उडुपी की गिनती अब कर्नाटक के सबसे तेजी से विकसित क्षेत्रों में होने लगी है। यह कई मायनों में ट्रेवलर्स को आकर्षित करता है। यहां पर खूबसूरत समुद्र तट से लेकर स्मारकीय इमारतों की अद्भुत वास्तुकला अनजाने ही इसे घूमने के लिए एक बेहतरीन स्थान बनाती है। यहां पर स्थित कई मंत्रमुग्ध स्थानों के साथ उडुपी सही मायने में दक्षिण की सोने की खान है। उडुपी में कई आकर्षण स्थल हैं जो इसे परिवार और दोस्तों के लिए एक हॉलिडे डेस्टिनेशन बनाते हैं। अगर आप भी इस बार साउथ में अपने समर हॉलिडे को प्लॉन कर रही हैं तो यकीनन उडुपी जाना आपके लिए एक अच्छा विचार है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको उडुपी में स्थित कुछ बेहतरीन जगहों के बारे में बता रहे हैं, जहां पर घूमकर आप अपने समर हॉलिडे को यादगार बना सकती हैं-

udupi sea

मालपे बीच

शहर से केवल 5.7 किमी दूर, मालपे बीच एक प्राकृतिक बंदरगाह और मछुआरों के मोगेवेरा लोक समुदाय के लिए घर है। यह उडुपी में सबसे लोकप्रिय स्थानों में से एक है। इस समुद्र तट को मलापू के नाम से भी जाना जाता है। यह अपनी साफ रेत और आश्चर्यजनक सूर्यास्त, थ्रिलिंग वाटर स्पोर्टस के लिए काफी प्रसिद्ध है। इसके अलावा आप यहां से सेंट मेरीज आईलैंड की यात्रा भी कर सकती हैं।

इसे जरूर पढ़ें: चेन्नई ट्रिप का उठाना है पूरा मजा, तो वहां पर जरूर करें यह चीजें

udupi temple

श्री कृष्ण मंदिर

उडुपी में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक 13 वीं शताब्दी का श्रीकृष्ण मंदिर है, जिसकी स्थापना संत जगद्गुरु श्री माधवाचार्य ने की थी। यह मंदिर थेकेपेट के मारुथि वीथिका में स्थित है। इस तीर्थस्थल पर एक पवित्र कुंड भी है जहां श्रद्धालु देवता के दर्शन से पहले डुबकी लगाते हैं। इसे श्री कृष्ण मठ के रूप में भी जाना जाता है। यह मंदिर अपने द्वैत दर्शन के लिए जाना जाता है और दासा साहित्य का एक महत्वपूर्ण केंद्र है।

इसे जरूर पढ़ें: राम सेतु से जुड़े इन छह फैक्ट्स के बारे में शायद नहीं जानतीं होंगी आप

udupi place

कौप बीच 

कौप बीच की सबसे खास बात यह है कि यह 1901 में निर्मित लाइटहाउस के सामने है, और अरब सागर के आश्चर्यजनक दृश्यों को देखने के लिए अक्सर पर्यटक सीढ़ियों से चढ़कर डेक तक जाते हैं। यह उडुपी में यात्रा करने के लिए सबसे शानदार स्थानों में से एक है। उडुपी से लगभग 16 किमी की दूरी पर स्थित, कौप बीच जैन मंदिरों के लिए प्रसिद्ध है, जो अब खंडहर हैं और दो हिंदू मंदिर जो देवी मरियम्मा को समर्पित हैं।

udupi tour

कर्कला 

जैन साम्राज्य के शासनकाल के दौरान इसे पांड्या नगरी कहा जाता है और इसका अपना एक आध्यात्मिक महव है। पश्चिमी घाट के निचले हिस्से में बसा, कर्कला पूरे साल हरियाली से ढका रहता है। कर्कला प्रमुख रूप से एक जैन केंद्र है और यहां पर गोमतेश्वर या भगवान बाहुबली की 41.5 फीट ऊंची प्रतिमा है। यहां पर हर 12 साल में, एक व्यापक समारोह का आयोजन किया जाता है, जिसे महामस्तकाभिषेक कहा जाता है, जहाँ हजारों जैन अनुयायी बाहुबली की मूर्तियों को केसर, दूध, चंदन, शहद, हल्दी और सिंदूर से स्नान कराते हैं। अपने आध्यात्मिक महत्व के अलावा, कर्कला में झीलों की भी काफी संख्या है, जहाँ से लोग गोधूलि को देख सकते हैं और शांति से कुछ समय बिता सकते हैं।

udupi visit

पजाका

श्रीकृष्ण मंदिर से लगभग 13 किमी की दूरी पर स्थित, पजाका उडुपी में स्थित एक और दर्शनीय स्थल है। इस छोटे से गाँव ने श्री कृष्ण मंदिर के संस्थापक श्री माधवाचार्य की जन्मभूमि होने के कारण काफी लोकप्रियता हासिल की है।

Recommended Video

यहां पर कुछ उल्लेखनीय संत के संरक्षित घर हैं, घर के करीब एक बरगद का पेड़ है जो उनके द्वारा लगाया गया था। यहां पर एक विद्यापीठ है जहाँ बच्चे संस्कृत और वेद सीखते हैं।

udupi travel

कॉर्पोरेशन बैंक हेरिटेज म्यूजियम 

मंदिरों के एक शहर में, कॉर्पोरेशन बैंक हेरिटेज म्यूजियम उन सभी चीजों के लिए समर्पित है जो फाइनेंशियल है। यह एक 125 साल पुरानी इमारत में स्थित है, जो मूल रूप से बैंक के संस्थापक का घर था, लेकिन बाद में इसे संग्रहालय में बदल दिया गया। यहां कुछ दिलचस्प प्रदर्शनों में विभिन्न समय अवधि और देशों से पुराने सिक्के और हाल के दिनों तक मुद्रा नोट शामिल हैं। यह उडुपी में घूमने की सबसे दिलचस्प जगहों में से एक है। कॉर्पोरेशन बैंक हेरिटेज म्यूजियम (जिसे सिक्का संग्रहालय भी कहा जाता है) भी दक्षिण कन्नड़ में बैंकिंग के इतिहास के बारे में जानकारी साझा करता है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।