चलिए जानते हैं मुर्शिदाबाद की 10 सबसे प्रसिद्ध ऐतिहासिक जगहों के बारे में

मुर्शिदाबाद की 10 सबसे प्रसिद्ध ऐतिहासिक जगहों के बारे में जानकर आप भी यहां घूमने का प्लान बना सकते हैं। आइए इन जगहों के बारे में जानते हैं।
know historical places of murshidabad

प्राचीन काल से लेकर मध्यकाल के दौरान भारत के अलग-अलग राज्यों में ऐसे कई फोर्ट्स, भवन, पैलेस आदि के निर्माण हुए, जो आज सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि विश्व भर में ऐतिहासिक महत्व रखते हैं। भारत की प्रथम राजधानी यानि पश्चिम बंगाल में एक से एक प्रमुख और प्रसिद्ध ऐतिहासिक जगहें हैं। पश्चिम बंगाल में भागीरथी नदी के किनारे मौजूद मुर्शिदाबाद में भी ऐसी कई ऐतिहासिक जगहें हैं, जो आज विश्व भर में प्रसिद्ध हैं। इन ऐतिहासिक जगहों पर हर साल लाखों सैलानी भी घूमने के लिए पहुंचते हैं। आज इस लेख में हम आपको मुर्शिदाबाद की 10 ऐतिहासिक जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं। इन जगहों के बारे में जानने के बाद आप भी यहां घूमने जाना पसंद कर सकते हैं, तो आइए जानते हैं।

1निज़ामत इमामबारा

historical places of murshidabad nizamat imambara inside

मुर्शिदाबाद के साथ-साथ समूचे पश्चिम बंगाल के लिए निज़ामत इमामबारा एक प्रमुख पर्यटन केद्र है। इस ऐतिहासिक इमामबारा का निर्माण लगभग 1847 में किया गया था। वैसे तो भारत में कई इमामबारा है लेकिन, इसे भारत का सबसे बड़ा इमामबारा माना जाता है। यहां देशी और विदेशी पर्यटक भारी संख्या में घूमने के लिए पहुंचते हैं। मुस्लिम लोगों के लिए यह एक पवित्र स्थल भी है। 

 

2कथ्गोला

historical places of murshidabad inside

मुख्य शहर से कुछ ही दूरी पर मौजूद कथ्गोला एक मध्यकालीन और प्रसिद्ध महल है। कहा जाता है कि व्यापार यात्राओं के दौरान यूरोपीय और मुस्लिम मेहमानों का मनोरंजन करने के लिए इस महल का निर्माण किया गया था। यह महल एक खूबसूरत बगीचा, तालाब और मंदिर से घिरा हुआ है। मुर्शिदाबाद में घूमने और ऐतिहासिक दृश्य से यह बेहद ही खास माना जाता है।

 

3जहान कोष कैनन

historical places of murshidabad jahan kosh inside

अगर आप इतिहास प्रेमी हैं, तो यह जगह आपको बेहद पसंद आने वाली है। लगभग 7 टन से अधिक वजन की ये तोप ऐतिहासिक दृष्टि से बेहद भी महत्वपूर्ण मानी जाती है। मध्यकाल में दुश्मनों से लड़ाई के दौरान इस तोप का निर्माण किया गया था। आज ये जगह मुर्शिदाबाद में प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में भी प्रसिद्ध है। आपको बता दें कि जहान कोष कैनन का अर्थ दुनिया को नष्ट करने वाला यंत्र माना जाता है।

 

4हज़ार्डियरी पैलेस

historical places of murshidabad hazardiary inside

लगभग 41 एकड़ से भी अधिक क्षेत्र के बीच में मौजूद हज़ार्डियरी पैलेस पश्चिम बंगाल के साथ-साथ भारत के लिए एक प्रमुख ऐतिहासिक जगह है। भागीरथी नदी के तट पर मौजूद होने के चलते यहां हर साल हजारों लाखों सैलानी भी घूमने के लिए पहुंचते है। अगर आप इतिहास प्रेमी हैं, तो आप भी यहां ज़रूर घूमना पसंद कर सकते हैं। आपको बता दें कि अब इसे संग्रहालय में बदल दिया गया है।

 

5कटरा मस्जिद

historical places of murshidabad katra masjid inside

आपको बता दें कि यह एक मस्जिद होने के साथ-साथ एक फोर्ट भी है। वर्तमान समय में यह जगह भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण और पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा संरक्षित है। इस जगह हरे भरे गार्डन भी मौजूद है, जो सैलानियों को सुन्दरता के साथ साथ शांत वातावरण प्रदान करती है। इसका निर्माण लगभग 1723 के आसपास किया गया था।

 

6मोती झील

historical places of murshidabad moti jhil inside

मुर्शिदाबाद के साथ-साथ पूरे पश्चिम बंगाल के लिए यह जगह बेहद ही महत्वपूर्ण मानी जाती है। कहा जाता है कि इस झील का निर्माण घोड़े की नाल के आकार में की गई है। मोती झील भारतीय और ब्रिटिश इतिहास को दर्शाती है। यह झील ब्रिटिश काल में कंपनी बाग के नाम से भी प्रसिद्ध थी। यहां अक्सर कपल्स घूमने के लिए पहुंचते हैं।

 

7फौती मस्जिद

historical places of murshidabad foti masjid inside

लगभग 1740 के आसपास निर्मित फौती मस्जिद को नवाब सरफराज खान ने बनवाया था। इस मस्जिद को लेकर एक मिथक है कि सिर्फ एक रात में ही इसका निर्माण कर दिया गया था। ये दिलचस्प कहानी सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि विदेशी पर्यटकों को भी आने पर मजबूर कर देती है।

 

8मदीना

historical places of murshidabad madina inside

हज़ार्डियरी पैलेस और इमामबारा के बीच में मौजूद मदीना एक छोटी मस्जिद है, जो पश्चिम बंगाल के सबसे पवित्र मुस्लिम स्थानों में से एक है। लगभग 18वीं शताब्दी में निर्मित  इस जगह हर शुक्रवार को हजारों मुस्लिम लोग दर्शन के लिए पहुंचते हैं। आपको बता दें कि इस मस्जिद में कई बार आग भी लग चुकी है।

 

9Khushbagh गार्डन

historical places of murshidabad khosh bhag inside

लगभग 8 एकड़ से भी अधिक क्षेत्र में मौजूद यह गार्डन सुंदर हरे-भरे पेड़ पौधे और फूलों का घर है। यह खुशियों का बगीचा के नाम से भी प्रसिद्ध है। इसे बंगाल के नवाबों का एक कब्रिस्तान भी कहा जाता है। अगर आपको घूमने के साथ फूलों से प्यार है, तो आपको यहां एक बार ज़रूर घूमने जाना चाहिए। कई मुस्लिम लोग नवाबों को श्रधांजली देने के लिए आते हैं।

 

10वासिफ मंजिल

historical places of murshidabad wasif mazil inside

वासिफ मंजिल मुर्शिदाबाद के प्रमुख ऐतिहासिक स्थल में से एक है। इसे नवाब वासिफ अली मिर्जा खान ने बनवाया था। हालांकि, कहा जाता है कि 1867 के भूकंप में महल के अधिकांश हिस्से नष्ट हो गई थी।

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।