जब बाहर घूमने की बात आती है तो हर महिला चाहती है कि वह ऐसी जगह पर जाए, जहां पर वह रिलैक्स करें और खुद को तरोताजा महसूस कर सके। इसके लिए कांगड़ा बेहतरीन जगह है। कांगड़ा हिमाचल प्रदेश का एक खूबसूरत शहर है। कांगड़ा को देवभूमि भी कहा गया है। यहां व्यास नदी के किनारे आसपास हरे भरे मैदानों को देखना अपने आप में अद्भुत अनुभूति है। कांगड़ा में धार्मिक और आध्यात्मिक महत्व के कई स्थल है। यहां पर आप मंदिर घूमने के साथ-साथ पहाड़ों की सैर भी कर सकती हैं। कांगड़ा घूमते हुए आपको इन पांच बेहतरीन जगहों पर जरूर जाना चाहिए। 

कांगड़ा फोर्ट

destinations in kangra kangra fort

कांगड़ा में स्थित यह किला इस शहर की एक महत्वपूर्ण ऐतिहासिक इमारत है। यह यहां हुए आक्रमण और राजाओं द्वारा जिए गए शाही जीवन का गवाह रहा है। इस किले का जिक्र Trigarta शासन के समय में भी मिलता है, जिसका वर्णन महाभारत में है। कांगड़ा फोर्ट हिमालय में स्थित सबसे बड़े किलो में से एक है। साथ ही यह भारत के सबसे प्राचीनतम किलों में भी गिना जाता है। एक समय में यह किला विलासिता का प्रतीक माना जाता था। कांगड़ा घूमते हुए आपको यहां आना कतई मिस नहीं करना चाहिए।

इसे जरूर पढ़ें: कुतुब मीनार से जुड़ी ये 8 दिलचस्प बातें आपको जरूर जाननी चाहिए

केरेरी लेक 

destinations in kangra kareri lake

अगर आपको झीले देखना एक्साइट करता है तो आपको धौलाधार पर्वत श्रंखला में स्थित केरेरी लेक देखने जरूर जाना चाहिए। यह कांगड़ा के सबसे खूबसूरत स्थलों में से एक है। इसे कुमारवाह लेक के नाम से भी जाना जाता है। यह धर्मशाला से 9 किलोमीटर दूर है। साथ ही यह एक पॉपुलर डेस्टिनेशन भी है। ट्रैकिंग के लिए भी यह काफी पॉपुलर है, क्योंकि यह समुद्र तल से 2934 मीटर ऊपर स्थित है। हालांकि यहां से त्रियुंड के लिए भी ट्रैकिंग भी की जा सकती है, लेकिन अगर आप फुर्सत के पल बिताना चाहती हैं तो आपको इस झील के किनारे बैठना बहुत अच्छा लगेगा।

इसे जरूर पढ़ें: भारत के ये डेस्टिनेशन्स भी हैं ताज महल की तरह बेहद खूबसूरत

इंद्रहार पास

destinations in kangra indhrarhar pass

अगर आपको पहाड़ों पर ट्रैकिंग करना और ऊंचे-नीचे रास्ते से होकर गुजरना अच्छा लगता है तो आप इंद्रहार पास के खूबसूरत नजारों को खूब एंजॉय करेंगे। इसकी ट्रैक की शुरुआत मैक्लोडगंज से होती है और यह लहेश और त्रियुंड की गुफाओं से होते हुए 14 किलोमीटर तक जाता है। इस ट्रैक पर आपको पीर पंजाल और दूसरी छोटी पहाड़ियां भी नजर आती हैं। यहां पर आप अप्रैल से लेकर अक्टूबर तक आसानी से घूम सकती हैं। कांगड़ा में घूमने के लिए यह सबसे सुंदर जगहों में से एक मानी जाती है। 

Recommended Video

चामुंडा देवी मंदिर

destinations in kangra chamunda

यह मंदिर पालमपुर से 10 किलोमीटर दूर स्थित है। यह जगह चामुंडा नंदीकेश्वर के नाम से भी जानी जाती है। यह मां दुर्गा से जुड़े सबसे ज्यादा पावन स्थलों में से एक माना जाता है। यहां पर मां दुर्गा के अलावा अन्य देवी-देवताओं के भी मंदिर हैं। यहां पर धौलाधार पर्वत श्रंखला के पहाड़ों का नजारा बेहद खूबसूरत दिखता है। 

पालमपुर

destinations in kangra palampur

पालमपुर कांगड़ा से महज 23 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां पर दूर-दूर तक चाय के बागान नजर आते हैं। अगर आप कांगड़ा घूमने आते हैं तो आप 1 दिन की ट्रिप में यहां के चाय के बागान भी घूमने आ सकती हैं। यहां की चाय अपनी बेस्ट क्वालिटी के लिए दुनिया भर में मशहूर है। अंग्रेज अक्सर यहां घूमने आया करते थे और इसके बाद यह जगह व्यापार का एक प्रमुख केंद्र बन गई।

Image Courtesy: blog.railyatri, wikimedia, traveltriangle, wikipedia