल उत्तर भारत में प्रदूषण चर्चा का विषय है। यहां पर शहरों की हवा इतनी जहरीली हो गई है, कि लोगों को सांस से जुड़ी समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। रोज सरकारें किसी तरह प्रदूषण कम करने के उपाए सोच रहीं, इसके बावजूद भी प्रदूषण से लोगों को कोई राहत नजर नहीं आ रही है। आमतौर पर 50 एक्यूआई से कम हवा को गुड क्वालिटी का माना जाता है, वहीं 50 से 100 तक की हवा को मॉड्रेट और 100 एक्यूआई से ऊपर की हवा को खतरनाक माना जाता है।

 जहां इस वक्त देश की राजधानी और उसके आस पास के इलाकों में इतना प्रदूषण फैला हुआ है, वहीं देश में कई स्थान ऐसे हैं जहां की एयर क्वालिटी इस वक्त बहुत अच्छी है।

आज के आर्टिकल में हम आपको उन शहरों के बारे में बताएंगे जहां की एयर क्वालिटी अन्य शहरों के मुकाबले बहुत बेहतर है। इन शहरों में प्रदूषण ना के बराबर रहा है। इतना ही नहीं जहां दिल्ली की एयर क्वालिटी इस वक्त 350 से 500 एक्यूआई के बीच में है, वहीं कई शहर ऐसे भी हैं जिनकी एयर क्वालिटी 10 से 20 के बराबर है। आइए जानते हैं इन शहरों के बारे में कि आखिर कौन से हैं ये शहर जहां सबसे कम है वायू प्रदूषण।

कोयंबटूर, तमिलनाडु-

least pollution

कोयंबटूर भारत के दक्षिण में तमिलनाडु  में स्थित राज्य है। जहां दिल्ली की एयर क्वालिटी इस समय खतरे के निशान से ऊपर है, वहीं कोयंबटूर सबसे कम वायु प्रदूषित शहरों में एक रहा है। इस वक्त कोयंबटूर शहर की एयर क्वालिटी करीब 18 एक्यूआई है, जो की उत्तर भारत की जहरीली हवा के मुकाबले बहुत कम है। इस कारण वहां के लोग इस वक्त अच्छी हवा ले पा रहे हैं।

आइजोल,मिजोरम-

city having no pollution

भारत के नॉर्थ ईस्ट में स्थित आइजोल मिजोरम राज्य की राजधानी है। इस वक्त आइजोल शहर की हवा सबसे कम प्रदूषित शहरों में गिनी जा रही है। कम जनसंख्या, पहाड़ और कम पेड़ पौधे होने के कारण यहां का वातावरण भारत के सबसे बेहतर वातावरण में से एक है। इस वक्त आइजोल की एयर क्वालिटी करीब 13 एक्यूआई के आसपास है, जिस कारण यहां पर आपको ताजी हवा मिलेगी।

अमरावती, आंध्र प्रदेश-

ceanest cities

जहां भारत की राजधानी की हवा दुनिया की सबसे जहरीली हवाओं में गिनी जा रही है, वहीं आंध्र प्रदेश की राजधानी अमरावती की हवा इस वक्त बहुत साफ है। इस वक्त अमरावती शहर की एयर क्वालिटी करीब 23 एक्यूआई के आसपास है, जो खतरे के निशान से काफी कम है।

इसे भी पढ़ें- नागपुर में हैं तो इन बेहतरीन जगहों पर जरूर घूमें

मैसूर, कर्नाटक-

no pollution

कर्नाटक राज्य में स्थित मैसूर भारत के पुराने शहरों में से एक है। इसके बावजूद भी इस शहर में बहुत कम वायु प्रदूषण देखने को मिलता है। मैसूर शहर की एयर क्वालिटी इस वक्त करीब 40 एक्यूआई के करीब है, जो किसी बड़े शहर के मुकाबले बहुत कम है। नाप के हिसाब से 100 एक्यूआई से ऊपर की हवा को खतरनाक की श्रेणी में गिना जाता है, वहीं मैसूर शहर की हवा गुड क्वालिटी में गिनी जाती है।

इसे भी पढ़ें- समय के साथ भुला दिए गए भारत के ये ऐतिहासिक स्थान, जानें आज कैसे हैं इन जगहों के हालात

तिरुवनंतपुरम, केरल-

best air qulity

भारत के सबसे दक्षिण में बसा शहर और केरल राज्य की राजधानी तिरुवनंतपुरम इस समय सबसे कम प्रदूषित राजधानियों में से एक है। यहां की एयर क्वालिटी इस वक्त 38 एक्यूआई के आसपास है, जो की एक बड़ी राजधानी के मुकाबले काफी कम है।

Recommended Video

विशाखापट्नम, आंध्रप्रदेश-

most cleanest city

आंध्रप्रदेश राज्य के विशाखापट्नम की हवा भी इस वक्त भारत की सबसे साफ हवाओं में से एक है। यहां की एयर क्वालिटी इस वक्त 26 एक्यूआई के आसपास है, जो कि कई प्रदूषित राज्यों से बहुत कम है। आपको बता दें कि उत्तर भारत में जहां प्रदूषण है तो वहीं ज्यातर सबसे कम प्रदूषित शहर दक्षिण में स्थित हैं।

यही कारण है कि लोग प्रदूषण के दौरान इन जगहों पर जाकर कुछ बेहतर महसूस कर सकते हैं। इसके अलावा भारत के कई अन्य शहर भी हैं जो इस लिस्ट में शामिल हैं। आपको हमारा यह आर्टिकल अगर पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें साथ ही ऐसी जानकारियों के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी के साथ।

image credit- fabhotel.com, traveltriangle.com, holidayfy.com, nativeplanet.com, karnatakatourism.com, thehansidia.com