दिवाली करीब आ गई है और इस बार ये वीकएंड पर पड़ रही है। 14 नवंबर को दिवाली है और इस दौरान आपके बहुत से प्लान्स हो सकते हैं। वैसे तो दिवाली पर लोग अपने घरों में ही रहते हैं, लेकिन अगर आपको अपने परिवार के साथ कहीं बाहर जाकर दिवाली मनानी है तो वो ऑप्शन भी उपलब्ध है। दिल्ली, कानपुर, लखनऊ, मुंबई जैसे शहरों में दिवाली के समय प्रदूषण बहुत बढ़ जाता है और ऐसे में अगर आप कहीं बाहर जाने का प्लान कर रहे हैं तो कई जगहें आपका ऑप्शन बन सकती हैं। 

हो सकता है कि आप सोच रहे हों कि कोरोना के समय हम इस तरह से घूमने की बात क्यों कर रहे हैं और कई जगहों पर तो अभी भी रिस्ट्रिक्शन्स हैं तो उसका क्या होगा, लेकिन हम आपको जिन जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं वो जगहें सुरक्षित हैं और अब वहां टूरिस्ट्स का आना शुरू हो गया है। 

1. कच्छ-

कच्छ या रण ऑफ कच्छ 12 नवंबर से टूरिस्ट्स के लिए खुलने वाला है। दिवाली के दो दिन पहले से लेकर 28 फरवरी तक ये विजिटर्स के लिए खुला रहेगा। जहां तक सुरक्षा का सवाल है तो एक रिपोर्ट के मुताबिक कच्छ के ढोर्डो गांव में करीब 350 टेंट्स उपलब्ध हैं और सभी में डिसइन्फेक्टेंट और सफाई का प्रोसेस कोविड-19 की गाइडलाइन्स के हिसाब से ही किया जा रहा है। इसलिए कच्छ जाने का प्लान अच्छा साबित हो सकता है। 

सर्दियों में कच्छ की खूबसूरती बहुत ही अच्छी लगती है और ऐसे में दिवाली का समय हो तो क्या कहने। हालांकि, सभी विजिटर्स को यहां कोविड-19 प्रोटोकॉल फॉलो करना होगा। मास्क, हैंड सेनेटाइजर और हाइजीन का पूरा ध्यान रखना होगा। 

diwali kutch

इसे जरूर पढ़ें- भारत के इन खूबसूरत समुद्र तटों के आगे गोवा के समुद्र तट भी हैं फेल

2. मनाली-

जिस तरह कुल्लू-मनाली में दासारा (दशहरा का स्थानीय नाम) पर्व बहुत प्रसिद्ध है उस तरह यहां दिवाली भी बहुत खास होती है। वैसे मनाली शहर के पास सोलांग वैली में पटाखों आदि का कार्यक्रम रखा जाता है, लेकिन अगर आप वहां रुकेंगे तो शायद पैसे थोड़े ज्यादा देने पड़ें। उस इलाके के रिजॉर्ट्स थोड़े महंगे हैं इसलिए बेहतर होगा कि मनाली टाउन में रुककर आप वहां से 35-40 किलोमीटर का सफर कर सोलांग जाएं। 

मनाली टाउन में भी दिवाली की चमक बहुत अच्छी रहती है और जगह-जगह कैम्प पार्टीज भी ऑर्गेनाइज की जाती हैं। वैसे कोविड-19 के चलते वहां सभी होटलों में कुछ रिस्ट्रिक्शन्स हैं, लेकिन आप जाने से पहले अपने लिए सुरक्षित होटल बुक करवा सकते हैं और उन्हीं से दिवाली पार्टी और कैम्प पार्टी के बारे में पूछ सकते हैं। 

diwali manali

Recommended Video

3. वाराणसी-

वाराणसी या बनारस की गलियों में दिवाली मनाने की बात ही कुछ और होती है। वाराणसी की दिवाली को देव दिवाली कहा जाता है। गंगा मां की आरती के बाद लाखों दिए प्रवाहित किए जाते हैं और गलियों और घाटों को रौशनी से सजाया जाता है। पूजा-अर्चना के बाद पटाखों को भी जलाया जाता है। अगर आप दिवाली के दिन के बाद कुछ दिन और रुक जाएं तो आपको गंगा महोत्सव में रुकने का मौका भी मिल जाएगा। 

वाराणसी जाने से पहले आपको ये ध्यान रखना होगा कि यहां बहुत भीड़ हो जाती है और अगर आप कोविड-19 रिस्क कैटेगरी में आते हैं तो यहां जाने से बचें। साथ ही अगर आप यहां सस्ता होटल भी ले रहे हैं तो भी सेनेटाइजेशन आदि का ध्यान बहुत अच्छे से रखें।  

diwali varanasi

4. अमृतसर- 

अमृतसर में भी दिवाली को बहुत खास तरीके से मनाया जाता है। इसे 'बंदी छोड़ दिवस' के नाम से भी जाना जाता है। माना जाता है कि दिवाली के दिन ही छठवें सिख गुरू हरगोबिंद जी और उनके शिष्यों को जेल से मुक्ति मिली थी। अमृतसर में दिवाली के दिन जगह-जगह कीर्तन होते हैं और स्वर्ण मंदिर तो बहुत ही खूबसूरती से सजाया जाता है। यहां से सरसों के खेतों के बीच ठंडे मौसम में दिवाली मनाने का भी अलग ही रंग है।  

अमृतसर दिवाली के दिन दीप रौशनी में नहाया हुआ रहता है और यहां का माहौल देख आपको भी काफी खुशी मिलेगी। आपको यहां सभी सुविधाओं से युक्त होटल आदि मिल जाएंगे।  

golden temple diwali

इसे जरूर पढ़ें- Travel Trip: महाराष्ट्र में कहीं घूमने का प्लान कर रहे हैं, तो दिवेआगर घूमने जाएं 

5. जयपुर- 

जयपुर में भी दिवाली के रंग कुछ अलग ही देखने को मिलते हैं। धनतेरस से ही यहां कई सेलिब्रेशन शुरू हो जाते हैं। धनतेरस के बाद यहां के नाहरगढ़ फोर्ट में बहुत सी आतिशबाजियां देखने को मिलती हैं। बाज़ार तरह-तरह के लैम्प्स और डिजाइनर दियों से सजाए जाते हैं। यहां के आमेर फोर्ट और जल महल की खूबसूरती भी दिवाली के दिन बहुत ही अच्छी लगती है।  

diwali jaipur

वैसे तो दिवाली के मौके पर आप कई जगहों पर घूम सकते हैं, लेकिन ये 5 जगहें कुछ खास हैं। हालांकि, आपको ये ध्यान रखना होगा कि आप जहां भी जाएं अपनी सुरक्षा का ध्यान रखें। कोरोना से जुड़ी सभी गाइडलाइन्स का पालन करें। सुरक्षित रहना बहुत जरूरी है।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।